पीएफ घोटाले को लेकर विद्युतकर्मी लखनऊ रवाना

जागरण संवाददाता, ओबरा (सोनभद्र) : प्राविडेंट फण्ड घोटाले को लेकर विद्युतकर्मियों ने आन्दोलन तेज कर दिया है। इसके तहत गुरुवार को प्रदेश भर के विद्युतकर्मी लखनऊ में सड़क पर उतरेंगे। प्रदर्शन के दौरान विद्युतकर्मियों के परिवार भी सम्मिलित होंगे। इसमें शामिल होने के लिए ओबरा, अनपरा सहित जिले भर से विद्युतकर्मी लखनऊ के लिए रवाना हो गये हैं। इससे पहले परियोजना चिकित्सालय के पास संयुक्त संघर्ष समिति के आह्वान पर बुधवार को नौंवे दिन भी बिजली कर्मचारियों व अभियंताओं के विरोध प्रदर्शन किया।

वक्ताओं ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से नौंवे दिन भी अपील की कि वे तत्काल प्रभावी हस्तक्षेप करें जिससे पीएफ के भुगतान के लिए सरकारी गजट नोटिफिकेशन जारी हो सके। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन की जांच 17 मार्च 2017 से आगे क्यों नहीं बढ़ रही है जबकि उस दिन मात्र 18 करोड़ रुपये डीएचएफएल को दिए गए थे। जबकि इसके बाद नियमों का उल्लंघन कर डीएचएफएल को 4100 करोड़ रुपये से अधिक का भुगतान किया गया। जब तक पूर्व चेयरमैन को गिरफ्तार नहीं किया जायेगा तब तक घोटाले की तह तक पहुंचना सम्भव नहीं है। उन्होंने मांग की कि पूर्व चेयरमैन को तत्काल गिरफ्तार किया जाए और दो नवम्बर की घोषणा के अनुरूप सीबीआई जांच शुरू की जाए।

इसमें इं सुरेश, अदालत वर्मा, बीएन सिंह, शशिकान्त श्रीवास्तव, दिनेश यादव, रामयज्ञ मौर्य, मनीष श्रीवास्तव, दीपक सिंह, शाहिद अख्तर, उमेश सिंह, मृणाल पाल, एसवीपी सिंह, जनार्दन पाण्डेय ने संबोधित किया। अध्यक्षता बीडी विश्वकर्मा व संचालन सत्यप्रकाश सिंह ने किया।

जेई संगठन ने सौंपा ज्ञापन

पीएफ घोटाले को लेकर राज्य विद्युत परिषद जूनियर इंजीनियर संगठन ने जिलाधिकारी के माध्यम से राज्यपाल,मुख्यमंत्री एवं मुख्य सचिव को सम्बोधित ज्ञापन सौंपा।इस दौरान संगठन के उत्पादन निगम अध्यक्ष आरजी सिंह, शाखा अध्यक्ष अभय प्रताप सिंह,आशुतोष मिश्रा, ओपी पाल, पंकज गुप्ता, अनिल शुक्ला, विजय कुमार,अक्षय यादव, सतीश यादव सहित अन्य पदाधिकारी दर्जनों की संख्या में उपस्थित रहे।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.