महिलाओं पर किया अत्याचार पुलिस ने 234 को किया गिरफ्तार

महिलाओं पर किया अत्याचार पुलिस ने 234 को किया गिरफ्तार
Publish Date:Fri, 30 Oct 2020 12:49 AM (IST) Author: Jagran

रायबरेली : मनचलों, शोहदों के लिए नवरात्र के नौ दिन खासा मुश्किल भरे रहे। जब शिकायत मिली, पुलिस दौड़ पड़ी। ऐसे में चौक-चौराहों पर बेटियों को राहत मिली, लेकिन दारू पीकर बीवी को पीटे जाने के मामलों की भरमार है। पुलिस आरोपितों को तलब कर आवश्यक कार्रवाई कर रही है।

मिशन शक्ति के तहत 17 से 26 अक्टूबर के बीच पुलिस को 877 शिकायतें प्राप्त हुईं। इनमें 672 का निस्तारण करा दिया गया। 126 अभियोग पंजीकृत किए गए। 333 आपराधिक प्रवृत्ति के लोग चिन्हित किए गए। 234 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। 93 शिकायतों का निस्तारण शेष बचा है। महिला हेल्प डेस्क की बात करें तो शहर कोतवाली में 34 प्रकरण आए। इसमें जमीन संबंधी विवादों को छोड़ दें तो सबसे ज्यादा प्रकरण दारू पीकर बीवी को पीटने के रहे। ऐसे पतियों को कोतवाली बुलाकर समझाया गया, चेतावनी दी गई। इसका असर ये रहा है कि पूर्व में आईं शिकायतकर्ताओं को दोबारा थाने नहीं आना पड़ा।

कॉलेज खुलें तो पिक बॉक्स में आएं शिकायतें

स्कूल, कॉलेज और चौराहों, तिराहों के आसपास 112 स्थानों पर पिक बॉक्स लगाए गए हैं। इनमें शिकायती पत्र अभी नाम मात्र आ रहे हैं। महिला एसओ संतोष कुमारी ने बताया कि स्कूल, कॉलेज खुलने पर पिक बॉक्स का उपयोग बढ़ेगा। हमारे संग एंटी रोमियो टीम इन शिकायतों पर त्वरित एक्शन लेगी। आधी आबादी को मिली सहूलियत

थानों में महिला हेल्प डेस्क खुलने से आधी आबादी को काफी सहूलियत मिल रही है। पहले अपनी समस्या किसी पुरुष पुलिस अफसर को बताने में झिझक होती थी। अब तो महिला कर्मी ही उनकी समस्याएं सुनकर निस्तारण के लिए संबंधित अधिकारी को प्रेषित करती हैं। वर्जन,

नवरात्र में मिशन शक्ति अभियान का बेहतर ढंग से संचालन किया गया। महिला अपराध से जुड़े अपराधियों के चिन्हांकन, निगरानी और गिरफ्तारी के लिए विशेष दिशा-निर्देश पहले ही दिए जा चुके हैं।

श्लोक कुमार, पुलिस अधीक्षक

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.