बेसिक व माध्यमिक के 1729 विद्यालयों का डाटा अधूरा

2337 में महज 608 विद्यालयों की ही आनलाइन सूचना अपडेट

JagranMon, 14 Jun 2021 11:38 PM (IST)
बेसिक व माध्यमिक के 1729 विद्यालयों का डाटा अधूरा

संतकबीर नगर : जनपद में बेसिक व माध्यमिक के कुल 2337 पंजीकृत विद्यालय हैं। कक्षा एक से 12वीं तक के सभी विद्यालयों की सूचनाएं वेबसाइट पर आनलाइन अपलोड करनी हैं। यू-डायस प्लस पर डाटा कैप्चर फार्मेट (डीसीएफ) पर छात्रों, शिक्षकों व विद्यालय से संबंधित सूचना देने में लापरवाही बरती जा रही है। अभी तक महज 608 (कुल 26 फीसद) विद्यालय की सूचना ही अपडेट हो सकी है। 1729

(74 फीसद) विद्यालयों का डाटा अधूरा है। जून के प्रथम सप्ताह में ही सूचनाएं दर्ज करनी थी।

बीएसए ने महानिदेशक स्कूल शिक्षा एवं राज्य परियोजना निदेशक विजय किरन आनंद का पत्र प्राप्त होने के प्रधानाध्यापकों/प्रधानाचार्यों को सप्ताह भीतर कार्य पूरा करने का निर्देश दिया है। राजकीय व सहायता प्राप्त विद्यालयों में भी लापरवाही

राजकीय के 14 व परिषदीय के 1247 विद्यालय हैं। राजकीय सहायता प्राप्त 83, निजी मान्यता प्राप्त 750, कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय सात, समाज कल्याण विभाग का एक, जवाहर नवोदय विद्यालय एक, मदरसा विद्यालय 234 हैं। राजकीय व सहायता प्राप्त कुछ ही विद्यालयों की सूचना अपडेट की गई है। आनलाइन मिलेगी सूचना

शैक्षिक सूचना प्रणाली प्रभारी शिवकुमार चौधरी का कहना है कि सभी विद्यालय को यू-डायस कोड जारी किया है। वेबसाइट पर आनलाइन विद्यालय का डाटा अपडेट होने के बाद राजकीय, परिषदीय, सहायता प्राप्त, मदरसा और वित्तविहीन विद्यालयों की सूचना आनलाइन हो जाएगी। सभी विद्यालयों को आनलाइन फीडिग सप्ताह भीतर पूरा करने का निर्देश दिया गया है। विद्यालय का यूजर व पासवर्ड संबंधित ब्लाक संसाधन केंद्र (बीआरसी) से प्राप्त कर सकते हैं। इसमें लापरवाही मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।

सत्येंद्र कुमार सिंह, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी आयुष्मान कार्ड बनवाने के ग्राम प्रधान करेंगे लोगों को जागरूक

संतकबीर नगर : पांच लाख तक का इलाज मुफ्त करवाने के लिए सरकार ने सभी को आयुष्मान भारत योजना के तहत गोल्डन कार्ड उपलब्ध करवाने की योजना शुरू की। योजना का आरंभ होने के बाद से अब तक जनपद में महज 22 फीसद को ही इससे आच्छादित किया जा सका है। इस योजना को व्यापक रूप देने के लिए अब ग्राम प्रधानों को सहयोगी बनाया जाएगा।

अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा. मोहन झा ने कहा कि जनपद के सभी नवनिर्वाचित ग्राम प्रधानों को गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए लोगों को जागरूक करने के लिए जल्द ही पत्र भेजा जाएगा। जिला पंचायत राज अधिकारी से नवनिर्वाचित प्रधानों की सूची मांगी गई है। उन्होंने बताया कि जनपद में पांच लाख 27 हजार का गोल्डन कार्ड बनाने का लक्ष्य है। अभी एक लाख 10 का ही गोल्डन कार्ड बन पाया है जो लक्ष्य का 22 फीसद ही है । आयुष्मान कार्ड बनवाने की मुफ्त सुविधा सभी जिला स्तरीय अस्पतालों समेत कामन सर्विस सेंटर पर उपलब्ध है। समस्या होने पर काल सेंटर के नंबर- 1800 1800 4444 पर संपर्क करके जानकारी ली जा सकती है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.