काली मंदिर जीर्णोद्धार के लिए स्वास्थ्य मंत्री का भूमि पूजन

विकास खण्ड के देवरिया गांव स्थित अति प्राचीन काली मंदिर का जीर्णोद्धार किया जाएगा। शनिवार को मंदिर निर्माण के लिए स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने पूजन अर्चन किया। मंत्री ने कहा कि अति प्राचीन इस काली स्थान पर मंदिर निर्माण बहुत पहले हो जाना चाहिए।

JagranSat, 27 Nov 2021 10:58 PM (IST)
काली मंदिर जीर्णोद्धार के लिए स्वास्थ्य मंत्री का भूमि पूजन

सिद्धार्थनगर : विकास खण्ड के देवरिया गांव स्थित अति प्राचीन काली मंदिर का जीर्णोद्धार किया जाएगा। शनिवार को मंदिर निर्माण के लिए स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने पूजन अर्चन किया। मंत्री ने कहा कि अति प्राचीन इस काली स्थान पर मंदिर निर्माण बहुत पहले हो जाना चाहिए।

भूमि पूजन के पश्चात स्वास्थ्य मंत्री गांव में लगी चौपाल में भी पहुंचे। जहां वह ग्रामीणों के सामने केंद्र व प्रदेश सरकार की उपलब्धियों को रखा और सरकार की योजनाओं का बखान किया। मंत्री ने कहा कि किसी व्यक्ति का उत्पीड़न व शोषण होने पर पुलिस को सूचना जरूर दें। संबंधित विभाग को भी सूचित करें। महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए सरकार ने बहुत सी लाभकारी योजनाएं चलाई हैं, जिसका लाभ हर किसी को लेना चाहिए। जागरूकता के अभाव में वह लाभकारी योजनाओं से वंचित न रह जाएं, इसलिए उन्हें गांव गांव जागरूक किया जाए। उन्होंने महिलाओं के लिए लागू सरकार की योजनाओं को भी क्रमवार गिनाया। सभी महिलाएं समाज की मुख्यधारा से जुड़ जाएं भाजपा व उसकी सरकार का मुख्य उद्देश्य है। जयंत्री प्रसाद मिश्र, ईश्वर चंद्र दूबे एडवोकेट, मौलाना फकरुद्दीन, शैलेंद्र चौबे, गोपाल पांडेय, विश्वनाथ पांडेय, श्याम सती मिश्र, रीतेश दूबे, बृजेश पांडेय, चंद्रिका मिश्र आदि उपस्थित रहे। बलिदानियों की प्रेरणा स्थली बनेगी अमरगढ़ : सांसद सांसद जगदंबिका पाल ने शनिवार को कहा कि अमरगढ़ की ऐतिहासिक धरती को नमन करते हैं। यहां देश की आजादी के लिए भारत मां के वीर सपूतों ने बलिदान दिया है। इतना ऐतिहासिक महत्व वाला स्थल आज तक गुमनाम रहा। डुमरियागंज के विधायक राघवेंद्र प्रताप सिंह और प्रशासन के प्रयास से आज इस स्थल की ऐतिहासिकता सबके सामने आई है।

उन्होंने यह बातें डुमरियागंज में चल रहे अमरगढ़ महोत्सव के दूसरे दिन कही। वह अमरगढ़ बलिदान स्थल गए और दो मिनट का मौन रख बलिदानियों को नमन किया। कहा कि इस स्थल के विकास को लेकर हरसंभव प्रयास किया जाएगा। केवल एक गजेटियर से इतनी महत्वपूर्ण जानकारी मिली है। पुरातत्व विभाग से इस स्थल की खोदाई कराई जाएगी। जिससे यहां से जुड़े इतिहास की पूरी सच्चाई सामने आए और विश्व जानें। इस स्थान को प्रेरणा स्थली के रूप में विकसित किया जाएगा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.