सड़क हादसे में जनसत्ता दल के कार्यकर्ता की मौत

सड़क हादसे में जनसत्ता दल के कार्यकर्ता की मौत

दहिलामऊ मोहल्ला निवासी रिटायर्ड जेई एसपी पांडेय के बड़े बेटे रवींद्र पांडेय (44) जनसत्ता दल के कार्यकर्ता और प्रापर्टी डीलर थे। बेटी का जन्मदिन मनाने के बाद वह बुधवार रात स्कूटी से घर से निकले और शुकुलपुर स्थित अपने मित्र मयंक सिंह के पास कुछ देर रहे। वहां से वह रात करीब साढ़े दस बजे घर के लिए निकले थे। फिर कहीं और चले गए। रात करीब एक बजे दहिलामऊ स्थित शिव मंदिर के पास अज्ञात वाहन ने उन्हें टक्कर मार दी जिससे वह सड़क पर गिर पड़े। सिर के पिछले हिस्से में चोट लगने से अधिक रक्तस्राव हुआ और उनकी मौके पर ही मौत हो गई।

JagranThu, 04 Mar 2021 10:24 PM (IST)

संवाद सूत्र, प्रतापगढ़ : शहर के दहिलामऊ स्थित शिवमंदिर तिराहे पर बुधवार देर रात अज्ञात वाहन की टक्कर से स्कूटी सवार जनसत्ता दल के कार्यकर्ता व रिटायर्ड जेई के बेटे की मौत हो गई। घटना से माता-पिता, पत्नी सहित परिवारीजन रो-रोकर बेहाल हैं।

दहिलामऊ मोहल्ला निवासी रिटायर्ड जेई एसपी पांडेय के बड़े बेटे रवींद्र पांडेय (44) जनसत्ता दल के कार्यकर्ता और प्रापर्टी डीलर थे। बेटी का जन्मदिन मनाने के बाद वह बुधवार रात स्कूटी से घर से निकले और शुकुलपुर स्थित अपने मित्र मयंक सिंह के पास कुछ देर रहे। वहां से वह रात करीब साढ़े दस बजे घर के लिए निकले थे। फिर कहीं और चले गए। रात करीब एक बजे दहिलामऊ स्थित शिव मंदिर के पास अज्ञात वाहन ने उन्हें टक्कर मार दी, जिससे वह सड़क पर गिर पड़े। सिर के पिछले हिस्से में चोट लगने से अधिक रक्तस्राव हुआ और उनकी मौके पर ही मौत हो गई।

रात करीब दो बजे चीता मोबाइल के सिपाही उधर से गुजरे तो देखा कि वह सड़क पर पड़े थे। इसी बीच वहां रीतेश मिश्रा निवासी शुकुलपुर उधर से गुजरे तो पुलिस देखकर रुक गए। उन्होंने रवींद्र पांडेय की पहचान करते हुए उनके दोस्तों को घटना की जानकारी दी। इसी बीच घटना की सूचना मिलने पर सीओ सिटी अभय पांडेय मौके पर पहुंचे और फौरन उन्हें एंबुलेंस से जिला अस्पताल ले जाया गया। वहां चिकित्सक ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

पोस्टमार्टम के बाद गुरुवार को दोपहर करीब एक बजे रवींद्र का शव घर लाया गया तो उनके माता-पिता, पत्नी, बच्चे शव से लिपटकर रो पड़े। यह देख वहां मौजूद हर किसी की आंखें नम हो गई। रवींद्र दो भाइयों में बड़े थे। उनके छोटे भाई विक्की कोलकाता में रहते हैं। घटना की जानकारी होने पर वह फौरन फ्लाइट से प्रयागराज पहुंचे और वहां से घर आए। इसके बाद शव रसूलाबाद (प्रयागराज) ले जाया गया और वहां अंतिम संस्कार किया गया। रवींद्र के 10 साल का बेटा व छह साल की बेटी है।

------------

शोक संवेदनाओं का लगा तांता

रवींद्र की मौत से हर कोई हतप्रभ था। जिसने भी घटना के बारे में सुना अवाक रह गया। रवींद्र बहुत मिलनसार स्वभाव के थे। यहीं वजह है कि उनके घर व पोस्टमार्टम हाउस पर लोगों का तांता लगा था। रवींद्र की मौत पर पूर्व मंत्री रघुराज प्रताप सिंह राजा भैया, एमएलसी अक्षय प्रताप सिंह, विधायक विनोद सरोज, सहकारी बैंक के पूर्व अध्यक्ष डा. केएन ओझा, उमाशंकर यादव, अनिल सिंह लाल साहब, मीडिया प्रभारी मुक्कू ओझा, जनसत्ता दल के जिलाध्यक्ष रामअचल वर्मा, सांसद के मीडिया प्रभारी विनोद तिवारी ने गहरा दुख व्यक्त किया है। रवींद्र के घर पहुंचकर पूर्व विधायक बृजेश मिश्र सौरभ, संतोष दुबे, अनुराग सिंह रज्जू राजा, शशांक भूषण सिंह, रामकृष्ण मिश्र गुड्डू, पूर्व प्रमुख विवेक त्रिपाठी, शांति सिंह, हरिशंकर सिंह हैपी, शेखर सिंह, मयंक सिंह, अवनेश सिंह, आजाद सिंह, मनीष उर्फ मिक्की, आजाद सिंह,विक्रम सिंह, अंशू श्रीवास्तव, मोहित सिंह, गौरव प्रचंड, मोहम्मद असलम, सचिन श्रीवास्तव, प्रतीक, जूनियर बार के महामंत्री जेपी मिश्र, प्रशांत सिंह, राजकुमार तिवारी समेत तमाम लोगों ने शोक संवेदना व्यक्त की। उधर, प्रयागराज के नवाबगंज थाना क्षेत्र में जनसत्ता दल के कार्यकर्ता की सड़क हादसे में हुई मौत पर शोकसभा आयोजित की गई। प्रयागराज गंगापार जिलाध्यक्ष राकेश जायसवाल व लक्ष्मी नारायण जायसवाल समेत पार्टी कार्यकर्ताओं ने दुख जताया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.