Corona Virus in Varanasi : वाराणसी में रविवार को मिले 1520 कोरोना पॉजिटिव, एक मरीज की मौत

Corona Virus in Varanasi : रविवार की सुबह आई रिपोर्ट में कुल 782 नए संक्रमित मरीज सामने आए हैं।

Corona Virus in Varanasi आज मिले पॉजिटिव मरीजों के बाद जनपद में वर्तमान में 6725 एक्टिव कोरोना केस हैं। वहीं कुल 22617 लोग अब तक इस बीमारी से जंग जीतकर स्वस्थ हो चुके हैं। जिले में अब तक कोरोना से 399 लोगों की मौत हो चुकी है।

Abhishek SharmaSun, 11 Apr 2021 01:08 PM (IST)

वाराणसी, जेएनएन। जिले में कोरोना संक्रमण की दर पुराने सारे रिकार्ड ध्वस्त करते हुए अपने चरम पर है। रविवार को स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार पिछले 24 घंटे में 1520 कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए हैं। वहीं एक कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत भी हुई है। इसी के साथ जनपद में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 29741 पहुंच गया है।

मेडिकल बुलेटिन के अऩुसार रविवार को कुल 216 मरीजों ने कोरोना से जंग जीत ली है, जिसमें होम आइसोलेशन कर रहे 215 और अस्पताल से एक मरीज को छुट्टी मिल गई है। वाराणसी में अब तक कुल 19608 लोग होम आइसोलेशन में वहीं 3009 मरीज विभिन्न अस्पतालों में स्वस्थ हो चुके हैं।  आज मिले पॉजिटिव मरीजों के बाद जनपद में वर्तमान में 6725 एक्टिव कोरोना केस हैं। वहीं कुल 22617 लोग अब तक इस बीमारी से जंग जीतकर स्वस्थ हो चुके हैं। जिले में अब तक कोरोना से 399 लोगों की मौत हो चुकी है।

कोरोना संक्रमण से संस्कृत विवि के पूर्व कुलपति का निधन

संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति, राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित प्रो. अशोक कुमार कालिया का रविवार को लखनऊ में निधन हो गया। वह कोरोना संक्रमित हो गए थे। संस्कृत विभाग, लखनऊ विश्वविद्यालय के पूर्व प्रो. कालिया संस्कृत विश्वविद्यालय में वर्ष 2005 से वर्ष 2008 तक कुलपति रहे। उनके निधन पर कुलपति प्रो. राजाराम शुक्ल ने संस्कृत जगत की अपूरणीय क्षति बताया है।

पीएम के संसदीय कार्यालय प्रभारी भी पॉजिटिव

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जवाहर नगर एक्सटेंशन स्थित संसदीय कार्यालय प्रभारी शिव शरण पाठक की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। कार्यालय सूत्रों के अनुसार पाठक को पिछले कई दिनों से हल्का बुखार व गले में दर्द था। रविवार को जांच कराए जाने पर उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। उन्होंने वैक्सीन की दोनों डोज भी लगवा ली थी। कार्यालय प्रभारी के पॉजिटिव हो जाने से पूरे कार्यालय को जहां सैन्टाइज किया गया वहीं अन्य दो सहयोगियों जयप्रकाश सिंह व गौरव ने भी अपनी जांच करवाई लेकिन दोनों की रिपोर्ट निगेटिव आयी है। कार्यालय सूत्रों के अनुसार प्रभारी ने खुद को आइसोलेट कर लिया है लेकिन कार्यालय का कार्य सामान्य तौर पर चलेगा।

मुंबई से आए यात्री समेत तीन संक्रमित

महामारी के दूसरे लहर में भयावहता बढ़ती ही जा रही है। रविवार को कैंट स्टेशन पर मुंबई से आए यात्री समेत तीन लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई। जिन्हें 108 एम्बुलेंस की सहायता से पंडित दीनदयाल उपाध्याय जिला अस्पताल भेज दिया गया। एहतियातन एंटीजन टेस्ट डेस्क और ट्रेन की बोगी को सैनिटाइज कराया गया। जिसमें यात्री सवार थे। मूलरूप से बिहार के कृष्णानगर निवासी 39 वर्ष और 16 वर्ष के यात्री दादर- गोरखपुर स्पेशल ट्रेन से कैंट स्टेशन पहुंचे थे। बुखार की शिकायत पर दोनों का एंटीजन टेस्ट हुआ। टेस्ट के बाद दोनों यात्रियों में संक्रमण की पुष्टि हुई। इसके अलावा कैंट स्टेशन पर सेवारत एक सफाई कर्मचारी में भी संक्रामक बीमारी के लक्षण मिले हैं। तीनों को जिला अस्पताल भेज दिया गया।

गोदान एक्सप्रेस से स्टेशन पर उतरे चार यात्री मिले संक्रमित

मुंबई से चलकर जौनपुर जंक्शन पहुंची गोदान एक्सप्रेस ट्रेन से उतरे यात्रियों की जांच के दौरान चार यात्री कोरोना पाजीटिव मिलने के बाद उन्हें घर भेजकर क्वारंटाइन कर दिया गया। दोपहर में ट्रेन के पहुंचने के बाद बारी-बारी से यात्रियों का एंटीजन किट से जांच की जा रही थी। इसी दौरान थर्मल स्क्रीनिंग में चार का तापमान अधिक मिलने के बाद उनका एंटीजन किट से जांच किया गया। रिपोर्ट कोविड पाजीटिव आने के बाद तत्काल चारों को क्वारंटाइन कर दिया गया। इसके साथ ही उनके साथ आने वालों की भी जांच की गई। रेलवे स्टेशन पर दो टीमों में स्वास्थ्य टीम की तैनाती की गई है, जो ट्रेन के पहुंचने के बाद यात्रियों की जांच कर रहे हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.