आबकारी की साठगांठ से शराब फैक्ट्री में सौ करोड़ की कर चोरी, 32 पर मुकदमा

आबकारी की साठगांठ से शराब फैक्ट्री में सौ करोड़ की कर चोरी, 32 पर मुकदमा

आबकारी विभाग की शह पर टपरी स्थित देशी शराब फैक्ट्री में टैक्स चोरी के बड़े खेल का पर्दाफाश हुआ है। इस प्रकरण में सहायक आयुक्त आबकारी प्रवर्तन मेरठ आरिफ जमील ने देहात कोतवाली में दो मुकदमे दर्ज कराए हैं।

JagranThu, 04 Mar 2021 10:54 PM (IST)

सहारनपुर, जेएनएन। आबकारी विभाग की शह पर टपरी स्थित देशी शराब फैक्ट्री में टैक्स चोरी के बड़े खेल का पर्दाफाश हुआ है। इस प्रकरण में सहायक आयुक्त आबकारी प्रवर्तन मेरठ आरिफ जमील ने देहात कोतवाली में दो मुकदमे दर्ज कराए हैं। दोनों में कापरेटिव कंपनी लिमिटेड के मालिक प्रणव अनेजा समेत 16-16 लोगों को नामजद किया गया है। एफआइआर में कहा गया है कि प्रणव अनेजा अपनी कंपनी के सेल्स हेड, असिस्टेंट एक्साइज कमिश्नर आबकारी प्रवर्तन जगराम और आबकारी निरीक्षक अरविद कुमार के साथ मिलकर टैक्स चोरी कर रहे थे। एक साल में लगभग 100 करोड़ की टैक्स चोरी का आकलन है। नामजद अभियुक्तों में आठ लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

ऐसे करते थे टैक्स चोरी

आरोपित जब भी दूसरे जिलों में शराब भेजते थे तो वह एक गेट पास और एक बिल पर दो गाड़ियों को निकालते थे। यह गाड़ियां उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले के बड़े शराब ठेकेदार अजय जायसवाल, कानपुर, संभल, बदायूं आदि जिलों में भेजी जाती थी। कंपनी के डुप्लीकेट बार कोड को भी एक साफ्टवेयर से डाउनलोड कर शराब की पेटियों पर चिपका दिया जाता था, ताकि यह न लगे कि एक बिल पर दो गाड़ियों को निकाला गया है।

---

दर्ज हुए दो मुकदमे

सहायक आयुक्त आबकारी प्रवर्तन मेरठ आरिफ जमील की तरफ से टैक्स चोरी के दो मुकदमे दर्ज कराए गए हैं। एफआइआर नंबर 97 व 98 में प्रदीप कुमार निवासी खानपुर मंसूरपुर मुजफ्फरनगर, उपेंद्र गोविद राव महुअवा रामकोला कुशीनगर, गुलेशर पड़ौली नागल, मांगेराम त्यागी, चुड़ियाला भगवानपुर हरिद्वार, जयभगवान विवेक विहार सहारनपुर, अरविद कुमार वर्मा आबकारी निरीक्षक प्रवर्तन सहारनपुर, संजय कुमार शर्मा सिविल अस्पताल सहारनपुर, हरिशरण तिवारी गांव दुबौली पोस्ट मीर देवरिया, अजय जयसवाल निवासी उन्नाव शराब ठेकेदार, सत्यभान शर्मा ट्रांसपोर्टर निवासी गुरुद्वारा रोड सहारनपुर, अश्वनी उपाध्याय सेल्स हेड कंपनी, प्रणव अनेजा कंपनी मालिक, सोमशेखर प्रभारी बीपी आप्रेशन वाइस प्रेसीडेंट कंपनी, वीरेंद्र शखधर कंपनी एचआर, अशोक कुमार कंपनी चपरासी, कमल डेनियल वाइस प्रेसिडेंट टेक्निकल कंपनी को नामजद किया गया है। एफआइआर 97 में धोखाधड़ी, सरकारी कागजों में हेराफेरी आदि की धाराएं लगाई गई हैं। वहीं 98 में केवल 60 आबकारी अधिनियम की धारा लगाई गई है, यानि अवैध तरीके से शराब बेचना। एफआइआर में असिस्टेंट एक्साइज कमिश्नर प्रवर्तन जगराम के बारे में कहा गया है कि बिल पर उनके भी हस्ताक्षर होते थे।

--------

एसटीएफ के द्वारा कापरेटिव कंपनी लिमिटेड में जो टैक्स चोरी पकड़ी गई थी उस मामले में सहायक आयुक्त आबकारी प्रवर्तन मेरठ की तरफ से मुकदमा दर्ज करा दिया गया है। जिसमें कुछ लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। नामजदगी में कुछ आबकारी अधिकारी भी शामिल है।

-राजेश कुमार, कार्यवाहक एसएसपी-एसपी सिटी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.