स्मार्ट सिटी की बैठक में 22 परियोजनाओं को मंजूरी

स्मार्ट सिटी के चेयरमैन व मंडलायुक्त लोकेश एम की अध्यक्षता में हुई स्मार्ट सिटी बोर्ड आफ डायरेक्टर्स की बैठक में स्मार्ट सिटी की 22 परियोजनाओं को मंजूरी दी गई। चेयरमैन ने कार्यदायी संस्थाओं को निर्देशित किया कि कार्यों की गुणवत्ता से कोई समझौता नहीं किया जायेगा। निरीक्षण के दौरान किसी कार्य में कोई खामी नहीं मिलनी चाहिए।

JagranMon, 29 Nov 2021 09:53 PM (IST)
स्मार्ट सिटी की बैठक में 22 परियोजनाओं को मंजूरी

सहारनपुर, जेएनएन। स्मार्ट सिटी के चेयरमैन व मंडलायुक्त लोकेश एम की अध्यक्षता में हुई स्मार्ट सिटी बोर्ड आफ डायरेक्टर्स की बैठक में स्मार्ट सिटी की 22 परियोजनाओं को मंजूरी दी गई। चेयरमैन ने कार्यदायी संस्थाओं को निर्देशित किया कि कार्यों की गुणवत्ता से कोई समझौता नहीं किया जायेगा। निरीक्षण के दौरान किसी कार्य में कोई खामी नहीं मिलनी चाहिए।

सोमवार को सर्किट हाउस में हुई स्मार्ट सिटी बोर्ड आफ डायरेक्टर्स की बैठक में जिन 22 परियोजनाओं को मंजूरी दी गई, इनमें जुबली पार्क में मल्टीलेविल कारपार्किंग, एबीडी एरिया के दस चौराहों पर अंडर ग्राउंड केबलिग कार्य, जीपीओ रोड व मेला गुघाल एरिया में अंडर ग्राउंड इलेक्ट्रिक केबलिग, खाताखेड़ी में कमर्शियल कांप्लेक्स का निर्माण, जनमंच के निकट हैल्थकेयर सेंटर का निर्माण, मेला गुघाल का सौंदर्यीकरण, दिल्ली रोड एंट्री पर स्वागत द्वार का निर्माण, एबीडी एरिया के अंतर्गत मातागढ़, किशनपुरा, जाटव नगर आदि का विकास, ढमोला नदी के किनारे सड़क का चौड़ीकरण व पुल का निर्माण, जनमंच में मल्टीलेवल ग्रीन पार्किंग प्लाजा का निर्माण, डा. आंबेडकर स्टेडियम का सुंदरीकरण व मल्टीपरप•ा हाल, स्मार्ट जिम, जूडो हाल, फिटनेस व वेटिग व स्टेडियम के मेनगेट आदि का निर्माण, अंबाला रोड बस स्टैंड पर कमर्शियल कांपलेक्स कम पार्किंग का निर्माण, सरकारी भवनों पर रेन वाटर हार्वेस्टिग कार्य तथा सोलर पार्क आदि की परियोजनाएं शामिल र्ह।

बैठक में यूपीपीसीएल के विकास त्यागी ने ग्रीन पार्क प्लाजा परियोजना विस्तार से प्रस्तुत की। मंडलायुक्त ने स्टेडियम के सभी प्रोजेक्ट पर जानकारी लेने के बाद कुछ सुझाव के साथ स्वीकृति दी। उन्होंने कहा जूड़ो हाल इंटरनेशल स्तर का होना चाहिए, ताकि भविष्य में यहां इंटरनेशल प्रतियोगिताएं आयोजित कराई जा सके। स्टेडियम से लगे निगम के सैग्रीगेशन केंद्र को तोड़कर एक स्मार्ट हेल्थकेयर सेंटर बनाने के प्रोजेक्ट को भी हरी झंडी दी गई। उन्होंने कार्यदायी संस्था से कहा कि इसे इस तरह डिजाइन किया जाए कि इसमें किडनी डायलेसिस सेंटर, पैथालोजी लैब व ब्लड बैंक आदि बनाया जा सके। नगर आयुक्त ज्ञानेंद्र सिंह ने भी कार्यदायी संस्थाओं को प्रवेश द्वारों, खाताखेड़ी के कमर्शियल कांप्लेक्स आदि पर कई सुझाव दिए।

बैठक में जिलाधिकारी अखिलेश सिंह, अपर नगर आयुक्त राजेश यादव, अधीक्षण अभियंता अमरेंद्र गौतम, कंपनी सचिव शंकर तायल के अलावा विभिन्न विभागों व कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारी मौजूद रहे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.