नौनिहालों को विद्यालय के वातावरण से जोड़ने को जाना उपाय

राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत शनिवार को जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (डायट) से विद्यालयों को आनलाइन प्रशिक्षण दिया गया।

JagranSat, 23 Oct 2021 11:14 PM (IST)
नौनिहालों को विद्यालय के वातावरण से जोड़ने को जाना उपाय

संतकबीर नगर : परिषदीय विद्यालयों में छोटे बच्चों को स्कूल से जोड़ने का अभियान चल रहा है। नौनिहालों को स्कूल के वातावरण से जोड़ने का शिक्षकों को उपाय बताया जा रहा है। राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत शनिवार को जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (डायट) से विद्यालयों को आनलाइन प्रशिक्षण दिया गया।

दो दिवसीय प्रशिक्षण के अंतिम दिन 45 संकुल शिक्षकों को नौनिहालों को विद्यालय वातावरण से जोड़ने की जानकारी दी गई। जिससे बच्चों को आगे चलकर किसी कक्षा में परेशानी न हो। योजना के तहत कक्षा एक के बच्चों को पढ़ाने के लिए चरणबद्ध तरीके से प्रशिक्षकों ने जानकारी दी। उन्होंने बच्चों को शब्दों व अक्षर पहचानने की क्षमता, शिक्षकों से परिचय, उनके पढ़ने-लिखने की स्थिति ठीक करने का उपाय सुझाया। प्रवक्ता ओंकार नाथ मिश्र, जिला समन्वयक नवीन कुमार दूबे आदि ने प्रशिक्षण दिया। अब दूसरे चरण का प्रशिक्षण सोमवार को 12.30 बजे से चलेगा। जिसमें 40 शिक्षक प्रतिभाग करेंगे। प्राथमिक शिक्षकों ने बीएसए को दिया ज्ञापन

संतकबीर नगर : उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के पदाधिकारियों ने शनिवार को बैठक करके समस्याओं पर चर्चा किया। बीएसए को चार सूत्रीय मांग पत्र सौंपकर समस्या निराकरण की मांग की। मांगे पूरी न होने पर संगठन प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर 28 अक्टूबर को अवकाश लेकर धरना-प्रदर्शन करने की चेतावनी दी।

जिलाध्यक्ष अंबिका देवी यादव के नेतृत्व में बीएसए कार्यालय पहुंचे शिक्षकों का कहना था कि पारस्परिक स्थानांतरण में जनपद में आए शिक्षकों का वेतन बकाया है। नवनियुक्त शिक्षकों को वेतन न मिलने से समस्या है। मध्याह्न भोजन का कन्वर्जन कास्ट इस सत्र में जबसे विद्यालय खुला है उसी समय से नहीं मिल पाया है। अनुदेशक, शिक्षामित्रों, रसोइया का मानदेय का भुगतान भी नहीं हो पा रहा है। 27 अक्टूबर तक मांगे पूरी न होने पर धरना-प्रदर्शन किया जाएगा। इस मौके पर हेमंत चौधरी, संजय गुप्ता, अखिलेश चंद्र, ओमप्रकाश यादव, रामसरन यादव, केसी सिंह, शोएब अख्तर, जफीर अली, सुयेब, रामनाथ, उदय प्रताप, शिवानंद मिश्रा आदि मौजूद रहे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.