जानलेवा हमले के मामले में एक माह बाद भी पुलिस खाली हाथ

जानलेवा हमले के मामले में एक माह बाद भी पुलिस खाली हाथ

देवबंद क्षेत्र में युवकों पर हुए जानलेवा हमले के दौरान पुलिस को मिली 3

Publish Date:Sat, 23 Jan 2021 08:36 PM (IST) Author: Jagran

सहारनपुर, जेएनएन। देवबंद क्षेत्र में युवकों पर हुए जानलेवा हमले के दौरान पुलिस को मिली 38 बोर पिस्टल की मैगजीन के मामले में पुलिस की जांच पहेली बनी हुई है। एक माह बाद भी पुलिस आज तक भी एक भी आरोपित को गिरफ्तार नहीं कर पाई।

विगत एक माह पूर्व नगर की जनता कालोनी निवासी रवि राणा और सूर्या राणा पर रणखंडी रेलवे फाटक के समीप कार सवार युवकों ने जानलेवा हमला किया था। धक्का-मुक्की के दौरान आरोपितों के पिस्टल की मैगजीन जमीन पर गिर गई थी। जिसके बाद आरोपित फरार हो गए थे। हालांकि पुलिस में सूर्य राणा की तहरीर पर मिरगपुर गांव निवासी सुमित उर्फ चित्रांश, अमित, अंकित समेत पांच लोगों के खिलाफ संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज किया था, लेकिन घटना के एक माह बाद भी पुलिस एक भी आरोपित को गिरफ्तार नहीं कर पाई है। पीड़ित पक्ष के लोगों का कहना है आरोपित पक्ष लगातार उन्हें धमकी दे रहा है। उधर, प्रभारी निरीक्षक अशोक सोलंकी ने बताया हमलावर आरोपितों की तलाश में पुलिस की टीमें दबिश दे रही है। जल्दी सभी आरोपित गिरफ्तार कर लिए जाएंगे। एसपी देहात अमित शर्मा ने बताया मैगजीन के मामले में कोतवाली पुलिस से जानकारी जुटाई जा रही है। आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा।

बिजोपुरा में एक ही रात में तीन जगह चोरी

सड़क दूधली में थाना कोतवाली देहात के गांव बिजोपुरा में चोरों ने तीन जगह चोरी की घटना को अंजाम दिया। चोर दो ट्यूबवेल से बिजली के मोटर जबकि एक कारखाने से इनवर्टर की बैट्रियां चोरी कर ले गए।

शुक्रवार रात चोरों ने बिजोपुरा निवासी मुनव्वर पुत्र जमील के मिर्च मसाले के कारखाने का दरवाजा तोड़कर इनवर्टर, ट्रैक्टर की बैट्री, चावल व मिर्च मसाले तक चोरी कर ले गए। इसके अलावा चोरों ने किसान जाकिर पुत्र इकबाल व असलम पुत्र हनीफ के ट्यूबवेल के बेसमेंट में रखे बिजली के मोटर चोरी कर लिए, जबकि बृजमोहन के घर के कमरे की दीवार तोड़कर इंजन चोरी करने का प्रयास किया। एक ही रात में तीन जगह चोरी होने से ग्रामीणों में रोष है। ग्रामीणों के अनुसार करीब एक माह पूर्व चोर एक ट्रैक्टर की ट्राली से पहियों का जोड़ा खोल ले गए थे, जिसका पुलिस आजतक राजफाश नहीं कर सकी। चोरी की तहरीर थाना पुलिस को दे दी गई है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.