ग्रेटर नोएडा में खतरनाक और नोएडा में बहुत खराब रही हवा

ग्रेटर नोएडा में 'खतरनाक' और नोएडा में 'बहुत खराब' रही हवा
Publish Date:Thu, 29 Oct 2020 09:18 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, नोएडा : औद्योगिक नगरी में वायु प्रदूषण बढ़ता ही जा रहा है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) की रिपोर्ट के अनुसार, बृहस्पतिवार शाम चार बजे नोएडा में वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआइ) 383, तो वहीं ग्रेटर नोएडा का एक्यूआइ-412 दर्ज हुआ। ऐसे में नोएडा की हवा बहुत खराब, जबकि ग्रेटर नोएडा की हवा खतरनाक श्रेणी में रही।

बृहस्पतिवार को सुबह शहर प्रदूषण की चादर से लिपटा रहा। न्यूनतम ²श्यता 100 मीटर से कम रही। हालांकि सुबह 10 बजते ही धूप निकलने के बाद स्थिति कुछ सामान्य हुई, लेकिन शाम चार बजते ही प्रदूषण फिर से बढ़ने लगा। सीपीसीबी के मुताबिक, बृहस्पतिवार शाम दिल्ली का एक्यूआइ 395, गाजियाबाद का 389, गुरुग्राम का 384 व फरीदाबाद का एक्यूआइ 374 दर्ज हुआ। ऐसे में बृहस्पतिवार को ग्रेटर नोएडा एनसीआर में लगातार दूसरा सबसे प्रदूषित शहरों की लिस्ट में टाप पर रहा।

सिस्टम आफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फार कास्टिग एंड रिसर्च (सफर) के मुताबिक, उत्तर पश्चिमी दिशा से चल रही हवा की रफ्तार दिन में तीन किलोमीटर प्रतिघंटा से कम रही। इससे प्रदूषक तत्व सतह पर जमा हो गए। इससे सूक्ष्म कणों में वृद्धि हुई है। रविवार तक हवा बहुत खराब श्रेणी में बनी रह सकती है।

ग्रेटर नोएडा के हालात लगातार हो रहे खराब :

ग्रेटर नोएडा शहर की आबोहवा लगातार जहरीली हो रही है। बृहस्पतिवार को प्रदूषण का स्तर सीवियर (गंभीर) श्रेणी में पहुंच गया। प्रदूषण निगरानी स्टेशन के आनलाइन संकेतक के मुताबिक, एक्यूआइ शाम छह बजे 408 दर्ज हुआ। यह बुधवार के मुकाबले 84 अधिक रहा। सुबह से ही शहर में प्रदूषण का स्तर बद से बदतर रहा। सुबह नौ बजे एक्यूआइ 431 दर्ज हुआ। सुबह के समय ग्रेटर नोएडा देश का सबसे प्रदूषित शहर रहा। दोपहर दो बजे प्रदूषण के स्तर में मामूली कमी दर्ज हुई। इस समय एक्यूआइ 424 रहा। तीन बजे प्रदूषण का स्तर घटकर 419 हो गया। शाम पांच बजे एक्यूआइ 408 दर्ज हुआ। फिलहाल ग्रेटर नोएडा देश में सबसे प्रदूषित शहर में तीसरे नंबर पर है। लोग सुबह से ही घुटन, आंखों में जलन से परेशान रहे। पूरे शहर में धुंध की हल्की चादर छाई रही।

नालेज पार्क-3 में लगे प्रदूषण निगरानी स्टेशन में एक्यूआइ 395 मापा गया। यहां पीएम-2.5, 395 और पीएम-10, 384 रहा। नालेज पार्क-5 में प्रदूषण का स्तर 422 दर्ज हुआ। यहां पीएम-2.5, 387 और पीएम-10, 422 रहा।

न्यूनतम तापमान तीन डिग्री लुढ़का :

ठंड बढ़ने के साथ ही रात के पारा में लगातार गिरावट हो रही है। बृहस्पतिवार को न्यूनतम तापमान 12.5 डिग्री सेल्सियस के साथ सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस कम दर्ज हुआ। अधिकतम तापमान 32.1 डिग्री सेल्सियस के साथ सामान्य से एक डिग्री अधिक रहा।

नोएडा में पिछले कुछ दिनों में एक्यूआइ

तिथि, एक्यूआइ, स्थिति

23 अक्टूबर, 399, बहुत खराब

24 अक्टूबर, 345, बहुत खराब

25 अक्टूबर, 367, बहुत खराब

26 अक्टूबर, 356, बहुत खराब

27 अक्टूबर, 339, बहुत खराब

28 अक्टूबर, 309, बहुत खराब

29 अक्टूबर, 383, बहुत खराब

नोट: आंकड़े सेक्टर-62 स्थित आइएमडी के मुताबिक।

नोएडा में प्रदूषक तत्वों की बृहस्पतिवार की स्थिति

प्रदूषक तत्व, न्यूनतम, अधिकतम, औसत

पीएम-2.5, 400, 273, 477

पीएम-10, 398, 181, 468

कार्बन मोनोआक्साइड (सीओ), 48, 5, 147

नाइट्रोजन डाइ-आइक्साइड (एनओ-2), 212, 56, 296

सल्फर डाइ-आक्साइड (एसओ-2), 19, 1, 101

अमोनिया (एनएच-3)- 20, 15, 27

ओजोन, 19, 5, 25

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.