हास्टल में रहने वाले छात्र-छात्राओं के जाएंगे नमूने

मोहम्मद बिलाल नोएडा कोरोना के नए स्वरूप के मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग कोरोना जांच का दायरा बढ

JagranMon, 29 Nov 2021 09:27 PM (IST)
हास्टल में रहने वाले छात्र-छात्राओं के जाएंगे नमूने

मोहम्मद बिलाल, नोएडा :

कोरोना के नए स्वरूप के मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग कोरोना जांच का दायरा बढ़ाने जा रहा है। 30 फीसद से अधिक नमूने जांच को लिए जाएंगे। इसके साथ ही जिले के सभी उच्च शिक्षण संस्थानों के हास्टल में रहने वाले छात्र-छात्राओं में संक्रमण की आशंका के चलते जांच के लिए तीन दिन अभियान चलाया जाएगा।

स्वास्थ्य विभाग की टीम मंगलवार से नोएडा-ग्रेटर नोएडा के सभी स्कूल व कालेज के हास्टल में रहने वाले छात्र-छात्राओं की कोरोना जांच के लिए नमूने लेगी,जिससे संक्रमण का खतरा कम रहे। एसीएमओ डा. ललित मिश्रा ने बताया कि कोरोना के नए स्वरूप को लेकर विभाग पूरी तरह से तैयार है। इसके लिए सैंपलिग का दायरा बढ़ाया जाएगा, जिले में वर्तमान में 1000 हजार से अधिक आरटी-पीसीआर जांच के लिए नमूने लिए जा रहे हैं। वहीं 1500-2000 के बीच एंटीजन किट से कोरोना की जांच हो रही है। मंगलवार से आरटी-पीसीआर और एंटीजन जांच में तेजी की जाएगी। प्रतिदिन होने वाली जांच में 30 फीसद की बढ़ोतरी होगी,जिससे अगर जांच के दौरान कोई संक्रमित मिले तो उसे तुरंत आइसोलेट करके इलाज शुरू किया जा सके। सैंपलिग के नोडल अधिकारी डा. टीकम सिंह ने बताया कि अभियान के पहले तीन दिन के दौरान उच्च शिक्षा के सभी संस्थानों जैसे मेडिकल कालेज, इंजीनियरिग कालेज पालिटेक्निक संस्थानों/आइटीआइ, विश्वविद्यालयों और संबद्ध कालेजों को कवर करेंगे। इन संस्थानों के छात्रावासों में कालेज स्टाफ, हास्टल स्टाफ, छात्रों का परीक्षण किया जाएगा। इसके बाद अगले तीन दिन में सार्वजनिक और निजी अस्पतालों और चिकित्सा शिक्षा संस्थानों कार्यरत रेजिडेंट डाक्टर, छात्र और अन्य कर्मियों की जांच की जाएगी। सभी जगह से मोबाइल टीम नमूना संग्रह करेगी। कर्नाटक के एक मेडिकल कालेज में 60 छात्रों के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद एहतियातन जांच बढ़ाई जाएगी। कालेज खुलने पर हास्टल पहुंच रहे हैं छात्र :

त्योहार सीजन खत्म होने के बाद छात्र-छात्राएं कालेज में पढ़ाई के लिए वापस लौट रहे है। नोएडा-ग्रेटर में सैकड़ों इंजीनियरिग, मेडिकल और मैनेजमेंट कालेज हैं, जिनमें देश के अलग-अलग राज्यों से आए हुए हजारों छात्र पढ़ने के साथ यहीं बने हास्टल में रहते हैं। टेंपो, आटो चालकों की भी होगी जांच :

सीएमओ डा. सुनील कुमार शर्मा ने बताया कि अस्पतालों को अलर्ट जारी किया गया है। भीड़भाड़ वाले इलाकों, टेंपों, आटो व ई-रिक्शा चालकों की जांच की जाएगी। विदेश से और दूसरे देश से आने वाले हर यात्री की मुफ्त आरटी-पीसीआर जांच होगी। आरटीसीपीआर टेस्ट में व्यक्ति का नाम, स्थायी पता, सही मोबाइल नंबर, आदि विवरण दर्ज किया जाएगा। इसके साथ ही शहर के सभी होटल संचालकों को निर्देश है कि बाहर से आने वाले व्यक्ति की सघन थर्मल स्क्रीनिग कराना सुनिश्चित किया जाए।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.