शाहजहांपुर में रबी की खेती के लिए 1.14 लाख टन यूरिया की जरुरत

शासन प्रशासन रबी फसल की तैयारी में जुट गया है। मंगलवार को कृषि मंत्री सूर्यप्रताप शाही तथा अपर मुख्य सचिव देवेश चतुर्वेदी ने आनलाइन राज्यस्तरीय रबी गोष्ठी का आयोजन कर खाद बीज उपलब्धता की समीक्षा की

JagranWed, 29 Sep 2021 01:35 AM (IST)
शाहजहांपुर में रबी की खेती के लिए 1.14 लाख टन यूरिया की जरुरत

जेएनएन, शाहजहांपुर : शासन, प्रशासन रबी फसल की तैयारी में जुट गया है। मंगलवार को कृषि मंत्री सूर्यप्रताप शाही तथा अपर मुख्य सचिव देवेश चतुर्वेदी ने आनलाइन राज्यस्तरीय रबी गोष्ठी का आयोजन कर खाद, बीज उपलब्धता की समीक्षा की। जनपद से मुख्य विकास अधिकारी श्याम बहादुर सिंह, उप कृषि निदेशक धीरेंद्र सिंह ने टीम के साथ प्रतिभाग किया। इस दौरान संतुलित खाद के प्रयोग पर जोर दिया गया। प्रदेश में 41 लाख तथा शाहजहांपुर में 1.14 लाख मीट्रिक टन यूरिया समेत जनपदवार लक्ष्य पर भी चर्चा हुई। साप्ताहिक उर्वरक खपत व आवंटन समीक्षा के निर्देश

कलक्ट्रेट सभागार में वीडियो कांफ्रेसिग से जुड़े अधिकारियों को अपर मुख्य सचिव देवेंश चतुर्वेदी ने यूरिया, डीएपी समेत खाद खपत व आवंटन की साप्ताहिक समीक्षा के निर्देश दिए। तहसीलवार संतुलित उर्वरक आवंटन पर जोर

अपर मुख्य सचिव ने स्पष्ट किया कि रबी फसल की बुवाई के दृष्टिगत संतुलित रूप से तहसीलवार खाद की आपूर्ति की जाए। जनपद में 1.78 लाख एमटी उर्वरक की खपत

उप कृषि निदेशक धीरेंद्र सिंह ने बताया कि जनपद में रबी फसल के लिए 1.14 लाख मीट्रिक टन यूरिया, 47 हजार एमटी डाइ अमोनियम फास्फेट, 4500 एमटी नाइट्रोजन, फास्फोरस, पोटाश मिश्रण खाद खपत का लक्ष्य मिला है। इसी तरह सिगल सुपर फास्फेट, म्यूरेट आफ पोटाश उर्वरक लक्ष्य की जानकारी दी। बताया कि रबी सीजन में कुल 1.78 लाख मीट्रिक टन खाद की खपत होगी। बैठक में सहायक आयुक्त व निबंधक डा. गणेश गुप्ता, उप संभागीय कृषि प्रसार अधिकारी आनंद कुमार त्रिपाठी, भूमि संरक्षण अधिकारी डा. एसके द्विवेदी, जिला कृषि रक्षा अधिकारी शिव शंकर सिंह आदि मौजूद रहे।

रबी खरीफ में उर्वरक लक्ष्य व उपलब्धता

उर्वरक : लक्ष्य - उपलब्धता

यूरिया : 114000 - 12208

डीएपी : 47000 - 6000

एनपीके : 4500 - 1707

एसएसपी : 9600 - 2075

एमओपी : 3200 - 135

राज्य स्तरीय रबी गोष्ठी आयोजित कर ली गई। आज बुधवार को शाम चार बजे जिला स्तरीय बैठक बुलाई गई है। रबी फसल के लिए बफर में पर्याप्त खाद है। एक अक्टूबर से रैक से खाद की आवक शुरू हो जाएगी।

डा. सतीश चंद्र पाठक, जिला कृषि अधिकारी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.