बूंदाबांदी ने बढ़ाई किसानों की चिता, सर्दी में इजाफा

नवंबर माह में लोगों को सुबह-शाम की ठंड का एहसास हुआ लेकिन दिसंबर की शुरुआत में मौसम में हुए परिवर्तन का असर दिखने लगा है। तापमान में भी गिरावट शुरू हो गई है।

JagranPublish:Sat, 04 Dec 2021 12:17 AM (IST) Updated:Sat, 04 Dec 2021 12:18 AM (IST)
बूंदाबांदी ने बढ़ाई किसानों की चिता, सर्दी में इजाफा
बूंदाबांदी ने बढ़ाई किसानों की चिता, सर्दी में इजाफा

सुलतानपुर : मौसम के बदले मिजाज ने लोगों को दिन में ठंड का एहसास कराया, वहीं हल्की बूंदाबांदी होने से किसानों की दिक्कत बढ़ गई है। शुक्रवार को दिन भर बादल छाए रहे। दिन भर धूप के दर्शन नहीं हुए। वहीं अभी तक प्रशासन की ओर से किसी भी चौराहे पर अलाव की व्यवस्था नहीं कर सका है।

नवंबर माह में लोगों को सुबह-शाम की ठंड का एहसास हुआ, लेकिन दिसंबर की शुरुआत में मौसम में हुए परिवर्तन का असर दिखने लगा है। तापमान में भी गिरावट शुरू हो गई है। जिले का अधिकतम तापमान 25 व न्यूनतम 14 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया है। हालांकि कोहरे का प्रकोप अभी नहीं शुरू हुआ है। इससे लोगों को थोड़ी राहत जरूर है। ठंड के चलते लोग दिन में भी जैकेट, शाल, टोपी आदि पहने हुए दिखाई दिए। मौसम का असर लोगों की दिनचर्या पर पड़ा।

बूंदाबांदी से सहमे किसान : शुक्रवार को दिन में हुई बूंदाबांदी से किसान सहम गए हैं। उन्हें धान के खेत में काट कर रखी गई फसल खराब होने की चिता सता रही है। उन्हें अंदेशा है कि अगर तेज बारिश हुई तो काफी नुकसान होगा। वहीं कुछ किसानों की धान की फसल अभी भी खुले में रखी हुई है, ऐसे में उन्हें भी नुकसान उठाना पड़ सकता है।

नहीं जले अलाव : मौसम की बेरुखी के बावजूद शहर और ग्रामीण क्षेत्रों में अलाव जलाने की व्यवस्था शुरू नहीं की गई है। ऐसे में साधनहीनों के लिए रात काटना कठिन हो रहा है। सार्वजनिक स्थलों की कौन कहे बस स्टेशन व रेलवे स्टेशन पर अलाव न जलने से यात्रियों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।

नगर पालिका के प्रभारी ईओ महेंद्र श्रीवास्तव ने बताया कि 10 दिसंबर से सार्वजनिक स्थलों पर अलाव जलाने की व्यवस्था की जाएगी।

बाजारों में दिखा असर : सहालग का मौसम होने के बावजूद रोज की अपेक्षा शुक्रवार को बाजारों में चहल-पहल नहीं दिखी। दुकानों पर भी सन्नाटा नजर आया। ठंड के चलते जो बहुत जरूरी काम से ही लोग घरों से निकले।

बोले मौसम विज्ञानी : आचार्य नरेंद्र देव कृषि विश्वविद्यालय के मौसम विभाग के विभागाध्यक्ष डा.एएन मिश्रा ने बताया कि आगामी चौबीस घंटों में पूर्वी उत्तर प्रदेश में हल्के व मध्यम बादल छाए रहेंगे। कहीं-कहीं हल्की बरसात होने की संभावना है। हवा सामान्य से तेज गति से पश्चिमी दिशा में चलेगी।