अति संवेदनशील केंद्रों पर तैनात रहेंगे सीआरपीएफ के जवान

अति संवेदनशील केंद्रों पर तैनात रहेंगे सीआरपीएफ के जवान

जिले के अति संवेदनशील मतदान केंद्रों पर सीआरपीएफ के जवान तैनात रहेंगे। जबकि संवेदनशील सहित अन्य मतदान केंद्रों पर प्रयागराज सहित 12 जिलों के करीब आठ हजार पुलिस व पीएसी के जवान मुस्तैद रहेंगे।

JagranFri, 16 Apr 2021 10:24 PM (IST)

प्रतापगढ़ : जिले के अति संवेदनशील मतदान केंद्रों पर सीआरपीएफ के जवान तैनात रहेंगे। जबकि संवेदनशील सहित अन्य मतदान केंद्रों पर प्रयागराज सहित 12 जिलों के करीब आठ हजार पुलिस व पीएसी के जवान मुस्तैद रहेंगे।

इस जिले में दूसरे चरण में 19 अप्रैल को मतदान है। जिले में कुल 1390 मतदान केंद्र व 3768 बूथ बनाए गए हैं। इसमें से करीब 70 फीसद मतदान केंद्र संवेदनशील और अति संवेदनशील चिन्हित किे गए हैं। चुनाव को शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए प्रयागराज, कौशांबी, फतेहपुर, हमीरपुर, बांदा सहित दर्जन भर जिलों से करीब आठ हजार पुलिस कर्मी व पीएसी के जवानआ रहे हैं। इसके अलावा जिले के भी करीब दो हजार पुलिस कर्मी मुस्तैद रहेंगे। यही नहीं, एक कंपनी सीआरपीएफ के जवान भी यहां भेजे जा रहे हैं। सीआरपीएफ के जवानों को अति संवेदनशील केंद्रों पर तैनात किया जाएगा। अन्य जिलों से सीओ व एएसपी भी यहां भेजे जा रहे हैं। बाहर से आ रहे पुलिस कर्मियों की ठहरने की व्यवस्था 67 कालेजों में की गई है। नगर कोतवाली क्षेत्र में श्रीराम बालिका इंटर कालेज चिलबिला, राजकीय पालीटेक्निक कालेज सोनावां, आरएन सिंह महाविद्यालय भदोही, डीएवी इंटर कालेज करनपुर, न्यू एंजिल्स इंटर कालेज टेऊंगा, टेक्निकल इंटर कालेज लोहंगपुर, सुखराज रघुनाथी डिग्री कालेज चिलबिला, अबुल कलाम इंटर कालेज में पुलिस कर्मी रुकेंगे। शुक्रवार की रात से गैर जनपद से आ रहे पुलिस कर्मी यहां पहुंचने लगे।

---

-पंचायत चुनाव शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने के लिए पर्याप्त मात्रा में फोर्स उपलब्ध कराई गई है। प्रयागराज सहित 12 जिलों के करीब आठ हजार पुलिस कर्मी आ रहे हैं। एक कंपनी सीआरपीएफ मिली है। सीआरपीएफ के जवान अति संवेदनशील मतदान केंद्रों पर तैनात रहेंगे।

-सुरेंद्र द्विवेदी, एएसपी पूर्वी

---- प्रत्याशी को धमकी देने पर भाजपा नेता पर मुकदमा

कुंडा : प्रत्याशी को धमकी देने के मामले में भाजपा नेता अभय प्रताप सिंह पप्पन, उनके भाई सहित 20 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो गया है। वहीं, धमकी देने, निषेधाज्ञा, चुनाव आचार संहिता व कोविड-19 के नियमों के उल्लंघन पर पूर्व प्रमुख, निवर्तमान प्रधानों सहित करीब चार दर्जन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

महेशगंज थाना क्षेत्र के परान का पुरवा (ऐधा) निवासी भाजपा नेता अभय प्रताप सिंह पप्पन की पत्नी जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ रही हैं। गुरुवार को इंटरनेट मीडिया एक ऑडियो वायरल हुआ, जिसमें एक व्यक्ति द्वारा विजय पाल नाम के व्यक्ति को चुनाव प्रचार करने पर मारने-पीटने की धमकी दी गई। धमकी देने वाले की आवाज भाजपा नेता पप्पन सिंह की बताई जा रही थी। वायरल आडियो को संज्ञान में लेते हुए एसपी ने जांच एएसपी पश्चिमी को सौंप दी थी। इस मामले में एसओ महेशगंज अमित सिंह ने ऐंधा पूरे नंद तिवारी का पुरवा (ऐधा) गांव निवासी विजय पाल से संपर्क किया तो उन्होंने बताया कि उन्हें भाजपा नेता अभय प्रताप सिंह ने धमकी दी थी। इस मामले में विजय पाल की तहरीर पर पुलिस ने भाजपा नेता, उनके भाई पंकज सिंह और 20 अज्ञात समर्थकों खिलाफ जान से मारने की धमकी देने, निषेधाज्ञा का उल्लंघन करने का मुकदमा दर्ज किया है।

इसी प्रकार पूरे रेवती राम (रामनगर) निवासी सुनीता देवी पत्नी विपिन कुमार शुक्ला रामनगर ग्राम सभा से प्रधान प्रत्याशी हैं। सुनीता का आरोप है कि पुरानी रंजिश में गांव के निवर्तमान प्रधान और प्रधान प्रत्याशी अमित शुक्ला बब्बू, उनके बड़े भाई पूर्व प्रमुख मनोज शुक्ला, प्रिस शुक्ला पुत्र मनोज शुक्ला और उनके 40 समर्थक मोटरसाइकिल से उनके घर के सामने पहुंचे और नारेबाजी करते हुए जान से मारने की धमकी दी। सुनीता की तहरीर पर पुलिस ने पूर्व प्रमुख मनोज शुक्ला, उनके भाई निवर्तमान प्रधान अमित शुक्ला बब्बू, मनोज के बेटे प्रिस शुक्ला और 40 समर्थकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। उधर, डिहवा जलालपुर निवासी शेख हैदर अली का आरोप है कि निवर्तमान प्रधान करुणेश भारती सहित डेढ़ दर्ज लोग उनके घर पहुंचे और मारपीट की व जान से मारने की धमकी दी। पुलिस ने निवर्तमान प्रधान करुणेश भारती उर्फ मम्मन, आफताब आलम, तिन्ने, लाल जी सरोज और 15 अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.