फ्लाप हो चुकी है भाजपा की सरकार: ग्रीश

फ्लाप हो चुकी है भाजपा की सरकार: ग्रीश

रामपुर बहुजन समाज पार्टी की सोमवार को सिविल लाइंस में हुई बैठक में पश्चिमी उत्तर प्रदेश व उत्तराखंड के प्रभारी व सांसद लोकसभा ग्रीश चंद्र जाटव ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी देश प्रदेश में पूर्ण रूप से फ्लाप हो चुकी है।

Publish Date:Mon, 30 Nov 2020 11:14 PM (IST) Author: Jagran

रामपुर : बहुजन समाज पार्टी की सोमवार को सिविल लाइंस में हुई बैठक में पश्चिमी उत्तर प्रदेश व उत्तराखंड के प्रभारी व सांसद लोकसभा ग्रीश चंद्र जाटव ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी देश, प्रदेश में पूर्ण रूप से फ्लाप हो चुकी है। जनजीवन अस्त व्यस्त हो चुका है। गरीब जनता का उनके मौलिक अधिकारों के साथ प्रत्येक स्तर पर शोषण किया जा रहा है। जीएसटी, नोटबंदी से देश की अर्थव्यवस्था मोदी जी पहले ही ध्वस्त कर चुके हैं। युवाओं के भविष्य के साथ उनके जीवन के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। कोई सरकारी भर्ती नहीं निकल रही है। बड़े-बड़े सरकारी विभागों का निजीकरण किया जा रहा है। कर्मचारियों की छंटनी कर उनके भविष्य को अंधकारमय किया जा रहा है। एमए, बीएड युवाओं को मजदूरी भी मयस्सर नहीं हो पा रही है। अपहरण, दुष्कर्म की घटनाएं आम हैं। खासकर भाजपा सरकार में दलितों, गरीब बहन, बेटियों की इज्जत महफूज नहीं है। भ्रष्टाचार चरम पर है। संविधान के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। दिनदहाड़े डकैती, लूटमार की जा रही है। जनता समतामूलक समाज की स्थापना करने वाली, सर्व समाज को सम्मान देने वाली पूर्व मुख्यमंत्री बहन मायावती को याद कर रही है।

मुख्य सेक्टर प्रभारी रणविजय सिंह ने कहा कि भाजपा किसान विरोधी सरकार है। भारत एक कृषि प्रधान देश है। किसान देश का अन्नदाता है। उनके हितों के खिलाफ अध्यादेश जारी कर यह साबित हो गया है कि भाजपा के राज में किसी का भला होने वाला नहीं है। यह केवल झूठे वादे कर जनता को गुमराह कर रहे हैं, लेकिन जनता अब गुमराह होने वाली नहीं है।

जिलाध्यक्ष सुरेंद्र सागर ने कहा कि जिला पंचायत के चुनाव नजदीक हैं, कार्यकता अभी से चुनाव की तैयारियों में जुट जाएं। भाजपा से जनता त्रस्त हो चुकी है। आने वाला समय बसपा का है।

इस मौके पर सेक्टर प्रभारी राजेश प्रकाश सैनी, हबीबुल रहमान, मोहन, प्रमोद निरंकारी, स्वरूप सैनी, गुलनवाज अहमद, अरशद अली, रिजवान अली, शफीक अंसारी तेजपाल सिंह, बाबूराम सागर, अशोक सागर, तेजपाल सिंह सागर आदि मौजूद रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.