पहले भी गायब हो चुकी है 50 डोज कोविशील्ड वैक्सीन

कोरोना जांच के लिए आए एंटीजन की तीन हजार किट गायब हो गई और विभाग को भनक तक नहीं लगी। आखिर यह कैसी निगरानी हो रही है कि विभाग में तैनात कर्मी इसे बाजारों में खुलेआम बेच रहे हैं। और स्टाक में सब कुछ चकाचक है।

JagranTue, 15 Jun 2021 10:42 PM (IST)
पहले भी गायब हो चुकी है 50 डोज कोविशील्ड वैक्सीन

सिद्धार्थनगर : कोरोना जांच के लिए आए एंटीजन की तीन हजार किट गायब हो गई और विभाग को भनक तक नहीं लगी। आखिर यह कैसी निगरानी हो रही है कि विभाग में तैनात कर्मी इसे बाजारों में खुलेआम बेच रहे हैं। और स्टाक में सब कुछ चकाचक है। बढ़नी पीएचसी से भी कोविशील्ड वैक्सीन की 50 डोज मई माह में गायब हो चुकी है, इस मामले में कोल्ड चेन प्रभारी शांति सिंह के खिलाफ 7500 रुपये रिकवरी का आदेश विभाग ने किया, पर कोई अन्य कार्रवाई नहीं हुई। इस बार संयोग ठीक रहा कि मामले की भनक प्रशासन व एसओजी टीम को लग गई। पिछले वर्ष संयुक्त जिला अस्पताल में टीबी के इलाज में प्रयोग होने वाली दवा जलाई गई थी। मामले में जांच हुई और कार्रवाई को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया।

सीएमओ डा. संदीप चौधरी ने कहा कि सभी स्टोर में उपलब्ध सामान का भौतिक सत्यापन कराया जाएगा। जांच में यदि कहीं पर स्टाक कम मिला तो संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। भंडारे का हुआ आयोजन

डुमरियागंज : ज्येष्ठ माह के बड़े मंगलवार पर नगर स्थित जिला परिषद मार्केट में बालाजी समिति की ओर से वृहद भंडारे का आयोजन किया गया। इसमें कोविड नियमों का पालन किया गया। भंडारे में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण किया।

सुबह हनुमान जी की पूजा से शुरू हुआ भंडारा देर शाम तक चलता रहा। कोरोना महामारी के चलते हुए लाकडाउन में बीते वर्ष बड़े मंगल पर कोई भी कार्यक्रम आयोजित नहीं हो सके थे। मंगलवार को कोरोना क‌र्फ्यू समाप्त होने के बाद समिति की ओर से भंडारे का आयोजन किया गया। प्रसाद ग्रहण करने वाले लोगों को शारीरिक दूरी के साथ खड़ा किया गया। मास्क पर विशेष ध्यान दिया गया। रोहित गुप्ता, राज गुप्ता, सरवन कुमार, गौतम राजवंशी, अभिषेक, राजन, शिवा, कमलेश आदि मौजूद रहे।

--

21 जून से रात नौ बजे तक खुलेंगी दुकानें

डुमरियागंज : नए निर्देश के तहत अब दुकानें 21 जून से रात्रि नौ बजे तक खुली रहेंगी। अबतक यह समय सीमा शाम सात बजे तक ही थी। अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष सुगंध अग्रहरि ने मुख्यमंत्री के इस निर्णय का स्वागत किया है। कहा कि संगठन के वरिष्ठ पदाधिकारी राष्ट्रीय मंत्री रिपन कंसल, प्रदीप अग्रवाल, जावेद, आकाश गौतम, आशिम मार्शल, अश्वनी वर्मा आदि ने इंटरनेट मीडिया के जरिये मुख्यमंत्री तक अपनी आवाज पहुंचाई। जिसे संज्ञान में लेते हुए रात्रिकालीन दुकान खोलने की समय सीमा बढ़ी है। होटल और रेस्टोरेंट भी 50 फीसदी क्षमता के साथ खुलेंगे जिससे लोगों को सहूलियत मिलेगी तथा ठप पड़ा व्यापार दोबारा शुरू हो सकेगा।

--

चहारदीवारी टूटने से पीएचसी भवन असुरक्षित

डुमरियागंज : कस्बे का पीएचसी भवन पूरी तरह असुरक्षित है क्योंकि न सिर्फ परिसर की चहारदीवारी टूटी है, बल्कि मुख्य भवन के सामने गेट तक नहीं है। सुरक्षा के दृष्टिकोण से परिसर में रहने वाले स्वास्थ्यकर्मी भी असुरक्षित हैं। साथ-साथ बेसहारा पशुओं का आवागमन बना रहता है जिससे मरीजों को दिक्कत होती है। मंजूर, सदरे आलम, तुफेल, दीपक गोंड़, राकेश आदि ने चहारदीवारी निर्माण की मांग की है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.