प्रेमी व उसके दोस्त के साथ मिलकर बेटी ने रची थी हत्या की साजिश

जेएनएनबहजोई (सम्भल) प्रेमी को 10 बीघा जमीन नहीं देने और शादी से इन्कार करने पर एक बेटी ने ही अपने पिता हरपाल की हत्या की साजिश रच डाली। बेटी के इशारे पर उसके प्रेमी ने अपने दोस्त के साथ मिलकर मारपीट के बाद हरपाल की गला दबाकर हत्या की फिर शव पेड़ से लटका दिया था।

JagranWed, 28 Jul 2021 12:51 AM (IST)
प्रेमी व उसके दोस्त के साथ मिलकर बेटी ने रची थी हत्या की साजिश

जेएनएन,बहजोई: (सम्भल) प्रेमी को 10 बीघा जमीन नहीं देने और शादी से इन्कार करने पर एक बेटी ने ही अपने पिता हरपाल की हत्या की साजिश रच डाली। बेटी के इशारे पर उसके प्रेमी ने अपने दोस्त के साथ मिलकर मारपीट के बाद हरपाल की गला दबाकर हत्या की फिर शव पेड़ से लटका दिया था। घटना के बाद बेटी प्रेमी के साथ फरार हो गई थी। शक होने पर मृतक की पत्नी बेटी व उसके प्रेमी व उसके दोस्त के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। सोमवार रात पुलिस ने बेटी और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर घटना का राजफाश कर दिया। तीसरा आरोपित अभी फरार है।

एसपी चक्रेश मिश्र ने बताया कि 20 जुलाई की सुबह रजपुरा थाना क्षेत्र के गांव मुटैना में हरपाल का शव गांव के ही सत्यपाल के खेत में शहतूत के पेड़ से लटका मिला था। जिसके सिर और पैर पर चोट के निशान थे। मृतक की पत्नी राजवती की तहरीर पर उसकी बेटी प्रीति और प्रेमी धर्मेंद्र यादव पर हत्या की आशंका जताते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इसके बाद से ही मृतक की बेटी और उसका प्रेमी फरार हो गए। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी चोट के निशान स्पष्ट हुए। मृतक की पत्नी ने बताया था कि वह हर रोज गांव से खेत पर रात्रि में जाते थे और सुबह को वापस आते थे। इस मामले में पुलिस ने जांच पड़ताल करते हुए आरोपित बेटी व उसके प्रेमी को मुखबिर की सूचना पर सम्भल चौराहे से गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में धर्मेंद्र ने अपने एक दूसरे साथी गौरव को भी वारदात में शामिल बताया है, जिसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस दबिश दे रही है। प्रेमी से शादी के लिए मांगी थी 10 बीघा का जमीन

पुलिस ने पड़ताल की तो पता चला कि हरपाल की बेटी प्रीति के बदायूं जनपद के इस्लामनगर थाना क्षेत्र के गांव पतीसा के धर्मेंद्र यादव से प्रेम संबंध थे वह उससे शादी करना चाहती थी। उसने अपने पिता से शादी से पहले 10 बीघा जमीन नाम कराने की मांग की थी। जिस पर पिता ने इन्कार कर दिया था। जिसके बाद उसने पिता की हत्या का षड्यंत्र रचा और इसकी जिम्मेदारी धर्मेंद्र को दी। जिसने अपने एक साथी गौरव को साथ लेकर पहले हरपाल के साथ मारपीट की फिर गला दबाकर हत्या कर दी और बाद में शव को गमछे के फंदे से पेड़ से लटका दिया, जिससे मामला खुदकुशी प्रतीत हो। तीन बेटियां थीं, बेटा नहीं होने से मांगी जमीन

मृतक हरपाल की तीन बेटियां थी जिनमें से बड़ी बेटी की शादी पहले ही कर दी थी जबकि प्रीति की शादी कहीं दूसरी जगह करना चाह रहे थे। प्रीति अपने प्रेमी से शादी करने की जिद कर रही थी और 10 बीघा जमीन भी मांग रही थी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.