महिला मेट तैयार करेंगी मनरेगा श्रमिकों का लेखा-जोखा

प्रशिक्षित की जा रहीं आजीविका मिशन से जुड़ी समूह की महिलाएं।

JagranSat, 31 Jul 2021 12:19 AM (IST)
महिला मेट तैयार करेंगी मनरेगा श्रमिकों का लेखा-जोखा

संजय तिवारी, सुलतानपुर

सभी ग्राम पंचायतों में महिला मेट की तैनाती की जाएगी। इनके चयन का कार्य पूरा हो गया है। अब उन्हें प्रशिक्षित किया जा रहा है। जिले में 634 महिलाओं का मेट के रूप में चयन हुआ है। यह सभी आजीविका मिशन (एनआरएलएम) समूह की सदस्य हैं। इनकी तैनाती मनरेगा कार्यस्थलों पर की जाएगी। जहां वे जाब कार्डधारकों के रोजाना का लेखाजोखा तैयार करेंगी। इन्हें अर्धकुशल श्रमिक के रूप में प्रतिदिन 320 रुपये का पारिश्रमिक दिया जाएगा। प्रदेश में 18,901 महिलाएं चयनित की गई हैं। इस योजना से गरीबी उन्मूलन व नारी सशक्तीकरण की दिशा में फायदा होगा।

यह कार्य करेंगी मेट

कार्यस्थलों का पर्यवेक्षण, मस्टर रोल में मोबाइल एप से श्रमिकों की दैनिक हाजिरी, कार्यमापन, जाबकार्ड अपडेट करना, कार्यस्थलों पर शारीरिक दूरी का अनुपालन, श्रमिकों को मास्क सुनिश्चित कराने के साथ ही सैनिटाइजर, साबुन व पानी की व्यवस्था करना आदि कार्य शामिल होंगे। न्यूनतम 20 व अधिकतम 50 मजदूरों पर एक मेट की नियुक्ति की जाएगी।

प्रशिक्षण कार्यक्रम में भागीदारी :

प्रयागराज-696, वाराणसी-509, गोरखपुर-476, लखनऊ-274, आगरा-428, अयोध्या-148, श्रावस्ती-272, अमेठी-207, गोंडा-119, बलरामपुर-97, सीतापुर-18, अंबेडकरनगर-615 व सुलतानपुर में चयनित 634 महिलाओं सहित प्रदेश के सभी जिलों में प्रशिक्षित किया जा रहा है। जनपद में भी अब तक 353 महिलाएं प्रशिक्षित हो चुकी हैं। डीसी मनरेगा विनय श्रीवास्तव ने बताया कि प्रशिक्षित महिलाओं का आनलाइन पंजीयन कराकर उनकी आइडी जनरेट की जा रही है। अब तक 26 महिलाओं की मेट के रूप में तैनाती कार्यस्थल पर हो चुकी है।

डीसी आजीविका मिशन जितेंद्र मिश्र ने बताया कि समूह की जो महिलाएं मेट के रूप में चयनित की गई हैं। उनकी तैनाती उनके गांव में ही होगी। साथ ही वह जाबकार्ड धारक भी हैं। नारी सशक्तीकरण व गरीबी उन्मूलन की दृष्टि से यह योजना विशेष लाभदायक है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.