बारिश के दौरान कई जर्जर मकान गिरे

लगातार हुई बारिश के चलते चलते गरीब-मजदूरों के आशियानों को खतरा पैदा हो गया है। क्षेत्र में बारिश के कारण विधवा सहित नौ ग्रामीणों के मकान और दीवार भर-भराकर धराशायी हो गए।

JagranWed, 28 Jul 2021 11:28 PM (IST)
बारिश के दौरान कई जर्जर मकान गिरे

शामली, जागरण टीम। लगातार हुई बारिश के चलते चलते गरीब-मजदूरों के आशियानों को खतरा पैदा हो गया है। क्षेत्र में बारिश के कारण विधवा सहित नौ ग्रामीणों के मकान और दीवार भर-भराकर धराशायी हो गए। इसमें एक किशोरी चोटिल हो गई। पीड़ितों ने प्रशासन से मुआवजे की गुहार लगाई है।

क्षेत्र के गांव तितरवाड़ा निवासी इरफान व इमरान दोनों सगे भाई एक ही परिसर में स्थित मकानों में रहते हैं। उनके मकानों की दीवार गिर गई। मलबे की चपेट में आने से इमरान की 14 वर्षीय बेटी के पैर में चोट आई है, जिसका उपचार कराया जा रहा है। वहीं, तितरवाड़ा निवासी सालिम नामक व्यक्ति का दूसरी मंजिल पर बना मकान भर-भराकर गिर गया। इसमें परिवार के लोग बाल-बाल बच गए। वहीं, मकान गिरने की लाइव वीडियो किसी ग्रामीण ने अपने मोबाइल में कैद कर ली। यह वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है। गांव की ही रहने वाली वृद्धा शकुंतला के कच्चे मकान की छत भी गिर गई। वहीं गांव में रमेश व कृष्णपाल के मकान भी गिर गए। उधर, गांव मवी निवासी विधवा कविता के मकान की छत गिर गई। उस समय घर के अंदर महिला की 15 वर्षीय बेटी अंजली पढ़ाई कर थी, जो बाल-बाल बच गई। परिवार के अन्य सदस्य बरामदे में भरे बारिश के पानी को निकाल रहे थे। महिला के पति का वर्ष 2013 में दुर्घटना में स्वर्गवास हो गया था।

दूसरी ओर, गांव बराला निवासी मजदूर गय्यूर व सादा के मकान की छत तथा दीवार भी बारिश के कारण गिर गई। गनीमत यह रही कि परिवार के सदस्य मलबे की चपेट में आने से बच गए। वहीं, पीड़ितों ने प्रशासन से मुआवजे की गुहार लगाई है। दिव्यांग के घर की छत गिरी, बच्ची समेत दो घायल

संवाद, सूत्र, कांधला : कांधला के गांव गढ़ी दौलत में बरसात के दौरान मकान की कच्ची छत गिरने से दिव्यांग की पांच वर्षीय पुत्री व 18 वर्षीय बहन गंभीर रूप से घायल हो गई।

बारिश के दौरान क्षेत्र के गांव गढ़ी दौलत निवासी दिव्यांग इमरान के मकान की कच्ची छत बुधवार को भरभरा कर गिर गई। छत के गिरने से दिव्यांग इमरान की पांच वर्षीय पुत्री सुहाना और 18 वर्षीय बहन अफसाना गंभीर रूप से घायल हो गई। शोर-शराबा होने पर पड़ोस के लोगों ने मौके पर पहुंचकर दोनों घायलों को मलबे से निकाला और गांव के ही प्राइवेट चिकित्सक के यहां भर्ती कराया। पीड़ित दिव्यांग ने जिला अधिकारी को पत्र भेजकर मकान बनवाए जाने की मांग की है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.