अपनी बचत को सही योजनाओं में निवेश कर आर्थिक स्थिति मजबूत करें महिलाएं

अपनी बचत को सही योजनाओं में निवेश कर आर्थिक स्थिति मजबूत करें महिलाएं

रामपुर मशन शक्ति के अंतर्गत शुक्रवार को रजा स्नातकोत्तर महाविद्यालय में वेबिनार का आयोजन किया गया।

Publish Date:Fri, 04 Dec 2020 11:16 PM (IST) Author: Jagran

रामपुर : मिशन शक्ति के अंतर्गत शुक्रवार को रजा स्नातकोत्तर महाविद्यालय में वेबिनार का आयोजन किया गया। इसमें महिलाओं की वर्तमान स्थिति पर चर्चा की गई। महाविद्यालय के प्राचार्य डा. पीके वाष्र्णेय ने बताया कि सरकार का मिशन शक्ति अभियान शारदीय नवरात्र से आरंभ होकर ग्रीष्म नवरात्र तक आयोजित होगा, जिसके अंतर्गत विभिन्न विषयों पर अनेक कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। इसका उद्देश्य समाज में महिलाओं तथा बालिकाओं के प्रति साफ सुथरा वातावरण करना है। कार्यक्रम का परिचय एवं रूपरेखा उर्दू विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डा. सैयद मोहम्मद अरशद रिजवी द्वारा प्रस्तुत की गई। कार्यक्रम का शुभारंभ तथा कार्यक्रम की उद्घोषणा रसायन विज्ञान के एसोसिएट प्रोफेसर डा. सहदेव द्वारा की गई। उन्होंने कहा कि आर्थिक विकास के बाद भी समाज में महिलाएं आर्थिक ²ष्टि से कमजोर हैं, जबकि समाज में आधी आबादी उन्हीं की है। विकास और तकनीक के इस युग में महिलाएं अब भी पीछे हैं। उन पर अत्याचार की घटनाएं बढ़ रही हैं। वेबिनार के मुख्य वक्ता राजकीय महाविद्यालय शेरकोट बिजनौर के प्राचार्य डा. जीत सिंह ने कहा कि महिलाओं और बालिकाओं की प्रत्येक क्षेत्र में बड़ी भागीदारी है। महिलाएं अपनी बचत को सरकार की विभिन्न संचालित योजनाएं जैसे पीपीएफ, एनएससी, कृषि भूमि, रियल स्टेट, म्युचल फंड, सुकन्या समृद्धि खाता, गोल्ड आदि में निवेश कर आर्थिक स्थिति को सु²ढ़ कर सकती हैं। वेबिनार के समापन पर वाणिज्य विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डा. एमपीएस यादव ने सभी का धन्यवाद दिया। इस अवसर पर समस्त प्राध्यापक, प्राध्यापिकाएं और छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे। कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान के द्वारा किया गया। इस कार्यक्रम की रिपोर्ट संप्रेषणकर्ता अर्थशास्त्र के एसोसिएट प्रोफेसर डा. ललित कुमार द्वारा की गई।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.