top menutop menutop menu

श्री राममंदिर निर्माण से भारत बनेगा विश्व गुरु

श्री राममंदिर निर्माण से भारत बनेगा विश्व गुरु
Publish Date:Tue, 04 Aug 2020 11:00 PM (IST) Author: Jagran

सहारनपुर, जेएनएन। अयोध्या में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा भव्य आयेाजन में बुधवार को श्री राम मंदिर का शिलान्यास किया जाएगा। जिले में राममंदिर आंदोलन से जुड़े प्रबुद्धजनों ने बताया कि देश में इतिहास में राम मंदिर का शिलान्यास अविस्मरणीय समय होगा। पूरे विश्व में भारत विश्व गुरु बनकर उभरेगा। पूरे हिदू समाज के लिए यह गर्व का दिन होगा।

श्री राममंदिर आंदोलन से जुड़े हिदू संगठनों और भाजपा नेताओं ने पुराने दिनों की याद ताजा की। उनकी बातों में आज भी वही दमखम और जोश नजर आया जो तीस वर्ष पहले आंदोलन के दौरान था। आंदोलन की हर उस घटना का उन्होंने उल्लेख किया कि किस प्रकार आंदोलन को कुचलने का प्रयास किया गया था लेकिन रामभक्तों ने हार नहीं मानी। पुलिस की लाठी खाई, जेल गए लेकिन अपने संकल्प से पीछे नहीं हटे।

श्री राम सेवक समिति के संयोजक रहे राजेंद्र अटल बताते हैं कि राममंदिर आंदोलन में उन्होंने परिवार सहित सक्रिय भागीदारी की थी। उनका कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा राममंदिर का शिलान्यास पूरे विश्व के लिए अखंड हिदुस्तान की नींव डालेगा। भारत पूरी दुनिया में विश्व गुरु बनकर सामने आयेगा। दुनिया का हर देश भारत की विद्वता का लोहा मानेगा।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के महानगर सह संचालक अशोक चावला ने बताया कि राममंदिर आंदोलन को तीस वर्ष पहले आंदोलन की जो भी योजनाएं तैयार होती थी उनका क्रियान्वयन हर आंदोलनकारी अपना कर्तव्य मानकर शिरोधार्य करता था। बुधवार को अयोध्या में श्री राममंदिर के शिलान्यास के मौके पर दोपहर में घरों और मंदिरों में पूजा-अर्चना होगी। शाम को घरों और प्रतिष्ठानों पर दीयों से रोशनी की जायेगी।

भाजपा नेता और पूर्व विधायक लाजकृष्ण गांधी ने बताया कि राममंदिर का आंदोलन ऐतिहासिक था। आंदोलन में शामिल हर व्यक्ति की यह भावना थी कि देश में राम मंदिर का निर्माण हो। आज वह सुनहरा पल आ गया है। अयोध्या में श्री राममंदिर का शिलान्यास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किया जायेगा। राम मंदिर निर्माण से दुनिया में भारत का पुराना गौरव फिर से स्थापित होगा।

भाजपा नेता दिनेश सेठी बताते हैं कि राममंदिर आंदोलन में भागीदारी करने वाले हर व्यक्ति का एक ही लक्ष्य था कि अयोध्या में श्रीराम का भव्य मंदिर बने। हमारा सौभाग्य है कि आज वह दिन आ गया है। मंदिर निर्माण से देश मे एक नए युग का सूत्रपात होगा और देश के मौजूद सभी संकट और चुनौतियों पर हमें विजय मिलेगी।

-विश्व हिदू परिषद के महानगर अध्यक्ष शिव कुमार गौड़ ने बताया कि श्री राम मंदिर के शिलान्यास के मौके पर महानगर में 1.80 लाख दिये जलाए जाएंगे। घरों और मंदिरों में सुंदरकांड पाठ और हनुमान चालीसा पाठ का आयोजन होगा। चौराहों को दीपमालाओं से सजाया जायेगा। बुधवार का देश के लिए ऐतिहासिक होगा। राम मंदिर निर्माण में शामिल रहे हर आंदोलनकारी का परिवार स्वयं को सौभाग्यशाली मान रहा है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.