मतदान के लिए टीकाकरण जरूरी की फैली अफवाह

भनवापुर ब्लाक के रमवापुर उर्फ नेबुआ बूथ पर मतदान के दौरान उस वक्त मामला गर्म हो गया जब लोगों ने यह आरोप लगाया कि ड्यूटी पर लगे कर्मचारी टीका नहीं लगवाने वाले मतदाताओं को वापस भेज रहे हैं। गांव में इसे लेकर तनाव का माहौल दिखा।

JagranSat, 12 Jun 2021 10:09 PM (IST)
मतदान के लिए टीकाकरण जरूरी की फैली अफवाह

सिद्धार्थनगर : भनवापुर ब्लाक के रमवापुर उर्फ नेबुआ बूथ पर मतदान के दौरान उस वक्त मामला गर्म हो गया जब लोगों ने यह आरोप लगाया कि ड्यूटी पर लगे कर्मचारी टीका नहीं लगवाने वाले मतदाताओं को वापस भेज रहे हैं। गांव में इसे लेकर तनाव का माहौल दिखा। सूचना पर एसडीएम त्रिभुवन व सीओ अजय कुमार श्रीवास्तव दलबल के साथ मौके पर पहुंचे और लोगों को आश्वस्त किया कि टीकाकरण का मतदान से कोई लेना देना नहीं। सभी मतदाता मतदान करें। अधिकारियों के समझाने पर लोग शांत हुए और मतदान में हिस्सा लिया।

पंचायत उपचुनाव की वोटिग शनिवार ब्लाक क्षेत्र के विभिन्न बूथों पर हुई। दोपहर 1:30 बजे तक सबसे कम मतदान 30 फीसद भनवापुर के नेबुआ बूथ पर हुआ। कारण कि सुबह के समय जब मतदाता केंद्र पर पहुंचे तो मतदानकर्मी उनसे टीकाकरण के लिए भी जागरूक करने लगे। अफवाह फैल गई कि जिन लोगों ने टीकाकरण नहीं कराया, उन्हें वोट देने नहीं दिया जा रहा। इसे सुनकर 45 वर्ष से उपर के तमाम मतदाता जिन्होंने टीकाकरण नहीं कराया है वह मतदान केंद्र से लौट गए। इस अफवाह की वजह से गांव में तनाव हो गया और लोगों ने बूथ पर जाने से इन्कार कर दिया। इस बात की जानकारी अधिकारियों तक पहुंची तो उनके भी हाथ- पांव फूल गए। अंतत: दोपहर बाद एसडीएम, सीओ दलबल के साथ पहुंचे। लोगों को समझाया गया कि वोट डालने के लिए टीकाकरण होना जरूरी नही है । अधिकारियों के आश्वासन पर कि केंद्र पर आपसे टीकाकरण को लेकर कोई सवाल-जवाब नहीं होगा तब दोबारा लोग वोट डालने पहुंचे। एसडीएम त्रिभुवन ने कहा कि कर्मचारी वैक्सिनेशन के लिए ग्रामीणों को जागरूक कर रहे थे, किसी ने गलत अफवाह फैलाई जिसके कारण समस्या हुई। लोगों को समझाया गया कि अफवाह में न आएं , कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए मतदान करें। बीडीओ धनंजय सिंह ने कहा कि किसी ने भ्रामक सूचना फैलाई, जिसके कारण समस्या हुई।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.