Varanasi में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन में बने समूहों से जुड़ी 25 महिलाओं ने पंचायत चुनाव में हासिल की जीत

वाराणसी में पहली बार राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन समूह सी जुड़ी 25 महिलाओं को जीत हुई।

वाराणसी में पहली बार समूह सी जुड़ी 25 महिलाओं को जीत हुई। बड़े बड़े दिग्गजों को पटकनी देकर समूह की 15 महिलाओं ने ग्राम प्रधान की कुर्सी एक जिला पंचायत सदस्य नौ ने बीडीसी पर पद जीत हासिल कीं।

Saurabh ChakravartyThu, 13 May 2021 08:20 AM (IST)

वाराणसी, जेएनएन। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (एनआरएलएम) के तहत गांव- गांव में बने समूहों की महिलाओं ने समूह के बैनर तले अपनी पहचान बनाई। साथ ही गांव के विकास की रूपरेखा खींच लोगों को समझायीं और युवाओं व महिलाओं के बीच साझा कीं। महिलाओं को अपने पक्ष में खड़ा किया इसके बाद पंचायत चुनाव की बारी आई तो उन्हीं के सिफारिश पर पर मैदान में उतर गई। नतीजा, जानदार। वाराणसी में पहली बार समूह सी जुड़ी 25 महिलाओं को जीत हुई। बड़े बड़े दिग्गजों को पटकनी देकर समूह की 15 महिलाओं ने ग्राम प्रधान की कुर्सी, एक जिला पंचायत सदस्य नौ ने बीडीसी पर पद जीत हासिल कीं।

सशक्त होंगी पंचायतें

एनआरएलएम की ओर से बकायदा इन विजयी महिलाओं की सूची जारी की गई है। इसमें कुछ महिलाएं एमए पास हैं तो कई बीए भी हैं। सबकी अपने अपने समूहों में अच्छे कार्यों से मजबूत पकड़ है तो वहीं अच्छे व्यवहार के कारण सबकी प्रिय भी हैं। एनआरएलएम से जुड़े लोगों का कहना है कि महिला सशक्तीकरण की दिशा में इससे अच्छा काम नहीं हो सकता है। ये महिलाएं गांव के कोना कोना से परिचित हैं। सभी समस्याएं से अवगत हैं। साथ ही 95 फीसद लोगों को अच्छी तरह से पहचानती हैं। ये महिलाएं अपनी काम करेंगी, कुर्सी भी संलालेंगी। इनके कार्य पर पति मुहर नहीं लगाएंगे। पंचायतें पूरी तरह सशक्त होंगी।

जीत हासिल करने वाली महिलाएं

सेवापुरी ब्लाक से पांचवीं पास फूलकुमारी ने ग्राम प्रधान तो बीए पास संध्या, पांचवीं पास सीता ने बीडीसी की सीट पर जीत हासिल की। ब्लाक हरहुआ में एमए पास जय देवी, बीए पास शशिकला ने ग्राम प्रधान तो चिरईगांव ब्लाक में 12वीं पास वंदना भारती जिला पंचायत सदस्य, बीए पास कविता, पांचवीं पास मालती व 10 पास गीता देवी ग्राम प्रधान बनीं। बड़ागांव ब्लाक में पांचवीं पास मालती देवी व पांचवीं पास लालती देवी ने प्रधान पद पर व दसवीं पास रेखा पटेल ने बीडीसी के पद विजयी रहीं। ब्लाक आराजीलाइन में 12वीं पास रजनी सिंह बीडीसी, पांचवीं पास रीता व 12वीं पास आरती व दसवीं पास गीता ने ग्राम प्रधान व पांचवीं पास रीता ने बीडीसी के पद पर जीत तो हासिल नहीं की लेकिन प्रतिद्वंद्वी के तौर पर दूसरे स्थान पर रहीं।काशी विद्यापीठ व चोलापुर ब्लाक से एक मात्र क्रमश: आठवीं पास किरन देवी ने बीडीसी व पांचवीं पास उर्मिला देवी प्रधान की कुर्सी पाने में सफल रहीं। पिंडरा ब्लाक में सर्वाधिक सात सीट समूहों के नाम रहा। इसमें 12वीं पास सुनीता देवी, पांचवीं पास अभिलाषा व आठवीं पास शकुंतला ने ग्राम प्रधान पद पर व आठवीं पास उर्मिला, मुन्नी मौर्या, प्रियंका पटेल व बिंदु देवी ने बीडीसी पद पर जीत हासिल कीं।

बैनर पर नाम के साथ दिया समूह का पद भी

चिरईगांव सेक्टर नम्बर दो से सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी समर्थित वंदना भारती ने अपने प्रचार के दौरान बैनर पर अपने नाम के साथ पद स्वयं सहायक समूह सखी अंकित कराया था। चुनाव के दौरान भी यह चर्चा में रहा। वह अपनी उपलब्धि में समूह के बैनर तले किए कार्यों को तरजीह देती हैं।

लीडरशिप लोगों में दिखी तो पद देकर नवाजा

यह परिवर्तन है। इससे महिलाएं मजबूत बनेंगी। सामाजिक सहभागिता बढ़ेगी। समूह में अच्छा कार्य करके लोगों के बीच पहचान बनाया। लीडरशिप लोगों में दिखी तो लोगों ने पद देकर नवाजा। जीत हासिल करने वाली महिलाएं पंचायतों में कुछ अलग करके दिखाएंगी। समस्याएं भी हल करेंगी व आला अफसरों तक बेहिचक अपनी बात भी रखेंगी।

-दीलिप कुमार सोनकर, उपायुक्त स्वत: रोजगार

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.