पंजीकरण करा सरकार की हितकारी योजनाओं का उठाएं लाभ

रायबरेली श्रम विभाग के प्रभारी सहायक श्रमायुक्त राकेश पाल बुधवार को दैनिक जागरण के प्रश्न

JagranPublish:Thu, 02 Dec 2021 12:02 AM (IST) Updated:Thu, 02 Dec 2021 12:02 AM (IST)
पंजीकरण करा सरकार की हितकारी योजनाओं का उठाएं लाभ
पंजीकरण करा सरकार की हितकारी योजनाओं का उठाएं लाभ

रायबरेली : श्रम विभाग के प्रभारी सहायक श्रमायुक्त राकेश पाल बुधवार को दैनिक जागरण के प्रश्न पहर में शामिल हुए। कार्यक्रम की समय सीमा एक निर्धारित थी। सवाल और जवाब में कब यह वक्त बीत गया, पता ही नहीं चला। ई-श्रमकार्ड, पंजीकरण तो किसी ने सरकार की ओर से चलाई गईं योजनाओं की जानकारी मांगी। प्रभारी सहायक श्रमायुक्त ने सबकी जिज्ञासाओं को शांत किया। कहा कि श्रमिकों के साथ ही उनके अपनों के लिए भी सरकार ने तमाम योजनाएं चलाईं हैं। जरूरत है तो सिर्फ इनका लाभ उठाने की। पेश है प्रश्न-पहर कार्यक्रम में हुए सवाल-जवाब के कुछ अंश.. प्रश्न- मेरे यहां काम करने वाले एक श्रमिक की मौत हो गई थी। उनके स्वजनों को अन्त्येष्टि हित लाभ योजना का लाभ दिलाने के लिए आवेदन कराया था। काफी समय बीत चुका है। अब तक लाभ नहीं मिला। राजेंद्र, परशदेपुर

उत्तर- इस योजना के लिए आवेदन के बाद कई प्रक्रियाएं होती हैं। फाइल कहां पर है, इसे दिखवाया जाएगा। आवेदन में कोई कमी नहीं है और मृतक आश्रित पात्र हैं तो योजना का लाभ जरूर मिलेगा। प्रश्न- गुरुबक्शगंज कस्बे में भिक्षावृत्ति का कारोबार दिन ब दिन बढ़ रहा है। इसमें रखे गए बच्चों का भविष्य

अंधकार में हैं। इस पर अंकुश लगाने की जरूरत है। अनुराग दीक्षित, सतांव उत्तर- भिक्षावृत्ति के मामले में कार्रवाई के लिए हर थाने में बाल कल्याण अधिकारी नियुक्त है। प्रकरण संबंधित थाने के अधिकारी की जानकारी में दे दिया जाएगा, ताकि कार्रवाई हो सके। प्रश्न- श्रम विभाग की ओर से श्रमिकों के लिए कौन-कौन सी योजनाएं चलाई जा रहीं हैं। यहां किसी को इसकी जानकारी ही नहीं है। रोहित पांडेय, मलिकमऊ

उत्तर- श्रमिकों के लिए ही नहीं, सरकार ने उनके अपनों के लिए भी तमाम योजनाएं चलाई हैं। इनमें बच्चों के जन्म से लेकर उनकी स्नातक तक शिक्षा, बेटियों की शादी और बुढ़ापे में पेंशन का लाभ देने वाली योजना भी है। प्रश्न- श्रम विभाग में पंजीकरण कराना है। यह कहां और कैसे होगा। राजू, ऊंचाहार

उत्तर- पंजीकरण के लिए जिला, तहसील या ब्लाक मुख्यालय जाने की जरूरत नहीं। अपने आसपास किसी भी जन सुविधा केंद्र में आन लाइन रजिस्ट्रेशन कराया जा सकता है। प्रश्न- ई-श्रमकार्ड कैसे बनवाया जाएगा। इसके लिए क्या-क्या अभिलेख लगेंगे। नवीन तिवारी, सरेनी

उत्तर- ई-श्रमकार्ड जन सुविधा केंद्रों पर आन लाइन बनाए जा रहे हैं। आधार कार्ड की जरूरत होती है। मोबाइल भी लेकर आना पड़ेगा। कारण, इसमें ओटीपी आएगा। प्रश्न- ई-श्रमकार्ड किस-किस का बन सकता है। इसके क्या फायदे हैं। शिवम मिश्र, लखनापुर, सरेनी

उत्तर- यह कार्ड असंगठित श्रमिकों का बनेगा। इसमें पांच लाख तक का निश्शुल्क इलाज और दो लाख रुपये तक का दुर्घटना बीमा का लाभ मिलेगा। प्रश्न- कई जगह ई-श्रम कार्ड बनाने में रुपये लिए जा रहे हैं। इसका सरकारी शुल्क कितना है यह कोई बताने को तैयार नहीं होता। रसीद भी नहीं मिलती। आयुष, भोजपुर

उत्तर- ई-श्रमकार्ड के लिए कोई शुल्क नहीं लिया जा रहा है। ये पूरी तरह से निश्शुल्क बनाए जा रहे हैं। इस कार्य के बदले जन सुविधा केंद्र संचालकों को सरकार से मेहनताना दिया जाता है। प्रश्न - प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का लाभ कैसे मिलेगा और इसके क्या फायदे हैं। अमरनाथ, सलोन

उत्तर- यह पेंशन योजना असंगठित कामगारों के लिए चलाई गई है। इसमें निर्धारित मासिक प्रीमियम जमा करना होगा। केंद्र सरकार का अंशदान भी इसमें जुड़ेगा। 60 वर्ष की आयु के बाद तीन हजार रुपये प्रतिमाह पेंशन मिलेगी। प्रश्न- मेरा फर्नीचर बनाने का व्यवसाय है। मेरी उम्र करीब 48 साल है। क्या मैं भी प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का लाभ ले सकता हूं। श्रीराम, पूरे नोहरी सिंह, दीनशाहगौरा

उत्तर- यह पेंशन योजना सिर्फ 18 से 40 वर्ष आयु तक के असंगठित कामगारों के लिए हैं। आपकी उम्र अधिक है। इसलिए आप इसका लाभ नहीं ले पाएंगे। प्रश्न- श्रम विभाग में पंजीकरण कैसे होता है और इसके क्या फायदे हैं। रिषभ त्रिवेदी,जगतपुर

उत्तर- श्रमिकों के लिए चलाई गई योजनाओं का लाभ लेना है तो श्रम विभाग में पंजीकरण जरूरी है। किसी भी जन सुविधा केंद्र से आन लाइन रजिस्ट्रेशन कराया जा सकता है। प्रश्न- गांव में बहुत से असंगठित और संगठित श्रमिक हैं। यहीं पर कैंप लग जाए तो आसानी से इनके पंजीकरण हो जाएंगे और ई-श्रमकार्ड बन जाएंगे। बुद्धीराम, पूर्व प्रधान बारा, सलोन

उत्तर- यह एक अच्छी पहल है। श्रम विभाग इसमें पूरा सहयोग करेगा। जल्द ही गांव में शिविर लगाया जाएगा। इसकी तिथि निर्धारित करके सूचना भी पहले से दे दी जाएगी।