गाजीपुर में गुल्लू के घर तक रास्ता बनाने में जुटा प्रशासन, रास्ते के दो विकल्पों पर चल रही बात

गाजीपुर में गंगा में बहायी गई नवजात बच्ची को बचाने वाले गुल्लू चौधरी के घर तक रास्ता बनाने में जिला प्रशासन जुट गया है। डीएम मंगला प्रसाद सिंह के निर्देश पर नगरपालिका इओ व जेई ददरीघाट पहुंचे और वहां का जायजा लिया।

Saurabh ChakravartyThu, 17 Jun 2021 04:56 PM (IST)
गाजीपुर: रास्ता के अभाव में दूसरे की चहारदीवारी फांदकर जाती गुल्लू मल्लाह की मां।

गाजीपुर, जेएनएन। गंगा में बहायी गई नवजात बच्ची को बचाने वाले गुल्लू चौधरी के घर तक रास्ता बनाने में जिला प्रशासन जुट गया है। डीएम मंगला प्रसाद सिंह के निर्देश पर नगरपालिका इओ व जेई ददरीघाट पहुंचे और वहां का जायजा लिया। गुल्लू के घर तक रास्ता बनाने के लिए दो विकल्पों पर काम चल रहा है, जो सहज व सुलभ होगा वहीं से रास्ता निकाला जाएगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा गुल्लू के इस नेक कार्य की सराहना करते हुए उसे हर संभव मदद देने के आश्वासन सके बाद डीएम ने नगरपालिका को प्रस्ताव तैयार करने का निर्देश दिया है। गुल्लू चौधरी का घर ददरीघाट के कछार पर स्थित है। मुख्य रास्ते व उनके मकान के बीच से होकर बड़ा नाला बहता है, जो लगभग 15 फीट गहरा व 20 फीट चौड़ा है। ऐसे में गुल्लू का परिवार दूसरे की चहारदीवारी फांद कर किसी तरह अपने घर पहुंचता है। 20 फीट चौड़े व 15 फीट गहरे कच्चे नाले के ऊपर से रास्ता बनाना किसी चुनौती से कम नहीं है। यहां पर पुल बनाना पड़ेगा जो काफी खर्चीला साबित होगा। वहीं दूसरी ओर से जो रास्ता बन सकता है, लेकिन वहां जमीन दूसरे की है। ऐसे में प्रशासन दोनों विकल्पों पर मंथन कर रहा है।

हम लाेग मौके पर गए थे। वहां गुल्लू के घर तक रास्ता बनाने के लिए दो विकल्प हैं

हम लाेग मौके पर गए थे। वहां गुल्लू के घर तक रास्ता बनाने के लिए दो विकल्प हैं। एक तो चहारदीवारी की तरफ से बनाया जाए, दूसरा नाला पर पुल बनाया जाए। नाला पर पुल बनाना काफी खर्चीला है। इसको लेकर मंथन चल रहा है। शीघ्र ही कोई न कोई रास्ता निकाल लिया जाएगा।

- लालचंद सरोज, इओ नगरपालिका गाजीपुर।

चेयरमैन व उमंग फाउंडेशन ने गुल्लू को किया सम्मानित

नाविक गुल्लू चौधरी को सम्मानित करने वालों का तांता लगा हुआ है। गुरुवार को नपा अध्यक्ष सरिता अग्रवाल व पूर्व नपा अध्यक्ष विनोद अग्रवाल ने अंगवस्त्र और राशन देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर उन्होंने गुल्लू के इस साहसिक कार्य पर बधाई देते कहा कि मानवता के रक्षक गुल्लू चौधरी ने न सिर्फ एक मानवीय पक्ष प्रस्तुत किया, बल्कि बेटी को पालने की ²ढ़ इच्छा जताकर बोझ समझने वालों को एक सीख भी दी है। आगे कहा कि हम प्रदेशवासी शौभाग्यशाली हैं कि हमें योगी आदित्यनाथ जी जैसा मुख्यमंत्री मिला है। जिन्होंने संवेदनशीलता दिखाते गंगा के स्वास्थ्य के साथ साथ उसके भविष्य की ङ्क्षचता करते उसके लालन पालन की व्यवस्था की है। इसमें नगर अध्यक्ष सुनील गुप्ता, रासबिहारी राय, स्थानीय सभासद कमलेश श्रीवास्तव, समरेंद्र, अमरनाथ दुबे, अजय गुप्ता, संजय गुप्ता, अजय कुशवाहा और भाजपा आईटी संयोजक कार्तिक गुप्ता आदि रहे। इसी क्रम में उमंग फाउंडेशन के लोगों ने भी गुल्लू चौधरी के घर शाल देकर उनको नेक काम के लिए सम्मानित किया। इसमें उमंग के अध्यक्ष संजय गुप्ता, महामंत्री श्याम कुमार चौधरी, सुनील सोनी, मधुसूदन त्रिपाठी, राकेश जायसवाल, मनोज वर्मा,राजेश वर्मा, संतोष गुप्ता अमृत साहू उपस्थित थे।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.