1,442 जोड़ों का हो चुका सामूहिक विवाह, मिलते हैं ये लाभ

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत रीति-रिवाज व विधि-विधान से संपन्न कराए जाते हैं समारोह। बिटिया के विवाह के लिए मिल रही जरूरतमंदों को सरकारी मदद।

JagranSat, 04 Dec 2021 11:13 PM (IST)
1,442 जोड़ों का हो चुका सामूहिक विवाह, मिलते हैं ये लाभ

सीतापुर : निर्धन परिवारों के विवाह योग्य युवक-युवतियों की मदद के लिए राज्य सरकार हिस्सेदारी कर रही है। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत प्रत्येक जोड़े पर सरकार 51 हजार रुपये खर्च कर रही है। इस योजना में जिले में अब तक 1,442 जोड़ों का विवाह कराया गया है। इधर, 11 दिसंबर को फिर ब्लाक मुख्यालयों पर 735 जोड़ों की शहनाई गूंजने वाली है, जिसकी तैयारियां हो रही हैं।

पात्रों का चयन हो चुका है। प्रत्येक वधू के बैंक खाते में 35 हजार रुपये ट्रांसफर किए जा रहे हैं। योजना की शेष धनराशि 16 हजार रुपये से जरूरी सामान की खरीदारी हो रही है।

जिला समाज कल्याण अधिकारी हर्ष मवार ने बताया कि मुख्यमंत्री की इस योजना से जरूरतमंद को लाभ मिल रहा है। सरकार के खर्चे पर शादियां होने से वर-वधू और उनके परिवारजन में काफी उत्साह देखने को मिलता है। सामाजिकता बढ़ती है। विवाह भी पूरे रीति-रिवाज और विधि-विधान से कराया जाता है।

सामूहिक विवाह योजना का लाभ उठाने के लिए ये हैं नियम :

- कन्या के अभिभावक का उत्तर प्रदेश का मूल निवासी होना जरूरी है।

- कन्या की आयु 18 वर्ष और वर की आयु 21 वर्ष से कम नहीं होनी चाहिए।

- आवेदक की वार्षिक आय सीमा दो लाख रुपये से कम होनी चाहिए।

- कन्या का स्वयं के नाम से बैंक खाता होना अनिवार्य है।

- आवेदक वर व कन्या का आधार कार्ड, शैक्षिक प्रमाणपत्र होना जरूरी हैं।

- अनुसूचित जाति, जनजाति व पिछड़ा वर्ग के आवेदकों के लिए जाति प्रमाणपत्र जरूरी है। योजना में इनको मिलती है वरीयता :

सामूहिक विवाह के लिए विधवा महिला की पुत्री, स्वयं विधवा, तलाकशुदा का पुनर्विवाह, दिव्यांग अभिभावक की बेटी, स्वयं दिव्यांग युवक व युवती को वरीयता दी जाती है।

वर-वधू को ये मिलते हैं लाभ :

योजना में 51 हजार रुपये प्रति जोड़े पर खर्च किए जाते हैं। इसमें से 35 हजार रुपये वधू के बैंक खाते में भेजे जाते हैं। वहीं, 10 हजार रुपये का सामान दिया जाता है। शेष छह हजार रुपये भोजन, बिजली-पानी व टेंट आदि व्यवस्था पर खर्च होते हैं।

बिटिया को मिल रहा ये सामान :

बक्सा, प्रेशर कुकर, चांदी की पायल व बिछिया, स्टील का डिनर सेट, श्रृंगारदान, वर-वधू को कपड़े। योजना में इतने जोड़ों को मिला लाभ

वर्ष - वर-वधू

2017-18 - 123

2018-19 - 61

2019-20 - 479

2020-21 - 559

2021-22 - 220 अब तक 11 दिसंबर को आयोजित होगा सामूहिक विवाह समारोह :

बिसवां, एलिया, सिधौली, महोली ब्लाकों में 37-37 जोड़ों के विवाह होंगे। बेहटा में 60, रेउसा में 53, सकरन में 36, खैराबाद में 46, परसेंडी में 11, हरगांव में 48, कसमंडा में 34, गोंदलामऊ में 55, महमूदाबाद में 25 और लहरपुर में 12 जोड़ों के विवाह होंगे। मिश्रिख में 70, मछरेहटा में 56, पहला ब्लाक में 31, पिसावां में 26, रामपुर मथुरा में 20 और नगर पालिका परिषद खैराबाद में चार जोड़ों के विवाह 11 दिसंबर को हो रहे हैं।

आवेदन कहां, कैसे करें :

ग्रामीण क्षेत्र के इच्छुक लोग ब्लाक कार्यालय और नगरीय क्षेत्र के लोग नगर पालिका परिषद या नगर पंचायत कार्यालय में आवेदन कर सकते हैं। यदि कहीं दिक्कत है तो आवेदक समाज कल्याण अधिकारी कार्यालय में भी आवेदन जमा कर सकते हैं। आवेदन प्रक्रिया आफलाइन हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.