मांगों को लेकर प्रधानों ने कलेक्ट्रेट पर किया प्रदर्शन

सरकारी स्तर से मानदेय के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति की जाती है।

JagranSun, 26 Sep 2021 12:03 AM (IST)
मांगों को लेकर प्रधानों ने कलेक्ट्रेट पर किया प्रदर्शन

संतकबीर नगर: अखिल भारतीय प्रधान संघ के बैनर तले शनिवार को लगभग 36 ग्राम प्रधानों ने कलेक्ट्रेट के सामने प्रदर्शन किया। सभी ने मांगों को लेकर मुख्यमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा।

संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष जितेन्द्र चौधरी ने कहा कि प्रधानों को अनेक चुनौतियों के बीच कार्य करना पड़ता है। सरकारी स्तर से मानदेय के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति की जाती है। लोकसभा और विधानसभा के चुने गए प्रतिनिधियों को जिस तरह से अधिकार और वेतन भत्ते आदि दिए जाते हैं, उसी तरह से प्रधानों को भी मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रधानों को ग्राम पंचायत अधिकारी से कम से कम एक रुपया अधिक मानदेय के रूप में दिया जाना चाहिए। इसे लेकर सरकार ने कोई निर्णय नहीं लिया तो आंदोलन की रूपरेखा तैयार की जाएगी। प्रदर्शन के बाद सभी ने जिलाधिकारी दिव्या मित्तल को ज्ञापन दिया। इसमें प्रधानों को शस्त्र लाइसेंस दिए जाने, हर गांव में हर माह अधिकारियों की मौजूदगी में पंचायत दिवस आयोजित किए जाने आदि की मांग प्रमुख रही। इस मौके पर प्रदेश अध्यक्ष रामसेवक यादव, अखंड प्रताप सिंह, जगदीश चौधरी, अमित सिंह, सतपाल यादव, वीर बहादुर सिंह, विश्वनाथ मौर्य, रविद्र शर्मा, रविद्र सिंह, अभय सिंह, जुगानू सिंह, खेमचंद्र यादव, पंडित चौधरी, अनिल सिंह समेत अनेक प्रधान मौजूद रहे। बिजली कटौती से उपभोक्ताओं में आक्रोश

संतकबीर नगर : बीते एक माह से बिजली कटौती से नंदौर क्षेत्र के लोग परेशान हैं। शेड्यूल के अनुसार बिजली आपूर्ति नहीं होने से लोगों में आक्रोश है। मेंहदावल तहसील क्षेत्र के ग्रामीण इलाकों में लगातार कटौती किए जाने की वजह से उपभोक्ताओं को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। हालत यह है कि नंदौर फीडर के गांवों में हर दिन 12 से 14 घंटे की कटौती की जा रही है। इसके साथ ही लो वोल्टेज की समस्या अलग है।

ग्रामीण क्षेत्रों में 18 घंटे बिजली देने का शासन का निर्देश है। नंदौर क्षेत्र में शेड्यूल निर्धारित न होने से लोगों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में क्षेत्रवासियों को कभी दिनभर तो कभी रातभर बिजली कटौती की समस्या का सामना करना पड़ रहा है। अक्सर यहां पर लो वोल्टेज की भी समस्या बनी रहती है, जिससे बिजली उपकरण नहीं चल पाते। गर्मी में बिजली कटौती होने से लोगों का सुकून छिन जा रहा है। क्षेत्रवासी आए दिन कटौती से परेशान होकर हेल्पलाइन नंबरों से लेकर बिजली कंपनी के आला अफसरों को फोन पर शिकायत करते रहते हैं, लेकिन जिम्मेदारों द्वारा समस्याओं की अनदेखी कर दी जाती है। क्षेत्र के सोनू खान, मशकूर खान, हसन कमाल, अजहर, गोविद बरनवाल, धर्मेंद्र पासवान, अफजल मालिक, जुबेर अहमद, राजमन, रमेश, बलिराम, धर्मराज मौर्य आदि का कहना है कि पिछले एक माह से क्षेत्र में 12 से 14 घंटे की कटौती हो रही है। बिजली आती भी है तो लो वोल्टेज के चलते कुछ नहीं होता। इसे लेकर कई बार शिकायत की गई, लेकिन कोई सुनवाई नहीं है। अधिशासी अभियंता सरोज कुमार ने बताया कि तकनीकी खराबी के चलते नंदौर में समस्या आ रही है। जल्द ही सब कुछ ठीक हो जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.