पूंजीपतियों के हाथ की कठपुतली बनी सरकार: माता प्रसाद

पूंजीपतियों के हाथ की कठपुतली बनी सरकार: माता प्रसाद

मंगलवार को गणतंत्र दिवस के दिन सपा कार्यकर्ताओं ने ट्रैक्टर रैली निकालकर भाजपा सरकार पर निशाना साधा। पूर्व विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद पाण्डेय भी ट्रैक्टर पर बैठे और संबोधन में केंद्र सरकार को किसान विरोधी व पूंजीपतियों के हाथों की कठपुतली बताया।

Publish Date:Wed, 27 Jan 2021 11:20 PM (IST) Author: Jagran

सिद्धार्थनगर :किसान आंदोलन के समर्थन में मंगलवार को गणतंत्र दिवस के दिन सपा कार्यकर्ताओं ने ट्रैक्टर रैली निकालकर भाजपा सरकार पर निशाना साधा। पूर्व विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद पाण्डेय भी ट्रैक्टर पर बैठे और संबोधन में केंद्र सरकार को किसान विरोधी व पूंजीपतियों के हाथों की कठपुतली बताया।

गांवों से इटवा की तरफ आ रहे कई ट्रैक्टर को पुलिस ने वापस कराया। इस बीच पूर्व विस अध्यक्ष कार्यालय पर पहुंचकर ट्रैक्टर पर बैठ गए। पुलिस पहुंची तो सभी को वापस कराया। थोड़ी देर में सपाई महादेव घूरहू चौराहे पर पहुंचकर ट्रैक्टर रैली निकालते हुए नारेबाजी करने लगे। माता प्रसाद पाण्डेय ने कहा कि गणतंत्र दिवस के दिन दिल्ली में हुई घटना सरकार की विफलता का परिणाम है। दो महीने से किसान आंदोलन कर रहे हैं और सरकार गूंगी-बहरी बनी बैठी रही। उसे किसानों की नहीं, बल्कि उद्योगपतियों की चिता है। मझौवा चौराहे पर भी संबोधन में पूर्व विस अध्यक्ष केंद्र के साथ प्रदेश सरकार की गलत नीतियों पर कटाक्ष किया। कहा कि तानाशाह सरकार को जनता जवाब देगी। पूर्व जिलाध्यक्ष अजय चौधरी ने किसान विधेयक को काला कानून बताते हुए किसान हितों में इसे वापस लेने की मांग की। कमरूज्जमां खां, देवेन्द्र प्रताप सिंह, अमित दुबे, अब्दुल लतीफ, बब्लू खान, काली चरन यादव, बड़कू पाण्डेय, हरी प्रकाश पाण्डेय, अजमल खान, लालजी पाण्डेय आदि कार्यकर्ता रैली में शामिल हुए। किसान नौजवान विरोधी हैं केंद्र व प्रदेश की सरकार पूर्व सपा प्रत्याशी राम कुमार चिन्कू यादव ने कहा केंद्र व प्रदेश सरकार किसान, नौजवान विरोधी हैं। पेट्रोल-डीजल के दाम आसमान पर पहुंच गए है। जबरिया किसानों पर कानून लादा जा रहा है जिससे कृषि पर अब पूंजीपतियों का अधिकार हो जाएगा। सरकार हर क्षेत्र का निजीकरण चंद उद्यमियों को लाभ पहुंचाने के लिए आतुर है ।

चिन्कू औराताल में संबोधित कर रहे थे। वे जुलूस के साथ कैथविलया रेहरा से निकले और बघमरा से औराताल चौराहे पर समर्थकों संग पहुंचे थे। डुमरियागंज- बांसी मार्ग पर पुलिस का सख्त पहरा होने से परसा चौराहे से रसूलपुर बंधे पर पहुंचे। पुलिस का चकमा देकर चिकू बाइक से तहसील पहुंच गए। पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष गरीब दास गौतम, विजय यादव, दीनेंद्र दत्त उर्फ छोटे, रामपाल वर्मा, अतीकुर्रहमान, रघुनंदन पाण्डे, अवधेश यादव, अजय यादव, अज्जू सिंह, राम जी यादव, दिलीप चौरसिया, प्रेम चंद्र, एसके मेंहदी, अनिल गौतम, तव्वाब अली शेख, ललित, पवन यादव, पप्पू पाण्डेय, शेषदत्त, शाहजहां, मो. जमाल मौजूद आदि रहे। मोतीगंज चौराहे पर विजय अग्रहरि, अफसर रिजवी आदि सपा नेताओं के घरों पर भोर से ही मुस्तैद रही जिससे वे घर में पाबंद रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.