राजस्व शिकायतों की भरमार, कुछ का हो सका निस्तारण

राजस्व शिकायतों की भरमार, कुछ का हो सका निस्तारण

संपूर्ण समाधान दिवस में मौका-मुआयना कर जांच करने के निर्देश दिए गए।

Publish Date:Tue, 19 Jan 2021 11:49 PM (IST) Author: Jagran

सुलतानपुर : संपूर्ण समाधान दिवस में राजस्व से जुड़ी शिकायतों की भरमार है, जिस संख्या में प्रार्थना पत्र आ रहे हैं, उस लिहाज से उनके निस्तारण का अनुपात कम है। जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को मौके पर जाकर सत्यता परखने के बाद ही समाधान करने के सख्त निर्देश जारी किए हैं। मंगलवार को वह पुलिस अधीक्षक डॉ.अरविद चतुर्वेदी व सीडीओ अतुल वत्स के साथ सदर तहसील में लोगों की समस्याएं सुनी। उनके समक्ष कुल 165 प्रार्थना पत्र आए, जिनमें से सर्वाधिक 106 राजस्व महकमे के थे। पुलिस के 18, विकास के 19, शिक्षा एक, बिजली एक और दूसरे विभागों के 20 आवेदन प्राप्त किए गए। मौके पर नौ का ही निस्तारण हो सका। शेष का संबंधित अफसरों को सौंपा गया। सीएमओ डॉ.डीके त्रिपाठी, एसडीएम रामजी लाल, सीओ सतीश चंद्र शुक्ल, तहसीलदार जितेंद्र गौतम आदि मौजूद रहे। वहीं कादीपुर तहसील में एसडीएम महेंद्र कुमार की अध्यक्षता में 140 शिकायतों में से तीन का निस्तारण किया गया। लम्भुआ तहसील में एसडीएम रामअवतार ने 97 शिकायतों में से 04 का निस्तारण कराया। बल्दीराय में एडीएम प्रशासन हर्षदेव पांडेय की अध्यक्षता में 60 प्रार्थना पत्र में से दो का मौके पर निस्तारण किया गया। जयसिंहपुर संसू के अनुसार, एडीएम एफआर उमाकांत त्रिपाठी की मौजूदगी में 130 प्रार्थना पत्र आए, जिसमें से सात का तत्काल समाधान किया गया। इस मौके पर एसडीएम विधेश, बीडीओ इंद्रावती वर्मा, एडीओ पंचायत अशोक वर्मा आदि मौजूद रहे।

सात का चालान :

शांति व्यवस्था भंग किए जाने के आरोप में थाना कोतवाली देहात, कोतवाली नगर व थाना कादीपुर से दो दो और थाना गोसाईगंज से एक कुल सात व्यक्तियों का अलग-अलग प्रकरण में चालान कर न्यायालय के समक्ष पेश किया गया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.