टीईटी परीक्षा निरस्त, सुरक्षा कर्मियों ने संभाला मोर्चा

शिक्षक पात्रता परीक्षा में जूनियर स्तर के 12015 व प्राथमिक के 17833 परीक्षार्थी समेत कुल 29848 अभ्यर्थियों द्वारा पंजीकरण कराया गया था। पहली पाली की परीक्षा सुबह 10 से दोपहर 1230 बजे व दूसरी पाली में जूनियर स्तर की परीक्षा दोपहर ढाई से शाम पांच बजे तक आयोजित की गई थी।

JagranMon, 29 Nov 2021 01:07 AM (IST)
टीईटी परीक्षा निरस्त, सुरक्षा कर्मियों ने संभाला मोर्चा

सुलतानपुर : पेपर लीक होने की वजह से जिले में बनाए गए 34 केंद्रों पर 29848 अभ्यर्थियों के लिए रविवार को आयोजित की गई शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) निरस्त कर दी गई। अभ्यर्थियों के उग्र होने की संभावना को देखते हुए सभी परीक्षा केंद्रों पर पुलिसकर्मियों की तैनाती कर दी गई। डीएम, एसपी, स्टैटिक मजिस्ट्रेट व पर्यवेक्षक समेत अन्य जिम्मेदार भ्रमण कर स्थितियों से अवगत होते रहे।

शिक्षक पात्रता परीक्षा में जूनियर स्तर के 12,015 व प्राथमिक के 17,833 परीक्षार्थी समेत कुल 29,848 अभ्यर्थियों द्वारा पंजीकरण कराया गया था। पहली पाली की परीक्षा सुबह 10 से दोपहर 12:30 बजे व दूसरी पाली में जूनियर स्तर की परीक्षा दोपहर ढाई से शाम पांच बजे तक आयोजित की गई थी। कड़ी सुरक्षा व चेकिग के बाद अभ्यर्थियों को साढ़े नौ बजे तक कक्ष में प्रवेश कराकर निर्धारित समय पर प्रश्न पत्र व ओएमआर सीट का वितरण कर दिया गया। थोड़ी देर बाद प्रदेश के पश्चिम जिलों सहित कई हिस्सों से पेपर लीक होने की खबरें वायरल होने लगी। अधिकारियों को इस बात की जानकारी हुई तो स्थानीय पुलिस को सक्रिय कर मोर्चा संभालने की कोशिश शुरू कर दी गई। एसपी की तरफ से भी सभी थाना प्रभारियों को सतर्क कर दिया गया। सुबह साढ़े 11 बजे प्रयागराज के परीक्षा नियामक प्राधिकारी की तरफ से परीक्षा को निरस्त करने संबंधी आदेश डीएम रवीश गुप्ता व डीआइओएस बीपी सिंह को मुहैया करा दिया गया। स्थिति को नियंत्रण में बनाए रखने के उद्देश्य से प्रशासन की तरफ से अभ्यर्थियों को पेपर लीक की जानकारी नहीं दी गई और परीक्षा को अनवरत जारी रखा गया। पहली पाली की पूरी परीक्षा आयोजित होने के समय तक अभ्यर्थियों को कक्ष में ही रखा गया है। इसके बाद परीक्षा निरस्त होने की जानकारी को सार्वजनिक की गई।

डीएम ने जीआइसी सेंटर का किया निरीक्षण : डीएम रवीश गुप्ता दोपहर करीब एक बजे के आसपास बस अड्डा स्थित राजकीय इंटर कालेज पहुंचे और जिम्मेदारों से परीक्षा व उत्पन्न स्थितियों के बारे में जानकारी हासिल की। कंट्रोल रूम का भी निरीक्षण किया गया। शासन के निर्देश पर प्रश्न पत्र, ओएमआर सीट व दूसरी पाली के परीक्षा सामाग्रियों को कोषागार में सुरक्षित जमा कराने के लिए निर्देशित किया। शहर में बने परीक्षा केंद्रों के गेट पर काफी संख्या में पुलिसकर्मियों की तैनाती कर दी गई।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.