बैंक के सामने फैला कचरा, फैल रही दुर्गंध

नगर पंचायत डुमरियागंज के बैदौला चौराहे पर संचालित पंजाब नेशनल बैंक गेट के सामने कूड़े-कचरे का ढेर नगर पंचायत के स्वच्छता दावे की कलई खोल रहा है। एक पखवारे से बैंक कर्मी नगर पंचायत से साफ सफाई के लिए गुहार लगा रहे हैं लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

JagranFri, 17 Sep 2021 12:51 AM (IST)
बैंक के सामने फैला कचरा, फैल रही दुर्गंध

सिद्धार्थनगर: नगर पंचायत डुमरियागंज के बैदौला चौराहे पर संचालित पंजाब नेशनल बैंक गेट के सामने कूड़े-कचरे का ढेर नगर पंचायत के स्वच्छता दावे की कलई खोल रहा है। एक पखवारे से बैंक कर्मी नगर पंचायत से साफ सफाई के लिए गुहार लगा रहे हैं, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है। जिससे खाताधारकों को इसी कचरे में से होकर गुजरना पड़ता है। जबकि नगर पंचायत में 83 सफाई कर्मियों की तैनाती हैं। 17 वार्डों से प्रतिदिन आठ क्विंटल सूखा और तीन क्विंटल गीला कचरा निकलता है, जिसे डेढ़ किमी दूर राप्ती तट पर खुले में गिराया जाता है। डंपिग ग्राउंड के लिए भूमि चिन्हित है, लेकिन कोई निर्माण कार्य नहीं हो सका।

बैंक में सैकड़ों उपभोक्ता जमा व निकासी करने के लिए आते हैं। लेकिन गेट के सामने करीब पंद्रह दिनों से कूड़े-कचरे का ढेर फैला हुआ है जो बारिश के बाद सड़ कर दुर्गंध फैला रहा है। गेट के सामने अवैध टैक्सी स्टैंड से आवागमन में भी दिक्कत होती है। साफ-सफाई के लिए बैंक कर्मी नपं के कार्यालय से शिकायत कर चुके हैं। लेकिन कोई सुनवाई नहीं है। सफाई कर्मियों के देख रेख के लिए सुपरवाइजर भी तैनात हैं, लेकिन मुख्य चौराहे पर जब व्यवस्था ऐसी है तो मोहल्लों के गलियों की दुर्गति समझी जा सकती है। राजन कुमार, फैयाज अहमद, जुम्मन अली, लालमन, महेश चंद्र, गरिमा दुबे, शजरुन्निशा, धर्मराज, राम निवास आदि ने कहा गंदगी से बैंक आने में बड़ी दुश्वारी होती है। नपं को चाहिए को गेट के सामने फैला कूड़ा-कचरा हटवा दे। ईओ शिवकुमार ने कहा कि शिकायत मिली है, शीघ्र कचरा हटवा दिया जाएगा। नदी के किनारे डंपिग ग्राउंड बनाया गया है। पानी लगने के चलते निर्माण कार्य नहीं हो पा रहा है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.