नोएडा के सेक्टर-100 की सोसायटी में पिता-पुत्र की डंडों से पिटाई करने वाले 8 सिक्योरिटी गार्ड गिरफ्तार, भेजे गए जेल

नोए़़डा के सेक्टर-100 स्थित लोटस बुलेवर्ड सोसायटी में पिता-पुत्र की बेरहमी से डंडों से पिटाई करने वाले आठ सुरक्षा गार्डों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। दोनों आरडब्ल्यूए पदाधिकारी नाम का एफआइआर में शामिल है।

Mangal YadavThu, 09 Sep 2021 07:14 PM (IST)
नोएडा के सेक्टर-100 की सोसायटी में पिता-पुत्र की डंडों से पिटाई करने वाले आठ सिक्योरिटी गार्ड गिरफ्तार, भेजे गए जेल

 नोएडा [मोहम्मद बिलाल]। सेक्टर-100 स्थित लोटस बुलेवर्ड सोसायटी में पिता-पुत्र की बेरहमी से डंडों से पिटाई करने वाले सुरक्षा गार्डों को जेल भेज दिया गया है। सभी सोसायटी की सुरक्षा में लगी सीआईएसएस ब्यूरो प्राइवेट सिक्योरिटी एजेंसी के कर्मचारी हैं। इनकी पहचान सिक्योरिटी सुपरवाइजर खगड़िया (बिहार) निवासी अमलेश राय, सिक्योरिटी गार्ड हापुड़ निवासी कृष्ण कांत शुक्ला, दरभंगा (बिहार) निवासी जावेद आलम, हापुड़ निवासी विक्रांत तोमर, भोजपुर (बिहार) निवासी पवन कुमार, बुलंदशहर निवासी दिनेश कुमार, मैनपुरी निवासी पंकज तिवारी और कुशल पालीवाल के रूप में हुई है।

वहीं सोसायटी के अपार्टमेंट ओनर्स एसोसिएशन (एओए) अध्यक्ष तेज प्रकाश और सचिव संजय सिंह की भूमिका की जांच की जा रही है। दोनों आरडब्ल्यूए पदाधिकारी नाम का एफआइआर में शामिल है।

सुरेश कुमार लोटस बुलेवर्ड में 17वीं मंजिल पर रहते हैं। उनका कंप्यूटर का बिजनेस है। उन्हें फ्लैट में फाइबर का इंटरनेट लगवाना था। इंटरनेट के लिए केबल के बाक्स की चाबी सुरक्षाकर्मियों के आफिस में थी। इंटरनेट लगाने वाले को गार्ड ने कनेक्शन के मेन बाक्स की चाबी देने से मना कर दिया था। जिसके चलते वह खुद बेटे सुबोध के साथ चाबी लेने के लिए सुरक्षाकर्मियों के आफिस में गए थे। उन्होंने सुरक्षाकर्मियों से चाबी मांगी तो, सुरक्षा गार्डों ने चाबी देने से मना कर दिया था। इस बीच सुरक्षाकर्मियों और उनके बीच काफी कहासुनी हुई।

आरोप है कि सुरेश ने एक सुरक्षाकर्मी को थप्पड़ मार दिया। इसके बाद सुरक्षाकर्मियों ने सुरेश और उनके बेटे सुबोध की डंडों से पिटाई कर दी थी। सुरक्षा गार्डों द्वारा पिता-पुत्र की पिटाई का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ था। लोगों ने आरोपित सुरक्षा गार्डों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी। मामले में सुरेश ने भी सेक्टर-39 कोतवाली में केस दर्ज कराया था।

इसके बाद पुलिस ने सिक्योरिटी सुपरवाइजर, आरोपित सुरक्षा गार्डों, आरडब्ल्यूए पदाधिकारियों समेत 20 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया था। एडिशनल डीसीपी नोएडा रणविजय सिंह ने बताया कि निवासी की डंडों से पिटाई करने वाले सुरक्षा गार्डों के खिलाफ धारा-147, 148, 308, 504 व 120-बी की धाराओं में केस दर्ज किया गया है।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.