कोतवाली पुलिस ने अवैध खनिज लदी चार ट्रैक्टर-ट्राली पकड़ी, चालक फरार

बेहट में यमुना नदी से अवैध रूप से खनन व परिवहन के चल रहे धंधे पर रोक लगने का नाम नहीं ले रही है। रात के अंधेरे में मुख्य मार्ग से तो अवैध परिवहन हो रहा है। यह समस्या ज्यादातर देहात के मार्गो पर हो रही है।

JagranPublish:Sun, 28 Nov 2021 08:22 PM (IST) Updated:Sun, 28 Nov 2021 08:22 PM (IST)
कोतवाली पुलिस ने अवैध खनिज लदी चार ट्रैक्टर-ट्राली पकड़ी, चालक फरार
कोतवाली पुलिस ने अवैध खनिज लदी चार ट्रैक्टर-ट्राली पकड़ी, चालक फरार

सहारनपुर, जेएनएन। बेहट में यमुना नदी से अवैध रूप से खनन व परिवहन के चल रहे धंधे पर रोक लगने का नाम नहीं ले रही है। रात के अंधेरे में मुख्य मार्ग से तो अवैध परिवहन हो रहा है। यह समस्या ज्यादातर देहात के मार्गो पर हो रही है।

नवागत इंस्पेक्टर बृजेश कुमार पाण्डेय ने धरपकड़ की शुरू कर दी है। शनिवार की रात उसंड़ से हरिपुर गांव के बीच पुलिस ने अवैध खनिज लदी चार ट्रैक्टर-ट्राली रोकी तो चालक उन्हें छोड़कर फरार हो गए। गौरतलब है कि यमुना नदी से अवैध खनन व परिवहन के चलते सरकार को हर दिन लाखों का चूना लग रहा है। क्षेत्र में यह धंधा दिन में छिटपुट तो रात को धड़ल्ले से चलता है। खास बात तो यह है कि ट्रैक्टर-ट्रालियों में तो खनिज ढोया ही नहीं जा सकता, लेकिन रातभर उसंड मार्ग से हरिपुर की ओर होते हुए अवैध खनिज लदी ट्रैक्टर-ट्रालियां बिना रायल्टी भुगतान किए सहारनपुर की ओर निकल जाती है। शनिवार की रात हरिपुर के पास से चार ट्रैक्टर-ट्रालियां खनिज की आती हुई पकड़ी गई है। लेकिन पुलिस किसी का एक भी चालक नहीं पकड़ पाई। पुलिस ने चारों ट्रैक्टर-ट्रालियों को सीज कर दिया है।

भगवाधारी से मारपीट का मामला, सीओ ने दिए जांच के आदेश

नकुड़: नगर में पुलिस की दबंगता वायरल वीडियो में उजागर हो रही है, जहां किसी मामले को लेकर एक दारोगा एक भगवाधारी वद्ध को भद्दी गालियां देकर उसके साथ मारपीट कर रहा है। मामला संज्ञान में आने पर सीओ ने जांच के आदेश दिए हैं।

वायरल हो रही वीडियो में नकुड़ के मोहल्ला चौधरीयान से जुडे किसी मामले को लेकर पुलिस एक साधू के पास जाती है। पुलिस टीम में दो दरोगा शामिल हैं, जिनमें से एक दरोगा आपा खोकर भगवाधारी वृद्ध को भद्दी गालियां देकर उसके साथ मारपीट कर रहा है। जबकि दूसरा दरोगा उसे समझाने की कोशिश भी करता है, परंतु दारोगा कुछ समझ नहीं आ रहा।

उधर, सीओ अरविद पुंडीर ने बताया कि मामला करीब तीन दिन पुराना है जिसमें समझौता हो चुका है। इसी को लेकर कस्बा इंचार्ज अनिल तोमर व मुकेश तोमर एक भगवाधारी के पास गए थे, जहां दरोगा मुकेश तोमर की भगवाधारी से मारपीट व अभद्र गाली गलौच की वीडियो वायरल हुई है। मामले की जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी।