आजमगढ़ में बोले अखिलेश - 'संविधान और बाबा साहब को मानने वाले एक हो भाजपा को हटाएं'

बीजेपी बेरोजगारी महंगाई बिजली की समस्या पर चुप्पी साधे है। संविधान दिवस को विशेष अवसर बताते हुए लाेकतंत्र एवं संविधान को चाहने वालों से अपील की कि मिलकर भाजपा को सत्ता से बाहर करें। कहा कि समाजवादी पार्टी अनुसूचित जाति प्रेमी पिछड़ों की हितैषी होने के साथ जनसंगठन है।

Abhishek SharmaPublish:Fri, 26 Nov 2021 03:59 PM (IST) Updated:Fri, 26 Nov 2021 04:39 PM (IST)
आजमगढ़ में बोले अखिलेश - 'संविधान और बाबा साहब को मानने वाले एक हो भाजपा को हटाएं'
आजमगढ़ में बोले अखिलेश - 'संविधान और बाबा साहब को मानने वाले एक हो भाजपा को हटाएं'

आजमगढ़, जागरण संवाददाता। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शुक्रवार को विकास के सवाल पर ही भाजपा को घेरा। उन्होंने कहा कि सपा ने न सिर्फ जेवर अपितु फिरोजाबाद और आगरा को हवाई सुविधा से जाेड़ने के लिए हिरन गांव में भूमि चिह्नित की थी, लेकिन अनुमति नहीं मिल सकी। बीजेपी बेरोजगारी, महंगाई, बिजली की समस्या पर चुप्पी साधे है। संविधान दिवस को विशेष अवसर बताते हुए लाेकतंत्र एवं संविधान को चाहने वालों से अपील की कि मिलकर भाजपा को सत्ता से बाहर करें। कहा कि समाजवादी पार्टी अनुसूचित जाति प्रेमी, पिछड़ों की हितैषी होने के साथ जनसंगठन है।

अखिलेश यादव सपा के जिलाध्यक्ष हवलदार यादव की भतीजी की शादी में शरीक होने काेयलसा ब्लाक स्थित तोनारी गांव में पहुंचे थे। वहां मीडिया से मुखातिब हुए तो निशाने पर भाजपा ही रही। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री बिजली उत्पादन इकाई का नाम नहीं ले सकते हैं, लैपटाप चलाना भी नहीं जानते इसलिए दोनों का नाम नहीं लेते हैं। साढ़े चार साल से टैबलेट देने की बात कह रहे हैं, अब असली टैबलेट देने जा रहे हैं। कृषि कानून की वापसी पर कहा कि भाजपा का गलत फैसला था, जिसे वापस ले ली। कहा कि मुझे खुशी है कि भाजपा साढ़े चार साल बाद विकास की बात करने लगी है। पत्रकारों से कहा कि आरटीआइ डालकर पता करें तो जानकारी होगी समाजवादी पार्टी विकास की पार्टी है। हमने केंद्र सरकार की विकास योजनाओं को भी आगे बढ़ाया था।

प्रसपा पर कहाकि उनका भी पूरा सम्मान करेंगे। बसपा छोड़ चुके शाह अलाम गुड्डू जमाली के बारे में सवाल पर कहा कि अच्छे लोगों का उनकी पार्टी में सम्मान है। भाजपा से संविधान और लोकतंत्र को खतरा है।अपना दल, रालोद समेत कई अन्य पार्टियों को साथ लेकर सपा एक गुलदस्ता की तरह हो गई है।मैं संविधान दिवस पर अपील करता हूं कि प्रदेश के साथ आजमगढ़ में सभी सीटों पर सपा को विधानसभा में जिताएं। बीजेपी के साथ न जनता है और ना ही किसान। जनता विरोध पर इस कदर उतारू है कि नोएडा, शाहजहांपुर में भाजपा के बड़े नेताओं को घेरा जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार की जिम्मेदारी बनती है कि नौजवानों को नौकरी दे, महंगाई कम करे।

यहां तो बिजली का बिल इतना बढ़ गया है कि जनता को करंट लग रहा है। सरसों के तेल की महंगाई पर भाजपा को घेरते हुए कहा कि कोरोना में कुछ खास लोग अमीर हो गए, सोचिए ऐसा क्यों है। प्रदेश में भाजपा विरोधी लहर है। बसपा को घेरते हुए कहा कि सपा अनुसूचित जाति और पिछड़ों के साथ है। आज संविधान दिवस के दिन हमारी पार्टी डा. आंबेडकर को याद कर रही है। पूर्व कैबिनेट मंत्री दुर्गा प्रसाद यादव, संग्राम यादव, पूर्व कैबिनेट मंत्री चंद्रदेव राम यादव करैली, राष्ट्रीय प्रवक्ता अभिषेक राय, पूर्व विधायक आदिल शेख, संदीप कुमार यादव उर्फ गुड्डू, रामरतन राहुल, सुनीता सिंह, श्यामबहादुर यादव आदि उपस्थित थे।