top menutop menutop menu

मौसम ने दिया साथ,धाने की रोपाई में जुटे अन्नदाता

जागरण संवाददाता, सोनभद्र : सावन की आगवानी दो दिन पूर्व जनपद में शनिवार को उमड़-घुमड़कर बरसने वाले बादलों ने की। आसमान में बादलों का डेरा किसानों के लिए किसी उपहार से कम नहीं है। खासकर धान के किसानों के लिए। इस बार विभाग की तरफ से पूरे जिले में 30431 हेक्टेयर में धान की रोपाई का लक्ष्य मिला है।

सोनांचल में इस बार अच्छी बारिश को देखते हुए विभाग की तरफ से पिछले वर्ष की अपेक्षा इस साल 514 हेक्टेयर अधिक धान की रोपाई का लक्ष्य मिला है। पिछले साल 29917 हेक्टेयर में धान की रोपाई की गई थी, तो वहीं इस बार 30431 हेक्टेयर का लक्ष्य मिला है। मौसम वैज्ञानिकों व ज्योतिषों की तरफ से भी इस बार सामान्य से अधिक बारिश की उम्मीद जताई गई है। अच्छी बारिश को देखते हुए इस बार किसानों ने भी जोर-शोर से धान की रोपाई में लग गए हैं। शनिवार को जिले के कई हिस्से में बारिश होने से अन्नदाता धान की रोपाई में जुट गए हैं। नगवां, चतरा, शाहगंज के कुछ के कुछ हिस्से में रोपाई शुरू हो गई है। नगवां ब्लाक के नरऊज गांव के किसान रामबचन मिश्र ने बताया कि धान की नर्सरी पहले ही डाल दिया था, पूरे जून व जुलाई माह के पहले सप्ताह में ही अच्छी बारिश होने से धान की रोपाई शुरू कर दी गई है। कृषि मौसम वैज्ञानिक विनीत यादव ने बताया कि आगामी दो दिनों तक इसी तरह मौसम बने रहने की संभावना है। डा. शिवकुमार शास्त्री ने बताया कि सावन सहित आगामी सभी महीनों में बारिश के अच्छे संकेत मिल हैं। कोई भी नक्षत्र ऐसा नहीं जिसमें बारिश कम दिखाई दे रहा है। कहा कि 12 जुलाई व 22 व 24 जुलाई को तेज बारिश होगी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.