बीते वर्ष के अनुभव के आधार पर पूरी करें बाढ़ की तैयारी

आपदा की दशा में टीम भावना के साथ करें बाढ़ पीड़ितों की मदद तथागत सभागार में डीएम ने अधिकारियों के साथ की तैयारी बैठक

JagranSun, 20 Jun 2021 10:31 PM (IST)
बीते वर्ष के अनुभव के आधार पर पूरी करें बाढ़ की तैयारी

श्रावस्ती : कलेक्ट्रेट स्थित तथागत सभागार में संभावित बाढ़ के मद्देनजर विभागीय अधिकारियों की बैठक हुई। इसकी अध्यक्षता डीएम टीके शिबु ने की। डीएम ने कहा कि बाढ़ व अतिवृष्टि की दशा में राहत एवं बचाव कार्य के लिए सभी संबंधित अधिकारी अपनी कार्य योजना बना लें। पिछले वर्षों में आई बाढ़ के अनुभव के आधार पर तैयारी पूरी कर लें। बरसात का मौसम है। नदी का जलस्तर बढ़ा तो अचानक बाढ़ भी आ सकती है। आपदा के दौरान अधिकारी टीम भावना के साथ पीड़ितों की मदद करें।

डीएम ने कहा कि बीते वर्ष बाढ़ से प्रभावित हुए गांवों का दौरा कर ग्रामीणों से बातचीत करें। सुझाव के आधार पर राहत एवं बचाव कार्य के लिए तैयारी पूरी करें। विगत वर्षों में आई बाढ़ के दौरान कितने क्यूसेक पानी बाढ़ में आया था। इसकी जानकारी लें। इसी आंकड़े को ध्यान में रखकर जलस्तर पर नजर बनाए रखें। बांध व स्पर का मरम्मत कार्य युद्ध स्तर पर पूरा कर लें। अधिशासी अभियंता बाढ़ कार्य खंड को निर्देश दिया कि वे जिले में स्थापित सभी बांध व स्पर का बारीकी से निरीक्षण कर लें। कहीं मरम्मत की जरूरत है तो तत्काल करवा दें। संवेदनशील बांधों पर पैनी नजर रखें। एसडीएम अपने क्षेत्र में बाढ़ से प्रभावित होने वाले गांव में राहत शिविर की स्थापना कर अधिकारियों व कर्मचारियों की तैनाती कर दें। नाव व नाविक की सूची तैयार कर लें। ब्लाक व ग्राम आपदा प्रबंधन समिति का गठन कर जीवनरक्षक उपकरण, मोटरबोट की व्यवस्था कर लें। विद्युत विभाग के अभियंता बाढ़ क्षेत्र में बिजली के खंभे व तारों को मजबूत कर लें। बाढ़ आने की स्थिति में विद्युत आपूर्ति की वैकल्पिक व्यवस्था भी करें। डिप्टी सीएमओ डॉ. मुकेश मातन हेलिया को निर्देश दिया कि सभी बाढ़ चौकियों पर स्वास्थ्य टीम की व्यवस्था के साथ बरसात के दिनों में होने वाली संक्रामक बीमारियों से बचाव के लिए तैयारी रखें। बाढ़ के दौरान किसी व्यक्ति को सांप काट लेता है तो बचाव के लिए वैक्सीन समेत अन्य व्यवस्थाएं चुस्त रखी जाएं। पशुओं को चारे की कोई दिक्कत न होने पाए, इसके लिए भूसा का इंतजाम करें। एडीएम योगानंद पांडेय, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट परीक्षित खटाना, एसडीएम प्रवेंद्र कुमार, आरपी चौधरी, आशुतोष कुमार, राजेश कुमार मिश्र, तहसीलदार राजकुमार पांडेय मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.