दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

आंधी बारिश के बाद बिजली ने रुलाया

आंधी बारिश के बाद बिजली ने रुलाया

आंधी पानी के कारण बिजली आपूर्ति भी हुई बाधित

JagranFri, 07 May 2021 11:44 PM (IST)

सीतापुर: शुक्रवार की भोर जिले का मौसम अचानक से बदल गया। भोर होते ही आसमान में काली घटाएं घिर आईं और आंधी भी चली। आंधी चलने से जिलेवासियों को पिछले कई दिनों से पड़ रही गर्मी से राहत मिली। मौसम सुहाना हो गया। हालांकि दोपहर से धूप भी निकल आई लेकिन हल्की हवा चलने से लोगों को गर्मी का सामना नहीं करना पड़ा। जहां बारिश से लोगों को राहत मिली वहीं जलभराव व बिजली कटौती का भी सामना करना पड़ा। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 34 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस रहा। हरगांव: नगर पंचायत में नाला की सफाई न होने के कारण जिला परिषद की लगभग चार दुकानों में पानी भर गया। स्टेशनरी, फुट वियर, रेडीमेड कपड़े की दुकान में रखा सामान नाले के गंदे पानी से खराब हो गया। सेउता: आंधी के कारण फसलों को नुकसान हुआ। साथ ही बिजली आपूर्ति दोपहर तक बाधित रही। काशीपुर से अज्जयपुर जाने वाली रोड के किनारे प्रमोद कुमार व शंभूदयाल के घर के पास से हाईटेंशन लाइन बल्ली के सहारे चल रही है। आंधी के कारण हादसे का कारण बन सकती है। ग्रामीणों ने बताया बिजली विभाग से इसे दुरुस्त कराने की कई बार गुजारिश की गई, लेकिन कोई सुधार नहीं हुआ। बरईजलालपुर: आंधी व बारिश के कारण बिजली आपूर्ति बाधित रही। मिश्रिख: बारिश के कारण तहसील मुख्यालय सहित ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति ठप रही। औरंगाबाद: आंधी पानी से आम व सब्जी की फसल को नुकसान हुआ। रेउसा: बारिश के कारण गांव में जलभराव हो गया। बिजली आपूर्ति बाधित रही वहीं बाजार में दुकानें भी नहीं खुली। सिधौली: नियमित साफ सफाई न होने के कारण तहसील क्षेत्र के साथ गांवों में जलभराव का सामना करना पड़ा। बनियानी गांव में ग्रामीणों ने स्वयं से गांव की नालियां साफ की।

कुछ देर बाद बूंदाबांदी

करीब आधा घंटा तेज हवा चलने के बाद बूंदाबांदी भी शुरू हो गई। बूंदाबांदी के बाद करीब एक घंटे तक तेज बारिश भी हुई। बारिश के कारण कहीं कहीं जलभराव का भी सामना करना पड़ा। शहर के शास्त्री नगर से अहाता कप्तान मार्ग काफी समय से जर्जर है। बारिश होने के बाद मार्ग पर जबरदस्त जलभराव हो गया जिसके कारण आमजन को दिक्कत का सामना करना पड़ा।

बिजली गुल

तेज हवा के कारण किसी प्रकार की दुर्घटना तार टूटने की आशंका को देखते हुए पावर कारपोरेशन में बिजली कट कर दी। थाना बिजली कटने से सुबह की दैनिक दिनचर्या जरूर प्रभावित हुई। बारिश रुकने के बाद कुछ देर के लिए सप्लाई सुचारु हुई। उसके बाद दोपहर में बीच बीच कटौती होती रही। भीगा हजारों क्विंटल गेहूं

सीतापुर: नैमिषारण्य के ठाकुर नगर स्थित सरकारी गेंहूं क्रय केंद्र संचालक की लापरवाही से हजारों क्विंटल गेहूं भीग गया। जिले के नैमिषारण्य क्षेत्र में ठाकुर नगर देवदेवेश्वर गेट के समीप हरदोई सीतापुर मार्ग पर स्थित गेंहूं क्रय केंद्र संचालित हो रहा है। इस क्रय केंद्र पर किसानों से खरीदा गया रखा गेहूं बारिश होने की वजह से भीग गया। जिस ठेकेदार को क्रय केंद्रों से गोदाम तक गेहूं पहुंचाने के लिए टेंडर दिया गया है वह सही तरीके से संचालन नहीं कर रहा है। इससे केंद्र पर खुले आसमान के नीचे रखा हुआ हजारों क्विटल गेंहूं भीग गया है। गेहूं क्रय केंद्र प्रभारी अनिल सिंह कहना है कि केंद्र पर लगभग एक हजार क्विंटल से अधिक गेहूं खुले में पड़ा है। जिस पर तिरपाल डाला गया था, लेकिन तेज हवाओं के कारण तिरपाल उड़ जाने के कारण लगभग पांच सौ क्विंटल गेंहूं भीग गया है। इसकी सूचना दी गई थी इसके बाद भी गेहूं का उठान नहीं कराया गया।

वर्जन

'जानकारी मिली है कि तीर्थ के ठाकुर नगर स्थित गेहूूं क्रय केंद्र पर बारिश की वजह से हजारों क्विंटल गेहूं भीग गया है। आवश्यक कार्रवाई की जाएगी'।

गिरीश झा, एसडीएम मिश्रिख

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.