सांसद खेल स्पर्धा में खिलाड़ियों ने दिखाया दमखम

श्रीराम कालेज में सोमवार को सांसद खेल स्पर्धा-2021 की दो दिवसीय जनपदीय प्रतियोगिता का आगाज हुआ। प्रतियोगिता का उदघाटन मुख्य संयोजक व केंद्रीय राज्यमंत्री डा. संजीव बालियान ने मशाल जलाकर किया। पहले दिन हुई कबड्डी कुश्ती और दौड़ प्रतियोगिताओं में ब्लाकों से शामिल हुए खिलाड़ियों ने पसीना बहाकर फाइनल में जगह बनाई।

JagranMon, 22 Nov 2021 11:41 PM (IST)
सांसद खेल स्पर्धा में खिलाड़ियों ने दिखाया दमखम

जेएनएन, मुजफ्फरनगर। श्रीराम कालेज में सोमवार को सांसद खेल स्पर्धा-2021 की दो दिवसीय जनपदीय प्रतियोगिता का आगाज हुआ। प्रतियोगिता का उदघाटन मुख्य संयोजक व केंद्रीय राज्यमंत्री डा. संजीव बालियान ने मशाल जलाकर किया। पहले दिन हुई कबड्डी, कुश्ती और दौड़ प्रतियोगिताओं में ब्लाकों से शामिल हुए खिलाड़ियों ने पसीना बहाकर फाइनल में जगह बनाई।

सांसद खेल स्पर्धा-2021 की जनपदीय खेल प्रतियोगिताओं के उद्घाटन के अवसर पर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी खेल प्रतिभा का लोहा मनवा चुके खिलाड़ियों ने मंच साझा कर नये खिलाड़ियों को आगे बढ़ने की प्रेरणा दी। जिले के निवासी खिलाड़ियों में द्रोणाचार्य तथा अर्जुन अवार्डी कुश्ती खिलाडी जगमेंदर सिंह, अर्जुन अवार्डी दिव्या काकरान, मो. मुराद अली, लक्ष्मण अवार्डी गौरव बालियान, पैरालिंपिक खिलाड़ी राजीव मलिक, ज्योति बालियान, विजय तोमर, पूजा तोमर, अलंकार सैनी, पदमवीर सिंह, योगराज, एथलेटिक्स खिलाड़ी नवीन चौधरी, प्रियंका पंवार, विजयपाल, गजेंद्र राणा आदि का शाल ओढ़ाकर व प्रतीक चिह्न देकर केंद्रीय राज्यमंत्री डा. संजीव बालियान, राज्यमंत्री कपिलदेव अग्रवाल व सरधना विधायक संगीत सोम, नगरपालिका की चेयरपर्सन अंजू अग्रवाल, कालेज चेयरमैन एससी कुलश्रेष्ठ ने सम्मानित किया। इस दौरान डा. संजीव बालियान ने कहा कि उनका प्रयास रहा है कि सांसद खेल स्पर्धा के माध्यम से दूरदराज के गांव तक खेल सुविधाएं पहुंचाई जाएं। उन्होंने कहा कि हमारे प्रयास से जिला, प्रदेश और देश का नाम पूरे विश्व में रोशन करने वाले सितारे तैयार होंगे। इसके बाद जिला स्तरीय सांसद खेल स्पर्धा में पिछले 15 दिनों से ब्लाकों में चल रही प्रतियोगिता से चयनित होकर जनपदीय प्रतियोगिता में पहुंची टीमों ने मैदान में पसीना बहाया। मैदान में पहले दिन वालीबाल और कबड्डी के मुकाबले हुए। कबड़्डी में बरवाला ने भराला व रूहासा को हराया। सौरम ने ज्ञानामाजरा व कुंडा को हराया। रसूलपुर की टीम ने बिजोपुरा और लुहसाना को हराया। सेमीफाइनल में पहुंची टीमें आज फाइनल मुकाबले में भाग लेंगी। इसके बाद बालिकाओं की कबड्डी प्रतियोगिताएं हुई। इसमें सौरम व बिटावदा की टीम ने अन्य गांव की टीमों का पीछे छोड़ फाइनल में जगह बनाई। इसके अलावा वालीबाल प्रतियोगिताएं हुई। इसमें विभिन्न गांव की टीमों के बीच मुकाबले के बाद सोंटा व नंगला मुबारिक सेमीफाइनल के लिए जगह बनाई। वहीं 400 मीटर, 1600 मीटर में बालिकाओं की दौड़ प्रतियोगिता में बालिकाओं पसीना बहाया। इसके अलावा कुश्ती के मुकाबले हुए। इन प्रतियोगिताओं के फाइनल मुकाबले आज होंगे। इस दौरान जिलाध्यक्ष विजय शुक्ला, सीडीओ आलोक यादव व सिटी मजिस्ट्रेट अतुल श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे। आज खेल मंत्री करेंगे प्रतियोगिता का समापन

जिले में चल रही सांसद खेल स्पर्धा का आज समापन होगा। ब्लाकों से चुनकर जिले में पहुंचे खिलाड़ियों का आज फाइनल मुकाबला होगा। विजेता खिलाड़ियों को केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर व केंद्रीय राज्यमंत्री डा. संजीव बालियान सम्मानित करेंगे।

लड़कियां अपनी पहचान खुद बनाएं : दिव्या

जेएनएन, मुजफ्फरनगर। अर्जुन अवार्डी महिला पहलवान दिव्या काकरान ने कहा कि लड़कियों को आगे आकर अपनी पहचान बनानी चाहिए। जब वह एक छोटे से गांव पुरबालियान से परिश्रम के बूते अर्जुन अवार्ड प्राप्त कर सकती हैं तो बाकी लड़कियां क्यों नहीं? उन्होंने उभरती हुई नई खेल प्रतिभाओं को बेहतर करने के लिए प्रेरित किया।

श्रीराम कालेज में आयोजित सांसद खेल स्पर्धा में केंद्रीय राज्यमंत्री डा. संजीव बालियान ने देश को गौरवान्वित कराने वाली जिले के पुरबालियान गांव की बेटी दिव्या काकरान को सम्मानित किया। इस पर दिव्या ने कहा कि इस कार्यक्रम से खेल प्रतिभाओं को बढ़ावा मिल रहा है। गृह जिले में बड़ों से सम्मान पाकर बड़ी खुशी महसूस हो रही है। उम्मीद है कि इस तरह के खेल इवेंट होते रहेंगे। इससे लड़कियां खेलों में आगे आकर उसकी तरह अर्जुन अवार्ड समेत अन्य प्रतिष्ठित सम्मान पा सकती हैं। दिव्या ने कहा कि हार-जीत अपनी जगह है। खेलों में बालिकाओं को भाग जरूर लेना चाहिए। इससे आगे बढ़ने का हौसला मिलता है। लड़कियां जब परिश्रम करेंगी तो जीत निश्चित होगी। यदि खेल प्रतिभाओं को आगे लाना है तो उसके लिए खेलों को बढ़ावा देना होगा। यदि खेलों को इसी तरह बढ़ावा मिलता रहा तो नई खेल प्रतिभाओं को आगे आने से कोई नहीं रोक सकेगा। नामचीन खिलाड़ी ने कहा कि पूरी उम्मीद है कि देश के लिए बेटियां आगामी समय में ढेरों मेडल लाएंगी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.