Omicron: विदेश से नोएडा-ग्रेटर नोएडा लौटे लोगों की पहचान करना बनी चुनौती, डीजीसीए से मदद मांगेगा प्रशासन

कोरोना के नए वैरिएंट की आशंका के मद्देनजर विदेश से शहर लौटे लापता लोगों की तलाश के लिए स्वास्थ्य विभाग नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) को पत्र लिखेगा जिससे ऐसे लोगों को ट्रेस करके क्वारंटाइन करने के साथ जांच की जा सके।

Mangal YadavTue, 07 Dec 2021 11:29 AM (IST)
विदेश से नोएडा-ग्रेटर नोएडा लौटे लोगों की पहचान करना बनी चुनौती, डीजीसीए से मदद मांगेगा प्रशासन

नोएडा [मोहम्मद बिलाल]। कोरोना के नए वैरिएंट की आशंका के मद्देनजर विदेश से शहर लौटे लापता लोगों की तलाश के लिए स्वास्थ्य विभाग नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) को पत्र लिखेगा, जिससे ऐसे लोगों को ट्रेस करके क्वारंटाइन करने के साथ जांच की जा सके। नोएडा-ग्रेटर नोएडा में अबतक 1570 से अधिक लोग विदेश से लौटे हैं। विभाग का दावा है कि इनमें 1300 लोगों को ट्रैक किया जा चुका है। वहीं बाकी लोगों को भी ट्रेस करने का काम जारी है।

शासन के साथ ही केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रलय ने कोरोना के नए वैरिएंट की आशंका के मद्देनजर विदेश से लौटे लोगों में लक्षण दिखने पर आरटी-पीसीआर जांच अनिवार्य की है, लेकिन विदेश से लौटने के दौरान एयरपोर्ट पहुंचने पर कई लोगों ने अपने अस्थायी पते की जानकारी गलत दी है। इससे विभाग को ऐसे लोगों की खोज करने में परेशानी हो रही है।

हालांकि, ऐसे लोगों को उनके स्थायी पते पर खोज की जा रही है। वहीं कई लोगों ने अपने नंबर तो सही दिया है लेकिन इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम से जब ऐसे लोगों को फोन किया जाता है, तो उनका नंबर बंद बताता है, जिससे विभाग को ऐसे लोगों को ढूंढने में परेशानी हो रही है।

रिश्तेदारों के घर ली पनाह

स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों के मुताबिक विदेश से लौटे कई लोग कोरोना की जांच से बचने के अपने घरों पर ताला लगाकर रिश्तेदारों और अपने पैतृक घरों में पनाह ली है। फोन करके पर कई लोगों ने प्रदेश के अलग-अलग जिलों में होने की बात कही है।

विदेश से आए सभी 36 लोगों के नमूने नेगेटिव

विदेश से आए सभी 36 लोगों की आरटी-पीसीआर जांच सोमवार को नेगेटिव आई है। वहीं 19 नए लोगों के नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं। विदेश सात दिनों तक स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में रहेंगे। इसके बाद उन्हें स्वयं की निगरानी में सात दिनों तक होम क्वारंटाइन रहना होगा। पहले सात दिनों तक स्वास्थ्य विभाग की टीम प्रत्येक दिन होम क्वारंटाइन में रहने वाले लोगों से फोन पर संपर्क कर जानकारी लेगी। अभी तक जिले में विदेश से आए भी व्यक्ति कोरोना संक्रमित नहीं मिला है।

इन से देशों भारत लौटे हैं लोग

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक जिले में अबतक संयुक्त अरब अमीरात (यूएई), ब्रिटेन, अमेरिका, आस्ट्रेलिया, कनाडा, फ्रांस, सऊदी अरब आदि देशों से लौटे हैं। अधिकांश देशों में कोरोना का नया वैरिएंट का केस मिल चुका है। वहीं ओमिक्रोन से सर्वाधिक प्रभावित दक्षिण अफ्रीका और हांगकांग से कोई नहीं लौटा है।

जिला सर्विलांस अधिकारी डा सुनील दोहरे ने बताया कि सर्वप्रथम विदेश से लौटे लोगों के पते और मोबाइल नंबर पर संपर्क साधा जाएगा। जो लोग नहीं मिलेंगे उनकी सूची डीजीसीए को सौंपी जाएगी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.