कोरोना काल में रिश्ते लहूलुहान, अपराधी बोले- त्राहि माम

लाकडाउन हो या कोरोना काल जिले में अपराध पर अंकुश नहीं लग सका हालांकि अपराधिक वारदात के बाद पुलिस अपराधियों को गिरफ्तार करती रही।

JagranSun, 01 Aug 2021 10:36 PM (IST)
कोरोना काल में रिश्ते लहूलुहान, अपराधी बोले- त्राहि माम

शामली, जागरण टीम। लाकडाउन हो या कोरोना काल जिले में अपराध पर अंकुश नहीं लग सका, हालांकि अपराधिक वारदात के बाद पुलिस अपराधियों को गिरफ्तार करती रही। साल की शुरूआत से अब तक एक दर्जन हत्याएं हुई। आपसी रिश्ते भी कई बार लहूलुहान हुए है। इतना जरूर हुआ कि पुलिस की कार्रवाई से बचने के लिए शातिरों ने आत्म समर्पण कर जुर्म से तौबा भी की।

कोरोना गाइडलाइन का पालन करने के लिए लोग घरों में रहे और सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहता था, लेकिन आपराधिक प्रवृत्ति के लोगों ने इसी सन्नाटे जघन्य अपराध किए। आठ मई की रात में झिझाना के गांव डेरालाल सिंह में दो बहनों की हत्या कर दी गई। बलवा में युवक की हत्या का आरोप लगाया गया। झिझाना के गांव पुरमाफी में पति ने पत्नी की हत्या कर दी। कांधला के इस्सोपुरटील में युवक को गला घोंटकर मार दिया। इसके इतर, पुलिस ने भी अपराध पर अंकुश लगाने के लिए अपराधियों के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। इस साल में आधा दर्जन मुठभेड़ हुई, इनमें तीन कांधला और दो थानाभवन पुलिस के साथ हुई मुठभेड़ में पैर में गोली लगने पर लंगड़े हुए है। पुलिस की इस कार्रवाई के बावजूद चोरी आदि की घटनाएं भी होती रही। नशीले पदार्थो की तस्करी से जुड़े अपराधी भी अपनी करतूत से बाज नहीं आए। पुलिस ने भारी मात्रा में स्मैक, चरस, नशीली दवाईयां, कच्ची शराब की भट्ठियां पकड़ी और आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भिजवाया गया। --

चुनावी रंजिश-

वर्ष 2020 में ग्राम प्रधान, बीडीसी, जिला पंचायत के चुनाव संपन्न हुए है, हालांकि चुनाव शांति पूर्वक हुआ, कहीं पर भी कोई घटना नहीं हुई, बावजूद इसके चुनाव के बाद रंजिश के चलते झगड़े-मारपीट हुई। पुलिस ने एक दर्जन से अधिक लोगों को पकड़कर कार्रवाई की है।

-- कुल घटनाएं--कोरोना क‌र्फ्यू

हत्या-12, 7 दहेज हत्या-3, कोई नहीं

लूट-6, 4 चोरी-12, 2

महिला उत्पीड़न 8, 3 मुठभेड़ 6, 2

शराब भट्ठी-7, 2 चुनावी रंजिश-6, 4

गैंगस्टर के आत्म समर्पण-22 नशीला पदार्थ- 181 किलो चरस, एक किलो सौ ग्राम स्मैक

इन्होंने कहा-

अपराधियों पर शिकंजा कसा जा रहा है। कैराना में पुलिस के दबाव में 22 गैंगस्टर ने आत्म समर्पण कर जुर्म से तौबा की है। मुठभेड़ में डेढ़ दर्जन बदमाश पकड़े गए है। इस साल में अभी तक सौ से ज्यादा आपराधिक प्रवृत्ति के लोगों को सलाखों के पीछे भेजा जा चुका है।

-सुकीर्ति माधव, एसपी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.