धरा का श्रृंगार कर रोपी भविष्य की खुशहाली

विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर जिले भर में पौधारोपण कार्यक्रम

JagranSat, 05 Jun 2021 11:34 PM (IST)
धरा का श्रृंगार कर रोपी भविष्य की खुशहाली

सीतापुर: विश्व पर्यावरण दिवस जिलेभर में मनाया गया। सरकारी, गैर सरकारी संस्थाओं व स्कूलों से जुड़े लोगों ने बढ़चढ़कर पौधारोपण किया। पर्यावरणविद् ने संगोष्ठी का आयोजन कर पर्यावरण संरक्षण के विषय में अपने विचार रखे।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की पर्यावरण गतिविधि से जुड़े सदस्यों ने पर्यावरण संरक्षण के लिए हवन पूजन किया। प्रत्येक सदस्य ने दस दस पौधे रोपे और अन्य लोगों को पौधारोपण के लिए प्रेरित किया। पर्यावरण गतिविधि के प्रांत संयोजक विष्णुदत्त दीक्षित ने सरस्वती विद्या मंदिर महोली में हवन किया। उन्होंने विद्या मंदिर के खाली परिसर में बरगद, नीम, आंवला का पौधा रोपा। इसके अलावा पिसावां के बनियामऊ के आयुर्वेद चिकित्सालय में पर्यावरण संगोष्ठी हुई। इसमें ग्रामीणों को पौधारोपण करने के लिए प्रेरित किया गया। यहां भी बरगद का पौधा लगाया। सूरजपुर चौराहा सामने पौधारोपण किया। इस मौके पर सहजिला कार्यवाह आशीष वाजपेयी, दिवाकर अवस्थी, अरविद उपस्थित रहे। कृषि विज्ञान केंद्र कटिया के वैज्ञानिकों ने भी कोरोना प्रोटोकाल का ख्याल रखते हुए पौधारोपण किया। ग्रामीणों को नीम व कदम के पौधे वितरित किए। वैज्ञानिकों ने कहा कि वृक्ष हमारे परम हितैषी और नि:स्वार्थ सहायक अभिन्न मित्र हैं। आयुर्वेदिक चिकित्सा प्रणाली में वृक्षों का अत्यधिक महत्व है। वृक्षों के बिना अधिकांश जीवों की कल्पना भी नहीं की जा सकती। वृक्षों से ढके पहाड़, फल और फूलों से लदे वृक्ष, बाग, बगीचे मनोहारी ²श्य उपस्थित करते हैं और मन को शांति प्रदान करते हैं। वृक्ष अपनी भोजन प्रक्रिया के दौरान वातावरण से कार्बन डाइऑक्साइड लेते हैं और ऑक्सीजन छोड़ते हैं जिससे जीवन संभव हो पाता है। वृक्षों से हमें लकड़ी, घास, गोंद, रेजिन, रबर, फाइबर, सिल्क, टैनिन, लैटेक्स, बांस, केन, कत्था, सुपारी, तेल, रंग, फल, फूल, बीज तथा औषधियां प्राप्त होती हैं। वृक्ष पर्यावरण को शुद्ध करने का कार्य करते हैं और प्रदूषण को दूर करते हैं। ध्वनि प्रदूषण दूर करते हैं। वायु अवरोधक की तरह काम करते हैं और इस तरह आंधी तूफान से होने वाली क्षति को कम करते हैं। वृक्ष की जड़ मिट्टी को मजबूती से पकड़ कर रखती है जिससे भूमि कटान रुकता है।

सेक्रेड हार्ट डिग्री कालेज के जंतु विज्ञान विभाग की ओर से वर्चुअल मीट हुई। संभागीय वन अधिकारी रुस्तम परवेज ने कहा पृथ्वी पर जीवन के सतत अस्तित्व को बनाए रखने, पर्यावरण संरक्षण, पारिस्थितिक तंत्र में संतुलन बनाए रखने के लिए प्रयास करते रहना चाहिए। ईको सिस्टम रीस्टोरेशन विषयक राष्ट्रीय सेमिनार डा. योगेश चंद्र दीक्षित के समन्वयन में हुई। जिसमें सुप्रसिद्ध पर्यावरणविद् चंद्रभूषण तिवारी, डा. हिमांशु त्रिवेदी, डा. इशिता यादव ने अपने विचार रखे। इलसिया वनोद्यान में डीएफओ रुस्तम परवेज, भाजपा जिलाध्यक्ष अचिन मेहरोत्रा ने पौधा रोपण किया। रामकोट: जुहरी में प्रधान मुन्नी देवी, रामकोट में प्रधान रामनिवास वर्मा, सिकटिया में प्रधान क्रांति देवी व जैतीखेड़ा में प्रधान अमरजीत कौर ने पौधारोपण किया। बरगद, पीपल और नीम के पौधे लगाए गए व संकल्प दिलाया गया। सभी को पीपल, बरगद लगाने व नियमित देखभाल का संकल्प दिलाया। मनोज शुक्ला, मोहित, गांधी आदि मौजूद रहे। सिधौली: शनिवार को हमराह एक्स कैडेट एनसीसी सेवा संस्थान ने चिताहरण मंदिर में पौधारोपण किया। जिलाध्यक्ष शुभम मिश्रा, प्रिस, मृत्युंजय रस्तोगी, ज्ञानेश पाल, हर्षित श्रीवास्तव, विपिन सैनी, गुड़िया मिश्रा मौजूद रहे। हरगांव: बिरवा फाउंडेशन के तत्वावधान में सीएचसी में अधीक्षक डाक्टर नीतेश वर्मा व अन्य सदस्यों ने नीम, आंवला, पीपल, बकाया व सहजन का पौधारोपण किया। भदेवा नहर कोठी में ग्राम प्रधान जरथुआ नरेंद्र वर्मा व प्रधान राजेपुर मनोज यादव वन क्षेत्राधिकारी समर सिंह ने गोल्ड मोहर, सहजन का पौधारोपण किया। पिसावां: महोली रेंज के कार्टर गंज में पौधारोपण हुआ। यहां पर आम, अमरूद, नीम आदि के पौधे लगाए। लहरपुर: क्सेंट बिलाल इंटर कॉलेज में वन संरक्षण एवं पर्यावरण गोष्ठी हुई। एसडीएम पीएल मौर्य ने नीम, आंवला, पीपल, बरगद के पौधों का रोपण किया। इस मौके पर वन क्षेत्राधिकारी अभय कुमार मल्ल, फॉरेस्टर गिरीश सिंह, सिद्दीक अहमद, अशरफ बिलाल मौजूद रहे। कोतवाली परिसर में प्रभारी राय साहब द्विवेदी पीपल, नीम और आंवला के पौधे लगाए। सरैंया: शिक्षक खुशीराम वर्मा, विनीत यादव, रामचंद्र, ग्राम पंचायत अधिकारी अनुरुद्ध वर्मा ने चौधरी चरणसिंह सिंह पार्क में पाकड़ का पौधा रोपा। गायत्री परिवार के महेश यादव आदि ने शारदा नहर के किनारे पीपल व बरगद के पौधों का रोपण किया। औरंगाबाद: ग्राम पंचायत मानपुर प्रधान सरोज कश्यप, ततरोई प्रधान रंजीत कुमार रावत, प्रबंधक देवेंद्र नंदवंशी, प्रधानाचार्य सुनील कुमार ने पौधारोपण किया गया। बिसवां: विश्व मानवाधिकार कानून अपराध नियंत्रण ट्रस्ट के राष्ट्रीय संरक्षक एसएस दिनकर, नीतू दिनकर ने सरसा खुर्द ग्राम पंचायत में तालाब के किनारे गुलरहिया, चहापुर संपर्क मार्ग के पास व उमा विद्यालय देवकलिया पौधारोपण किया। इस दौरान तेजभान सिंह आदि मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.