पहुंची तकनीकी टीम, आक्सीजन प्लांट 12 घंटे के ट्रायल पर

प्रतापगढ़ । राजकीय मेडिकल कालेज के प्रताप बहादुर पुरुष अस्पताल में बनकर तैयार नया आक्सीजन प्

JagranPublish:Wed, 22 Sep 2021 11:31 PM (IST) Updated:Wed, 22 Sep 2021 11:31 PM (IST)
पहुंची तकनीकी टीम, आक्सीजन प्लांट 12 घंटे के ट्रायल पर
पहुंची तकनीकी टीम, आक्सीजन प्लांट 12 घंटे के ट्रायल पर

प्रतापगढ़ । राजकीय मेडिकल कालेज के प्रताप बहादुर पुरुष अस्पताल में बनकर तैयार नया आक्सीजन प्लांट अब जल्दी ही चालू हो जाएगा। यह उम्मीद बुधवार को और पक्की हो गई।

तकनीकी कारणों से इसके चालू न हो पाने की खबर जागरण में प्रकाशित होने पर विभाग में खलबली मच गई। लखनऊ से तकनीकी टीम बुला ली गई। अस्पताल का पुराना आक्सीजन प्लांट बार-बार खराब होने से संकट हो जाता था। यह बहुत पुराना होने से सप्ताहभर पहले फिर से दगा दे चुका है। इसकी खराबी अब तक दूर नहीं की जा सकी। इसके पहले यह कोरोना काल में कई बार खराब हुआ था। मरीजों को कंसंट्रेटर व सिलिडर के सहारे रखा जाता रहा। इन दिनों भी ऐसे ही हालात हैं। अस्पताल के इमरजेंसी, सर्जिकल वार्ड, मेडिकल वार्ड, इमरजेंसी वार्ड सहित सभी वार्डों में मरीजों को आक्सीजन देने काम प्रभावित हो रहा है। अस्पताल में लगा नया आधुनिक प्लांट अब तक चालू नहीं किया जा सका है। ट्रायल में यह ओके हो गया है। अब इसमें वोल्टेज अधिक आने से इसका उपयोग अब तक शुरू नहीं किया जा सका। इसके लिए अस्पताल प्रशासन ने बिजली विभाग को पत्र लिखा। इस समस्या की खबर बुधवार को दैनिक जागरण ने छापी तो प्रशासन ने संज्ञान लिया। सीएमएस ने इसे लगाने वाली एजेंसी को बताया कि अब काम चलने वाला नहीं है। ऐसे में दोपहर में लखनऊ से तीन सदस्यों की तकनीकी टीम प्रतापगढ़ आ पहुंची। वह प्लांट को 12 घंटे के ट्रायल पर लेकर परीक्षण कर रही है। बिजली विभाग को भी बताया गया है कि वह वोल्टेज की समस्या को दूर करे। इसके बाद इसे चलाया जाएगा। सीएमएस डा. सुरेश सिंह का कहना है कि टीन ने आकर नए प्लांट को देखा। इसे चालू करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। उम्मीद है कि अब शीघ्र ही चालू हो जाएगा।