top menutop menutop menu

लॉटरी के जरिए 615 बच्चे हुए चयनित

जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा : शिक्षा का अधिकार कानून (आरटीई) के तहत निजी स्कूलों में दाखिले के लिए आवेदन की प्रक्रिया का दूसरा चरण समाप्त हो चुका है। चयनित बच्चों के लिए बुधवार देर शाम तक लॉटरी की प्रक्रिया चलती रही। कुल 617 बच्चों का चयन विभिन्न निजी स्कूलों में दाखिले के लिए हुआ। वहीं, 882 बच्चों का चयन कई स्कूलों में सीटे फुल होने और विभिन्न कारणों से नहीं हो पाया।

आरटीई के तहत गरीब व वंचित वर्ग से आने वाले बच्चों के निजी स्कूल में दाखिले के लिए आवेदन की दूसरे चरण की प्रक्रिया दस जून से शुरू हुई थी। दस जुलाई तक चले प्रक्रिया में 1500 आवेदन आए थे। 11 से 13 तक आवेदनों के सत्यापन का कार्य चला था। इसके बाद कुल 1,185 आवेदन का बेसिक शिक्षा कार्यालय की तरफ से मंजूरी मिली थी।

जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी धीरेंद्र कुमार ने बताया कि बुधवार को लॉटरी की प्रक्रिया चली। इसके तहत 617 विद्यार्थियों को विभिन्न निजी स्कूलों में सीटें आवंटित की गई। वहीं, 882 विद्यार्थियों का चयन सीट फुल होने व अन्य कारणों से नहीं हो पाया। चयनित बच्चे 30 जुलाई को आवंटित स्कूल में दाखिला ले सकते हैं। पहले चरण में कुल 3,100 बच्चों का चयन हुआ था। दोनों चरणों को मिलाकर कुल 3,717 विद्यार्थियों का चयन हो चुका है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.