अयोध्‍या में श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए वाराणसी के 11 मुस्लिम समर्पित करेंगे धनराशि

23 जनवरी को लमही में मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की ओर से आयोजित कार्यक्रम में 11 मुस्लिम आगे आए हैं।

अयोध्या में भव्य श्रीराम मंदिर (राम जन्‍म भूमि) निर्माण के लिए सामाजिक समरसता की मिसाल पेश करते हुए काशी का मुस्लिम समाज भी अपनी सहभागिता सुनिश्चित करेगा। आगामी 23 जनवरी को लमही में मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की ओर से आयोजित कार्यक्रम में 11 मुस्लिम आगे आए हैं।

Publish Date:Sun, 17 Jan 2021 03:39 PM (IST) Author: Abhishek sharma

वाराणसी, जेएनएन। अयोध्या में भव्य श्रीराम मंदिर (राम जन्‍म भूमि) निर्माण के लिए सामाजिक समरसता की मिसाल पेश करते हुए काशी का मुस्लिम समाज भी अपनी सहभागिता सुनिश्चित करेगा। आगामी 23 जनवरी को लमही में मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की ओर से आयोजित कार्यक्रम में 11 मुस्लिमों ने आरएसएस के शीर्ष नेता इंद्रेश कुमार को सहयोग राशि सौंपने की सहमति प्रदान की है।

अयोध्‍या में राम मंदिर निर्माण में सामाजिकता और समरसता के पहलुओं का समावेश करते हुए आरएसएस के शीर्ष नेता इंद्रेश कुमार को सहयोग राशि के लिए 11 मुस्लिमों ने पहल की है। इस बाबत आयोजकों ने बताया कि काशी के मुस्लिम समाज की ओर से सामाजिक सामंजस्‍यता और सरोकार को प्रदर्शित करते हुए इस आयोजन को सफल बनाने में अपना योगदान देगा। इसके लिए लमही में मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की ओर से यह आयोजन किया जाएगा। इस दौरान विभिन्‍न धार्मिक और सांस्‍कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएंगे। 

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की ओर से आगामी 23 जनवरी को लमही में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 124वीं जयंती मनाई जाएगी। कार्यक्रम में शामिल होने के लिए इंद्रेश कुमार एक दिन पहले ही बनारस पहुंच जाएंगे। तीन दिन के अपने प्रवास के दौरान वे कई आयोजनों में शिरकत करेंगे। ज्ञात हो कि इन दिनों मंदिर निर्माण के लिए श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र समर्पण अभियान के तहत बनारस के साथ ही देशभर में जन-सहभागिता अभियान चलाया जा रहा है। इसी के क्रम में मुस्लिम राष्ट्रीय मंच ने मुस्लिम तबके से संपर्क करना शुरू किया है। मंच के पूर्वांचल प्रभारी मोहम्मद अजहरुद्दीन के मुताबिक बनारस के 11 मुस्लिम बंधु सहयोग धनराशि समर्पित करने की सहमति प्रदान कर चुके हैं। सुभाष चंद्र बोस जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में सभी अपने-अपने हिस्से की समर्पण राशि आरएसएस के अखिल भारतीय कार्यकारिणी सदस्य इंद्रेश कुमार को भेंट करेंगे। अन्य लोग भी इसके लिए इच्छुक हैं, जिनसे संपर्क किया जा रहा है। 

बोले आयोजक

काशी का मुस्लिम समाज आपसी सामंजस्य और सरोकार को प्रदर्शित करते हुए इस आयोजन को सफल बनाने में अपना योगदान देगा। फिलहाल दानकर्ताओं के निवेदन पर आयोजन तक उनके नाम-पते सहित दान की धनराशि गोपनीय रखने का निर्णय लिया गया है। - मोहम्मद अजहरुद्दीन, पूर्वांचल प्रभारी-मुस्लिम राष्ट्रीय मंच 

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.