एसीएमओ से प्रतिरक्षण का चार्ज छीना, 17 चिकित्सा प्रभारी बदले

एसीएमओ से प्रतिरक्षण का चार्ज छीना, 17 चिकित्सा प्रभारी बदले
Publish Date:Fri, 23 Oct 2020 12:38 AM (IST) Author: Jagran

जेएनएन, शाहजहांपुर : जिला टास्क फोर्स की समीक्षा बैठक में डीएम इंद्र विक्रम सिंह 111 गांव के लाभार्थियों को आयुष्मान गोल्डेन कार्ड योजना से छोड़ देने पर नाराज हुए। उन्होंने सभी सीएचसी, पीएचसी प्रभारियों को बदले जाने के साथ ही एक नवम्बर तक कार्ड वितरण के निर्देश दिए। अन्यथा की स्थिति में सभी के खिलाफ विधिक कार्रवाई की भी चेतावनी दी। इस दौरान डीएम ने प्रतिरक्षण का कार्य संतोषजनक न मिलने पर एसीएमओ लक्ष्मण सिंह की जगह नगर स्वास्थ्य अधिकारी ओपी गौतम को जिला प्रतिरक्षण अधिकारी का दायित्व सौंप दिया।

विकास भवन सभागार में आयोजित बैठक में जिलाधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह ने विशेष अभियान चलाकर गोल्डेन कार्ड बनाने के निर्देश दिए। टीकाकरण अभियान की गति को तेज करने के लिए नगर स्वास्थ्य अधिकारी को जिला प्रतिरक्षण अधिकारी का अतिरिक्त प्रभार देने के निर्देश दिए। सभी चिकित्सा प्रभारियों के स्थान पर नई उन चिकित्सकों को प्रभारी चिकित्साधिकारी का चार्ज देने को कहा जो कार्य में कुशल हो।त्रैमासिक टीकाकरण अभियान के तहत नवम्बर, 2020 से जनवरी, 2021 तक बुधवार व शनिवार को वीएचएनडी सत्रों पर आयोजित होने वाले टीकाकरण सत्रों के अतिरिक्त अभियान चलाकर टीकाकरण से वंचित बच्चों को प्रतिरक्षित किए जाने के निर्देश दिए। कहा है कि माह के 4 अतिरिक्त दिवसों सोमवार पर ऐसे स्थलों पर टीकाकरण का सत्र न हुए हो। पल्स पोलियो अभियान अथवा किसी अन्य राष्ट्रीय कार्यक्रम के कारण नियमित विशेष टीकाकरण कार्यक्रम बाधित होने की दशा में तत्काल टीकाकरण पर जोर दिया। इस दौरान उन्होंने कोविड-19 टेस्ट ट्रूनेट मशीन, एंटीजन टेस्ट, आरटीपीसीआर आदि टेस्ट की फीडबैक अच्छी होने संतोष जताया। बैठक में सीडीओ प्रेरणा शर्मा, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी शैंलेंद्र आर्य, बीएसए राकेश कुमार मौजूद रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.