लोगों का हुआ टीकाकरण, कोविशील्ड की दस हजार डोज मिली

कोरोना से बचाव के लिए टीका लगवाने को लोगों में उत्साह है। मंगलवार को 41 बूथों पर 4517 को वैक्सीन लगी और लक्ष्य के सापेक्ष 86.03 फीसद टीकाकरण हुआ। वहीं कोविशील्ड की दस हजार डोज भी मिल गई है। हालांकि बुधवार के लिए बूथ कम रखे गए है।

JagranPublish:Tue, 20 Jul 2021 11:11 PM (IST) Updated:Tue, 20 Jul 2021 11:11 PM (IST)
लोगों का हुआ टीकाकरण, कोविशील्ड की दस हजार डोज मिली
लोगों का हुआ टीकाकरण, कोविशील्ड की दस हजार डोज मिली

शामली, जागरण टीम। कोरोना से बचाव के लिए टीका लगवाने को लोगों में उत्साह है। मंगलवार को 41 बूथों पर 4517 को वैक्सीन लगी और लक्ष्य के सापेक्ष 86.03 फीसद टीकाकरण हुआ। वहीं, कोविशील्ड की दस हजार डोज भी मिल गई है। हालांकि बुधवार के लिए बूथ कम रखे गए है।

45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में 16 बूथ रहे और 1900 लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा था। 1661 को टीका लगा। 939 ने पहली और 722 ने दूसरी डोज लगवाई। 166 वायल खर्च हुईं और लक्ष्य के सापेक्ष 87.42 फीसद टीकाकरण हुआ। 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग में 25 बूथ रहे। लक्ष्य 3350 के टीकाकरण का था और इसके सापेक्ष 85.25 फीसद टीकाकरण हुआ। 2856 को वैक्सीन लगी। 2433 ने पहली और 423 ने दूसरी डोज लगवाई। 286 वायल खर्च हुईं।

जिला स्तरीय शीत श्रृंखला के प्रभारी अंकित कुमार ने बताया कि सहारनपुर से दस हजार डोज शामली पहुंच गई है। रविवार को 9300 डोज मिली थी। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. राजकुमार सागर ने बताया कि बुधवार के लिए 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग में 11 और 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में सात बूथ रहेंगे। ईद-उल-अजहा का त्योहार है, जिसके चलते बूथ कम रखे गए हैं। गुरुवार को बूथों की संख्या बढ़ा दी जाएगी। वैसे तो वैक्सीन लगातार ही मिल रही है। कभी-कभी कमी हो जाती है। लोगों में जागरूकता बढ़ी है और काफी बूथों पर लक्ष्य से अधिक भी टीकाकरण हो रहा है। कलस्टर के पर्याप्त वैक्सीन अभी नहीं आई है।

....

रिक्शा, बस और टेंपो चालकों की हुई कोरोना जांच

शामली, जागरण टीम।

कोरोना जांच के लिए विशेष अभियान जारी है। इसी क्रम में मंगलवार को जिले में ई-रिक्शा, टेंपो चालकों और रोडवेज बसों के चालक-परिचालकों के रैंडम सैंपल लिए गए। बुधवार को गांवों में बच्चों एवं किशोरों की जांच होगी।

कोरोना का प्रकोप जिले में काफी कम हो गया है। काफी दिनों से कोई संक्रमित नहीं मिला। लेकिन तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए कोरोना की जांच पहले की तरह हो रही है। साथ ही 16 जुलाई से विशेष अभियान भी चल रहा है। जांच के लिए कुल टीम 23 हैं और 14 टीम फिलहाल अभियान के तहत सैंपल ले रही हैं। शहर में भी अजंता चौक, विजय चौक, गुरुद्वारा तिराहा समेत विभिन्न स्थानों पर ई-रिक्शा व टेंपो चालकों की एंटिजन जांच की गई। रोडवेज बस स्टैंड पर बस चालक व परिचालकों के सैंपल लिए हैं। जिला सर्विलांस अधिकारी डा. सुशील ने बताया कि 40 से 50 फीसद सैंपल आरटी-पीसीआर जांच को भी भेजे जा रहे हैं। अब प्रतिदिन जितने सैंपल लिए जा रहे हैं, उसमें 60 फीसद सैंपल अभियान के तहत हो रही है। वहीं, कोरोना जांच के सह नोडल रोहित कुमार ने बताया कि मंगलवार को नशा मुक्ति केंद्रों में भी जांच की गई।