यूपीटीईटी स्थगित होने से अभ्यर्थियों में मायूसी

कई जिलों में यूपीटीईटी का पेपर सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पेपर को स्थगित कर दिया गया। जिले के 34 केंद्रों पर सुबह 10 बजे प्रथम पाली में प्राथमिक स्तर की परीक्षा शुरू हो चुकी थी। परीक्षा शुरू होने के कुछ देर बाद ही जिला प्रशासन को पेपर के स्थगित होने की सूचना मिली।

JagranSun, 28 Nov 2021 09:38 PM (IST)
यूपीटीईटी स्थगित होने से अभ्यर्थियों में मायूसी

सहारनपुर, जेएनएन। कई जिलों में यूपीटीईटी का पेपर सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पेपर को स्थगित कर दिया गया। जिले के 34 केंद्रों पर सुबह 10 बजे प्रथम पाली में प्राथमिक स्तर की परीक्षा शुरू हो चुकी थी। परीक्षा शुरू होने के कुछ देर बाद ही जिला प्रशासन को पेपर के स्थगित होने की सूचना मिली। इसके बाद आनन-फानन में सभी केंद्रों नियुक्त स्टेटिक मजिस्ट्रेट व पर्यवेक्षकों को पेपर स्थगित करने के निर्देश दिए गए। सुबह करीब 11 बजे तक केंद्रों पर अभ्यर्थियों को दिए गए पेपर व ओएमआर शीट वापिस ली गई। पेपर स्थगित होने से अभ्यर्थियों में खासा आक्रोश था। परीक्षा को लेकर कई माह से की जा रही उनकी मेहनत पर पानी फिर गया।

रविवार को परीक्षा नियामक प्राधिकारी द्वारा उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए महानगर में 34 केंद्र बनाए गए थे। सुबह 10 बजे से दोपहर 12.30 बजे तक प्राथमिक स्तर की प्रथम पाली में हुई परीक्षा के लिए सुबह से केंद्रों पर अभ्यर्थियों का स्वजनों के साथ पहुंचना शुरू हो गया था। परीक्षा केंद्रों के गेट पर अभ्यर्थियों के प्रवेश पत्र के साथ ही उनके शैक्षिक प्रमाणपत्र और फोटो लगी मूल आइडी की जांच के बाद प्रवेश दिया गया। केंद्र व्यवस्थापकों को सुबह 10 मिनट की देरी तक अभ्यर्थियों को प्रवेश देने के निर्देश पहले ही दे दिए गए थे। सभी केंद्रों पर परीक्षा शुरू होने के करीब 25 मिनट बाद परीक्षा स्थगित होने की विभागीय सूचनाएं पहुंचने लगी थी। निर्देशों में बताया गया था कि शासन की ओर से पेपर को अपरिहार्य कारणों के चलते स्थगित कर दिया गया है, इसलिए अभ्यर्थियों को दिए गए प्रश्नपत्र और ओएमआर शीट वापस ले ली जाए। इसके बाद सभी केंद्रों पर अभ्यर्थियों से प्रश्नपत्र और ओएमआर शीट, कक्ष निरीक्षकों ने वापिस लेनी शुरू कर दी। अभ्यर्थियों को बताया गया कि शासन द्वारा पेपर स्थगित कर दिया गया है। एकाएक प्रश्नपत्र व ओएमआर शीट वापिस लेने फैसले से अभ्यर्थी हैरत में रह गए। केंद्रों से उदास मन से बाहर निकले अभ्यर्थियों के चेहरे पर मायूसी साफ झलक रही थी। कई अभ्यर्थियों ने सरकार की परीक्षा के लिए की गई व्यवस्था को जमकर कोसा।

परीक्षा केंद्र व आवंटित अभ्यर्थी

प्राथमिक स्तर की प्रथम पाली: 18550

महानगर में बनाए परीक्षा केंद्र: 34

उच्च प्राथमिक की द्वितीय पाली: 13545

महानगर में बनाए परीक्षा केंद्र: 24

इन्होंने कहा

प्रथम पाली की परीक्षा शुरू होने के कुछ देर बाद ही जिला प्रशासन को पेपर को स्थगित किए जाने के निर्देश मिले थे। जिलाधिकारी अखिलेश सिंह के निर्देश के बाद सभी परीक्षा केंद्रों को परीक्षा स्थगित करने के निर्देश दिए गए। एक माह के भीतर यह परीक्षा दोबारा कराई जाएगी। इसके लिए अभ्यर्थियों से कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा।

-रविदत्त, जिला विद्यालय निरीक्षक।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.