मीरजापुर में बोले अखिलेश यादव - सिलेंडर हो गया महंगा, गांव में कंंडों पर बनने लगा भोजन

मीरजापुर में अखिलेश यादव परमहंस आश्रम में स्वामी अड़गड़ानंद का आशीर्वाद लेने आए थे।

मीरजापुर में अखिलेश यादव परमहंस आश्रम में स्वामी अड़गड़ानंद का आशीर्वाद लेने आए थे। उन्होंने भाजपा सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि केवल सरकार बनाने के लिए भाजपा ने सिलेंडर दिया सरकार बन गई फिर सिलेंडर की कीमत बढ़ा दी।

Abhishek sharmaFri, 26 Feb 2021 05:57 PM (IST)

मीरजापुर, जेएनएन। देश में मंहगाई लगातार बढ़ती जा रही है। कोई कल्पना नहीं कर सकता था कि डीजल-पेट्रोल सौ रुपए लीटर हो जाएगा। क्या गरीब ये सोच सकता था कि उसे हजार रुपए का सिलेंडर लेना पड़ेगा। हमारे गरीब फिर से चूल्हा जलाने के लिए पेड़ों की डाली तोड़ने लगे हैं और कंडों पर खाना बनाने लगे हैं। यह बातें समाजवादी पार्टी के मुखिया और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शुक्रवार को चुनार के सक्तेशगढ़ स्थित अड़गड़ानंद आश्रम में पत्र प्रतिनधिनियों से अनौपचारिक वार्ता में कहीं।

अखिलेश यादव परमहंस आश्रम में स्वामी अड़गड़ानंद का आशीर्वाद लेने आए थे। उन्होंने भाजपा सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि केवल सरकार बनाने के लिए भाजपा ने सिलेंडर दिया, सरकार बन गई फिर सिलेंडर की कीमत बढ़ा दी। भारतीय जनता पार्टी की केंद्र और प्रदेश की सरकारों को आड़े हाथों लेते हुए सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता भारतीय जनता पार्टी को हटाना चाहती है। इस देश का गरीब हटाना चाहता है, किसान, नौजवान, व्यापारी हर वर्ग के लोग दुखी हुए हैं। पिछले जो भी बजट आए हैं। उन बजटों में न काम दिखाई दे रहा है, न नौकरी दिखाई दे रही है, न रोजगार दिखाए दे रहे हैं।  उन्होंने केंद्र सरकार से मांग की कि गरीबों को सिलेंडर बिल्कुल मुफ्त दिया जाए। देश की अर्थ व्यवस्था पर अपनी राय व्यक्त करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि सरकार बैंकों को बैंकों में डुबा रही है और बड़े बैंक बना रही है।


उत्साहित और भक्ति विभोर दिखे पूर्व मुख्यमंत्री

आश्रम में डेढ़ घंटे से अधिक प्रवास के बाद पूर्व मुख्यमंत्री भक्तिभाव से ओतप्रोत दिखे। उन्होंने कहा स्वामी अड़गड़ानंद महाराज जी का आशीर्वाद लेने आया हूं, ऐसा नहीं है कि पहली बार आया हूं। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वामी जी महाराज समाज और जनमानस दिशा देने के लिए लगातार यथार्थ गीता के बारे में जानकारी देने के साथ जाति धर्म से ऊपर उठकर मानव सेवा कर रहा ये आश्रम लोगों को समय समय पर लगातार जागरूक कर रहा है। स्वामी अड़गड़ानंद अपने ज्ञान से लोगों को सकारात्मक ऊर्जा दे रहे हैं और लोगों को धर्म का सही रास्ता दिखा रहा है। यहां से न केवन उत्तर प्रदेश बल्कि पूरे देश के लोग जुड़े हुए हैं। मेरा यहां आने का उद्देश्य स्वामी जी महाराज का आशीर्वाद लेना था। आश्रम द्वारा किए जा रहे पुनीत कार्य चलते रहे और हम सबको आशीर्वाद मिलता रहे इसीलिए मैं आज यहां आया हूं। यह बातें समाजवादी पार्टी के मुखिया और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शुक्रवार को सक्तेशगढ़ आश्रम में स्वामी अड़गड़ानंद महाराज के दर्शन-पूजन के उपरांत कहीं।

दोपहर करीब डेढ़ बजे आश्रम परिसर पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री ने एक घंटा अड़तीस मिनट तक आश्रम में प्रवास किया। इस दौरान उन्होंने कक्ष में एकांत में उनसे मुलाकात की। मुलाकात के दौरान स्वामीजी ने उनसे धर्म और समाज की वर्तमान दशा पर चर्चा करते हुए उन्हें यथार्थ गीता भेंट की। अड़गड़ानंद महाराज ने सपा के अध्यक्ष से कहा कि यथार्थ गीता ही मानव मात्र का धर्म ग्रंथ है। इस दौरान इस दौरान व्यवस्था में वरिष्ठ संत नारद महाराज, सोहम बाबा, लाले महाराज, हरिमोहर सिंह, अनुभवानंद महाराज, अंकुश बाबा, रामरक्षानंद महाराज, पूर्व सांसद रामचरित्र निषाद, सपा वाराणसी के पूर्व जिलाध्यक्ष पीयूष यादव, रोहित कुमार समेत बड़ी संख्या में सपा कार्यकर्ता मौजूद थे।

 

तीनों कानूनों से किसान बर्बाद हो जाएगा

तीनों कृषि कानूनों से देश के किसान को बचाना है। इन कानूनों से किसानों का नुकसान होगा फायदा नहीं। चुनार क्षेत्र में लहलहा रही सरसों की फसल का उदाहरण देते हुए कहा कि क्या कृषि कानूनों के बाद यहां के किसानों का सरसों एमएसपी पर खरीदा जाएगा। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि इन कानूनों के अमल में आने के बाद किसानों को धान, गेहूं, बाजरा, सरसों आदि किसी फसल की कीमत नहीं मिलेगी। इसलिए किसान इसका विरोध कर रहे। बीजेपी को सोचना चाहिए कि जो कानून किसानों को पसंद नहीं है उन्हें जबरन किसानों पर क्यों थोपा जा रहा है।

मां विंध्यवासिनी के आशीर्वाद से मिलेगी सफलता

मां विंध्यावासिनी का आशीर्वाद लेंगे। विंध्य की धरा को पार्टी के लिए शुभ बताते हुए सोनभद्र के शिविर को याद करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि मुझे याद है कि सोनभद्र में सपा का शिविर हुआ था और उसके बाद प्रदेश में सरकार बनी थी। आने वाले समय में जनता के बीच में जाने के पूर्व सपा के कार्यकर्ता को ट्रेंड करना है आने वाले समय में राजनीतिक लड़ाई कैसी है और उस पर फतह कैसे हासिल करनी है। कार्यकर्ताओं को जीत का मंत्र दिया जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.