नियमों को दरकिनार कर बनाए जा रहे शॉपिग काम्पलेक्स

नियमों को दरकिनार कर बनाए जा रहे शॉपिग काम्पलेक्स

सुलतानपुर शहर में इन दिनों आधा दर्जन से अधिक बड़े शॉपिग कांप्लेक्स निर्माधीन हैं। आने वाल

Publish Date:Thu, 03 Dec 2020 10:51 PM (IST) Author: Jagran

सुलतानपुर : शहर में इन दिनों आधा दर्जन से अधिक बड़े शॉपिग कांप्लेक्स निर्माधीन हैं। आने वाले दिनों में इन स्थानों पर पर खरीदारी के लिए भारी भीड़ आएगी। भवनों में पार्किंग के इंतजाम नहीं हैं। जिससे वाहनों का रेला सड़कों पर रहेगा और जाम की स्थिति बनेगी। कागजों में पार्किंग स्थल दर्शाए गए हैं लेकिन मौके पर बेसमेंट में दुकानें बनी हैं। जिम्मेदार मौन हैं। एक-दो मॉल या कांप्लेक्स को छोड़ दें तो कहीं भी पार्किंग की सुविधा नहीं है, जबकि मॉल या व्यावसायिक कांप्लेक्स निर्माण की यह अहम शर्त है। बेसमेंट में जहां पार्किंग होनी चाहिए, वहां भी दुकानें चल रही हैं। मॉल संचालकों पर मेहरबानी का खामियाजा आम राहगीरों को जाम में घंटों बिताकर भुगतना पड़ रहा है।

-यह है नक्शा पास कराने के नियम

शॉपिग माल बनाने के लिए सबसे पहले जमीन की कागजात और उसका नक्शा नगर विकास विभाग को देना होता है। नियत प्राधिकारी विनियमिति क्षेत्र की ओर से नक्शे की गहन जांच के दौरान यह सुनिश्चित किया जाता है कि पार्किंग की सुविधा है या नहीं। बिना पार्किंग के कोई भी नक्शा स्वीकृत नहीं किया जा सकता। पार्किंग के लिए भी शॉपिग मॉल के बराबर एरिया निर्धारित की जाती है। लिहाजा आम तौर पर बेसमेंट में ही पार्किंग की सुविधा दी जाती है। नक्शे पर पार्किंग स्थल दर्शाया जाता है जबकि मौके पर विभाग की मिलीभगत से यहां दुकानें बना ली जाती हैं। -ऐसे हो रहा नियमो का उल्लंघन

शॉपिग मॉल का नक्शा पास कराने के लिए लोग जमीन के कागजात के अलावा जरूरी धनराशि विनियमित क्षेत्र विभाग में जमा कर देते हैं। विभाग नियमों के मुताबिक नक्शा पास कर देता है, मगर इसके बाद कोई भी कर्मचारी यह देखने निर्माण स्थल पर नहीं जाता कि नक्शे के अनुरूप काम हो रहा है या नहीं। यही कारण है कि नक्शे में भले ही पार्किंग हो, लेकिन मौके पर उनका वजूद नहीं है। शहर के सबसे व्यस्त क्षेत्रों में शुमार अस्पताल चौराहा, जीएन रोड, बस अड्डा, करौंदिया, पयागीपुर आदि स्थानों वाहन पार्किंग सड़क पर होती है। इससे रोजाना घंटों जाम लगता है। लोग इधर जाने से बचते हैं। यही हाल नगर के अन्य मुख्य मार्गों का भी है।

-

शहर के सभी शॉपिग मॉल संचालकों को जल्द ही नोटिस भेजकर उनसे नक्शे की मांग की जाएगी। जिन्होंने नक्शे नहीं पास कराए हैं या नक्शा पास कराने के बावजूद मानकों की अनदेखी की है उनके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

-रामजी लाल, एसडीएम सदर

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.